गहलोत सरकार की किसानों को बड़ी सौगातः 1 अप्रैल से बिना किसी ब्याज दर के 50 हजार तक कर्ज ले सकेंगे
कर्ज माफी के मुद्दे पर विपक्ष लगातार गहलोत सरकार को घेर रहा था लेकिन अब सरकार ने किसानों के लिए बड़ा फैसला लेते हुए विपक्ष को जवाब देने की कोशिश की है। राज्य सरकार के मंत्री उदयलाल अंजना का कहना है कि एक अप्रैल से किसानों को 20 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त ऋण वितरण शुरू किया जाएगा।तस्वीर- Jan satta

गहलोत सरकार की किसानों को बड़ी सौगातः 1 अप्रैल से बिना किसी ब्याज दर के 50 हजार तक कर्ज ले सकेंगे

कर्ज माफी के मुद्दे पर विपक्ष लगातार गहलोत सरकार को घेर रहा था लेकिन अब सरकार ने किसानों के लिए बड़ा फैसला लेते हुए विपक्ष को जवाब देने की कोशिश की है। राज्य सरकार के मंत्री उदयलाल अंजना का कहना है कि एक अप्रैल से किसानों को 20 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त ऋण वितरण शुरू किया जाएगा।

राजस्थान सरकार ने किसानों के लिए एक बड़ा फैसला लिया है। गहलोत सरकार ने राज्य के किसानों को शून्य ब्याज दर पर कर्ज देने का फैसला किया है। अब 1 अप्रैल से 5 लाख किसान बिना ब्याज दर के 50 हजार तक का कर्ज ले सकेंगे। इसके लिए आपको पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

सरकार के मंत्री उदयलाल अंजना का कहना है कि एक अप्रैल से किसानों को 20 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त ऋण वितरण शुरू किया जाएगा। राजस्थान के इतिहास में पहली बार सरकार ने ऋण वितरण का सबसे बड़ा लक्ष्य निर्धारित किया है।
सरकार के मंत्री उदयलाल अंजना का कहना है कि एक अप्रैल से किसानों को 20 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त ऋण वितरण शुरू किया जाएगा। राजस्थान के इतिहास में पहली बार सरकार ने ऋण वितरण का सबसे बड़ा लक्ष्य निर्धारित किया है।तस्वीर- Mukh patra

सरकार के मंत्री उदयलाल अंजना का कहना है कि एक अप्रैल से किसानों को 20 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त ऋण वितरण शुरू किया जाएगा। राजस्थान के इतिहास में पहली बार सरकार ने ऋण वितरण का सबसे बड़ा लक्ष्य निर्धारित किया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शून्य ब्याज फसल ऋण योजना के लिए अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं।

सरकार के पोर्टल पर कर सकते हैं आवेदन

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य के किसानों को बड़ा तोहफा दिया है। अब प्रदेश के किसानों को जीरो ब्याज दर पर कर्ज मिल सकेगा। कर्ज लेने के लिए किसानों को सरकार के पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसके बाद राज्य सरकार शून्य ब्याज दर पर एक लाख 50 हजार तक का कर्ज देगी।

बता दें कि कर्ज माफी के मुद्दे पर विपक्ष लगातार गहलोत सरकार को घेर रहा था लेकिन अब सरकार ने किसानों के लिए बड़ा फैसला लेते हुए विपक्ष को जवाब देने की कोशिश की है। किसानों को कृषि उपकरण, उर्वरक, कीटनाशक खरीदने के लिए पैसे की जरूरत की होती है। छोटे और सीमांत किसानों की खराब आर्थिक स्थिति के कारण उन्हें अक्सर कर्ज लेना पड़ता है लेकिन अब उन्हें सरकार के इस फैसले का फायदा मिल सकता है।

1 अप्रैल से होगी योजना लागू

अक्सर साहूकार किसानों को उच्च ब्याज पर ऋण देते हैं। इस समस्या से निजात पाने के लिए सरकार किसानों को बैंक से कर्ज देती है। इसी कड़ी में अब राजस्थान सरकार ने 1 अप्रैल से किसानों को शून्य ब्याज दर पर कर्ज देने का फैसला किया है।

अक्सर साहूकार किसानों को उच्च ब्याज पर ऋण देते हैं। इस समस्या से निजात पाने के लिए सरकार किसानों को बैंक से कर्ज देती है। इसी कड़ी में अब राजस्थान सरकार ने 1 अप्रैल से किसानों को शून्य ब्याज दर पर कर्ज देने का फैसला किया है।
अक्सर साहूकार किसानों को उच्च ब्याज पर ऋण देते हैं। इस समस्या से निजात पाने के लिए सरकार किसानों को बैंक से कर्ज देती है। इसी कड़ी में अब राजस्थान सरकार ने 1 अप्रैल से किसानों को शून्य ब्याज दर पर कर्ज देने का फैसला किया है।तस्वीर- krishi jagran

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक राज्य सरकार इस साल 5 लाख किसानों को करीब 20 हजार करोड़ रुपये का कर्ज देगी। राज्य सरकार के मंत्री उदयलाल अंजना का कहना है कि एक अप्रैल से किसानों को 20 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त ऋण वितरण शुरू किया जाएगा।

राजस्थान में पहली बार ऋण वितरण बड़ा लक्ष्य

बताया जा रहा है कि राजस्थान के इतिहास में पहली बार सरकार ने कर्ज वितरण का सबसे बड़ा लक्ष्य रखा है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शून्य ब्याज पर फसली ऋण योजना के लिए अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए है। जानकारी के अनुसार राजस्थान में अब तक 17 हजार 24 करोड़ रुपये के फसल ऋण का वितरण किया जा चुका है।

कृषि बजट के दौरान की थी घोषणा

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अलग से पेश कृषि बजट में घोषणा की थी कि सरकार वर्ष 2022-23 के दौरान 5 लाख किसानों को रिकॉर्ड 20,000 करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त कर्ज देगी। सीएम गहलोत ने कहा था कि सरकार किसानों को जीरो ब्याज दर पर कर्ज देने जा रही है।

कर्ज माफी के मुद्दे पर विपक्ष लगातार गहलोत सरकार को घेर रहा था लेकिन अब सरकार ने किसानों के लिए बड़ा फैसला लेते हुए विपक्ष को जवाब देने की कोशिश की है। राज्य सरकार के मंत्री उदयलाल अंजना का कहना है कि एक अप्रैल से किसानों को 20 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त ऋण वितरण शुरू किया जाएगा।
सरिस्का टाइगर रिजर्व में आग ने लिया विकराल रूप, संकट में बाघ, सेना के हेलिकॉप्टर बुझाएंगे

Related Stories

No stories found.