राजस्थान में राजनीतिक कलह, पायलट समर्थकों का गहलोत पर हल्ला बोल, राहुल की तारीफ के बाद बदला खेल

पायलट खेमे के विधायक इंद्रराज गुर्जर ने ट्वीट कर गहलोत खेमे पर पलटवार किया। ट्वीट में लिखा है कि जमीन पर बैठा आदमी कभी नहीं गिरता, उसे उनकी परवाह होती है जो हवा में होते हैं
राजस्थान में राजनीतिक कलह, पायलट समर्थकों का गहलोत पर हल्ला बोल, राहुल की तारीफ के बाद बदला खेल

राजस्थान कांग्रेस में एक बार पहले ही बुझी कलह की आग एक बार फिर सुलगने लगी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सचिन पायलट पर सियासी हमले के बाद गहलोत खेमे ने पायलट पर हमले की झड़ी लगा दी। पायलट चुप हैं लेकिन उनके खेमे के नेता मैदान में आ गए हैं। आचार्य प्रमोद कृष्णम ने ट्वीट भी किया और पायलट को जहरीला नीलकंठ बताया। कृष्णम ने अपने ट्वीट में लिखा कि नीलकंठ का अभिषेक श्रावण मास में किया जाता है। आचार्य प्रमोद कृष्णम के इस ट्वीट के बाद राजस्थान में सियासी पारा चढ़ गया है।

महेश जोशी पायलट का नाम लिए बिना हमला
पायलट खेमे के विधायक इंद्रराज गुर्जर ने ट्वीट कर गहलोत खेमे पर पलटवार किया। ट्वीट में लिखा है कि जमीन पर बैठा आदमी कभी नहीं गिरता, उसे उनकी परवाह होती है जो हवा में होते हैं। इसी बीच जयपुर में अग्निपथ योजना को लेकर विरोध प्रदर्शन के दौरान गहलोत के करीबी जलापूर्ति मंत्री महेश जोशी ने गजेंद्र सिंह शेखावत के बहाने पायलट का नाम लिए बिना हमला कर दिया। जोशी ने कहा कि शेखावत हो या कोई और...

संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने की तारिफ

इससे पहले शहरी विकास मंत्री शांति धारीवाल ने कहा गहलोत ने जो गलत कहा क्या गलत था, सरकार गिराने में दोनों यानी शेखावत-पायलट की मिलीभगत थी। दरअसल, राजस्थान में गहलोत-पायलट के बीच आग तब लगी जब राहुल गांधी ने चार दिन पहले दिल्ली में कांग्रेस कार्यालय में ईडी की पूछताछ से आने के बाद कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि उनमें धैर्य है। जैसे सचिन पायलट के पास है।

गहलोत का पायलट पर हमला
इस कार्यक्रम से जयपुर लौटने के बाद गहलोत ने पायलट पर हमला कर दिया। केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के बयान को पलटते हुए गहलोत ने पायलट पर निशाना साधा। गहलोत ने कहा कि शेखावत के बयान से साफ है कि दो साल पहले उनकी सरकार गिराने में सचिन पायलट की मिलीभगत थी।

गहलोत का पायलट पर हमला

इस कार्यक्रम से जयपुर लौटने के बाद गहलोत ने पायलट पर हमला कर दिया। केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के बयान को पलटते हुए गहलोत ने पायलट पर निशाना साधा। गहलोत ने कहा कि शेखावत के बयान से साफ है कि दो साल पहले उनकी सरकार गिराने में सचिन पायलट की मिलीभगत थी।

राजेंद्र राठौड़ का गहलोत पर तंज
2020 में गहलोत सरकार का संकट खत्म होने के बाद यह पहला मौका था, जब गहलोत ने सचिन पायलट का नाम लिया और सरकार गिराने की साजिश को लेकर सीधे उन पर निशाना साधा। इस बीच बीजेपी नेता राजेंद्र राठौड़ ने तंज कसते हुए कहा कि राहुल गांधी ने सचिन पायलट के धैर्य की तारीफ की थी। नीलकंठ से पायलट बने जहर उगलने पर सरकार के विनाश की संभावना प्रबल हो जाएगी।

बीजेपी प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने बयान जारी किया

राठौड़ ने कहा कि अगर गहलोत के पास सबूत हैं तो सरकार गिराने की साजिश में दर्ज तीन मामलों में उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जाती? बीजेपी प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने बयान जारी कर कहा कि गहलोत के बयान से साफ है कि पंजाब और गुजरात के बाद कांग्रेस में फूट पड़ गई है।

राजस्थान में राजनीतिक कलह, पायलट समर्थकों का गहलोत पर हल्ला बोल, राहुल की तारीफ के बाद बदला खेल
शिंदे गुट को कोर्ट से राहत, अयोग्यता नोटिस का जबाब देने के लिए मिले 14 दिन, खेमें ने बताई बॉम्बे कोर्ट में अर्जी ना करने की वजह

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com