बांध में नाव पलटने से चार की मौत, सेल्फी लेना बना मौत का कारण

डूबने वाले दोनों युवक दोस्त हैं और घूमने के लिए नेवाटा बांध आए थे। नेवाटा बांध में नाव को देखकर उसमें बैठ गए। नाव पानी के बीच पहुंची तो एक युवक सेल्फी लेने लगा। ऐसे में नाव का संतुलन बिगड़ गया और वह अनियंत्रित होकर पलट गई
बांध में नाव पलटने से चार की मौत, सेल्फी लेना बना मौत का कारण

नेवाटा बांध में नाव के पलटने से चार युवकों की मौत हो गई। नाविक और दूसरा तैर कर बाहर आ गया। फिर मदद के लिए चिल्लाने लगे। पुलिस और नागरिक सुरक्षा टीम ने डूबने वाले दो दोस्तों में से एक के शव को बाहर निकाला। दूसरे की तलाश की जा रही है। पानी के बीच सेल्फी लेने की कोशिश में नाव पलट गई। हादसा शनिवार की देर शाम जयपुर से 25 किलोमीटर दूर सेज थाना क्षेत्र में हुआ।

शाम करीब सात बजे सूचना मिली कि नेवाटा बांध में दो युवक डूब गए हैं। युवक के डूबने की जानकारी उसके साथ मौजूद नाविक और उसके साथी ने दी। पुलिस ने नागरिक सुरक्षा टीम को मौके पर बुलाया।

सेज थाना एसएचओ सतपाल सिंह

सेल्फी लेना बना मौत का कारण

डूबने वाले दोनों युवक दोस्त हैं और घूमने के लिए नेवाटा बांध आए थे। नेवाटा बांध में नाव को देखकर उसमें बैठ गए। नाव पानी के बीच पहुंची तो एक युवक सेल्फी लेने लगा। ऐसे में नाव का संतुलन बिगड़ गया और वह अनियंत्रित होकर पलट गई।

चिल्लाते हुए नाविक और स्थानीय युवक तैरते हुए निकले, जबकि साथ में मौजूद दोनों दोस्त तैरना न आने के कारण डूब गए। शोर मचाते हुए बांध से बाहर आए नाविक और उसके साथी ने डूबने वाले दो युवकों के बारे में बताया।

रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू
पुलिस ने सिविल डिफेंस टीम की मदद से बांध में रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। सिविल डिफेंस ने अंधेरा होने के कारण बचाव अभियान बंद कर दिया। रविवार सुबह फिर से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है। दोपहर 12 बजे एक युवक के शव को बांध से बाहर निकाला गया। मृतक सुरेश गुर्जर (26) नेवाटा निवासी है। उसके दोस्त की तलाश की जा रही है।

मछली पकड़ने के लिए नाव को पानी में उतारा

जांच में पता चला कि नाविक ने मछली पकड़ने के लिए नाव को पानी में उतारा था। उनके साथ एक युवक भी मौजूद था। बता दें कि इस बांध में बोटिंग नहीं होती है। नाव को अवैध रूप से उतारा गया था। नेवाटा बांध पर्यटन स्थल नहीं है। लोग बांध पर टहलने जाते हैं। बांध करीब 6 बीघा में बना है, जो करीब 25 फीट गहरा है। इसमें एक दलदल भी है।

सेल्फी लेते वक्त नाव पलट गई

नागरिक सुरक्षा के प्रशिक्षक महेंद्र कुमार सेवड़ा ने बताया कि रविवार सुबह छह बजे से फिर से बचाव अभियान चलाया जा रहा है। युवक का शव बाहर निकाल लिया गया है। दूसरे की तलाश है। स्थानीय लोगों से पता चला है कि दोनों दोस्त नाव में बैठकर डैम के बीच में गए थे। जहां सेल्फी लेते वक्त नाव पलट गई।

बांध में नाव पलटने से चार की मौत, सेल्फी लेना बना मौत का कारण
टाटा समूह के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री का सड़क हादसे में निधन
Since independence
hindi.sinceindependence.com