कार्तिक की सिक्स सेंस कमाल की: आंखो पर पट्टी बांध कर लेता है नोट की पहचान, नोट के सीरियल नंबर भी बताता है, बुक और अखबार पढ़ता है

कार्तिक की सिक्स सेंस कमाल की: आंखो पर पट्टी बांध कर लेता है नोट की पहचान, नोट के सीरियल नंबर भी बताता है, बुक और अखबार पढ़ता है

आंखों पर पट्टी बांधकर रंगों को भी पहचान सकता है मिड ब्रेन या आई ब्रेन ट्रिक में माहिर कार्तिक। फोटो सूंघकर बता देता है किसकी तस्वीर है। राजस्थान के नागौर में स्थित कुचामन सिटी के निवासी कार्तिक पारीक ने कड़ी मेहनत के बाद यह दिमागी हुनर सीखा है। कार्तिक बताते हैं कि पहले उन्होंने एक टीवी शो में उन्होंने इस कारनामे को करते हुए कई बच्चों को देखा था, तब से वह ट्रिक सीखने की प्रेक्टिस करने लगे।
कहते हैं दिमाग की छठी इंद्री यदि सक्रिय हो जाए तो आप वो कर सकते हैं जो सभी को हैरान करने वाला हो सकता है। यही कारण है कि दुनियाभर में चौकाने वाले उदाहरण हमें देखने और सुनने को मिलते है। बहरहाल ऐसा ही अचंभित करने वाला कारनामा 9वीं के छात्र कार्तिक पारीक करते हैं। कार्तिक आंखों पर पट्टी बांधकर किताब पर लिखी इबारत पढ़ लेते हैं। इससे भी ज्यादा वे किसी फोटो को सूंघकर एवं महसूस कर बता देता है कि फोटो लड़के की है या लड़की की। है ना हैरान करने वाली बात.... लेकिन ये सत्य है। असल में सब संभव है मिड ब्रेन या आई है ब्रेन ट्रिक के जरिए।
राजस्थान के नागौर में स्थित कुचामन सिटी के निवासी कार्तिक पारीक ने कड़ी मेहनत के बाद यह दिमागी हुनर सीखा है। कार्तिक बताते हैं कि पहले उन्होंने एक टीवी शो में उन्होंने इस कारनामे को करते हुए कई बच्चों को देखा था, तब से वह ट्रिक सीखने की प्रेक्टिस करने लगे। साथ ही इसके लिए कार्तिक ने कोर्स ज्वाइन किया। कोशिश और लगन लगन से उन्होंने ये मुकाम हासिल किया है। कार्तिक इस विधा में 7 चरणों की सफलता प्राप्त कर चुक हैं और अब अपने साथी बच्चों को अपना ये हनुर सिखा रहे हैं।

बिना देखे पैर या हाथ के नीचे दबे कागज पर लिखे शब्द पढ़ लेते हैं 13 साल के कार्तिक

क्या कोई आंख पर पट्टी बांध कर भी अखबार पढ़ सकता है, पैर के नीचे दबे कागज पर लिखे शब्दों को भी पढ़ सकता है? सामान्य जीवन में ऐसा कर पाना मुमकिन नहीं.. लेकिन कुचामन में 13 साल का कार्तिक पारीक यह सब कर रहे हैं। वह आंखों पर पट्टी बंधी होने के बाद भी बिना रुके अखबार पढ़ लेते हैं। मोबाइल से किसी को भी उसके नंबर पर वाट्सएप से मैसेज भेज सकतो हैं। वह हाथ के नीचे रखे नोट के नंबर भी बता सकते हैं। जरा गौर करिएगा ये सब वे आंखों पर पट्टी बांध कर करते हैं।

बिना देखे फोटो की आसानी से पहचान कर लेते हैं

अपनी इस खास पावर या कहें सिक्स सेंस के चलते वे लोगों के आकर्षण का केंद्र बन गए हैं। उनके शहर के लोग भी उनके इस हुनर से हैरान हैं। कार्तिक के हुनर के बारे में जो भी सुनता है वो एक बार उससे मिलने और सवाल करने उनके पास पहुंच जाता है। कार्तिक की आंखों पर पट्टी बांधकर जब कोई फोटो उन्हें दी जाती है तो वे उसे आसानी से पहचान लेते हैं।
हमारे संवददाता ने जब उन्हें आंखों पर पट्टी बांधे कार्तिक को अखबार दिया तो उसने बीच के एक पन्ने से बोल्ड हैड लाइन के साथ समाचार भी पढ़कर सुना दिया। लायंस क्लब के उपप्रान्तपाल द्वितीय एवं समाजसेवी श्यामसुंदर मंत्री ने कार्तिक पारीक की प्रतिभा पर उनका सम्मान किया है। रिपोर्टर विमल पारीक की खबर कुचामन सिटी से

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com