Rajasthan: दुराचारी शिक्षकों की संपत्ति पर चलेगा बुल्डोजर, अधिकारी नहीं कर सकेंगे अप-डाउन: मदन दिलावर

Barmer News: शिक्षा मंत्री मदन दिलावर ने बाड़मेर में अधिकारियों की बैठक में शिक्षकों को लेकर कई निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि स्कूल समय में नमाज-पूजा-पाठ नहीं चलेगी।
Rajasthan: दुराचारी शिक्षकों की संपत्ति पर चलेगा बुल्डोजर, अधिकारी नहीं कर सकेंगे अप-डाउन: मदन दिलावर

Education Minister gave Instructions Regarding Teachers and Students: शिक्षा मंत्री मदन दिलावर लगातार एक्शन में दिख रहे हैं। अब बाड़मेर में मंत्री दिलावर ने ऐसा बयान दिया है जो शिक्षकों की परेशान बढ़ा सकती है। उन्होंने कहा कि स्कूल में तंबाकू खाने वाले शिक्षकों को गांव वाले कूट देंगे तो पुलिस उन पर कोई कार्रवाई नहीं कर पाएगी। वहीं, शिक्षा मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि पिछले पांच साल में जिन शिक्षकों पर दुष्कर्म और दुराचार के आरोप लगे हैं उनकी अवैध संपत्ति को चिह्नित कर उस पर बुलडोजर चलाया जाए।

मंत्री मदन दिलावर ने सोमवार को बाड़मेर जिला मुख्यालय पर आयोजित शिक्षा विभाग और पंचायती राज विभाग के अधिकारियों की बैठक में यह बात कही। उन्होंने कहा कि किसी भी शिक्षक को स्कूल टाइम में पूजा करने और नमाज पढ़ने नहीं जाएगा। मंत्री दिलावर ने बैठक में एसपी को निर्देश देते हुए कहा कि हमारे शिक्षक बहुत अच्छे हैं, लेकिन कुछ शिक्षकों ने शिक्षा विभाग को बदनाम कर रखा है। पांच साल में दुष्कर्म और दुराचार के आरोप में घिरे शिक्षकों की सूची बनाओ। इनकी अवैध संपत्तियों पर बुलडोजर चलाया जाए।

अवैध मदरसे बंद कराए जाएं

मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि मदरसों का औचक निरीक्षण किया जाए, जहां निमयों का पालन नहीं हो रहा है, वहां सख्ती बरती जाए। जो मदरसे अवैध पाए जाते हैं उन्हें तत्काल बंद कराया जाए। कोई भी शिक्षक स्कूल में नमाज और पूजा नहीं करेगा और न ही स्कूल समय में मंदिर-मस्जिद जाएगा। इसे लेकर आदेश भी जारी किया गया है। हम सभी धर्मों का सम्मान करते हैं, लेकिन बच्चों की शिक्षा के साथ खिलवाड़ नहीं होने देंगे।

बच्चों को यूनिफॉर्म में ही आना होगा स्कूल

साथ ही कहा कि शिक्षा विभाग के अधिकारी रोजाना अप-डाउन नहीं करेंगे, जो जहां पदस्थ है, वहीं रहकर नौकरी करे। सरकारी कार्यों को लेकर आना-जाना हो तो उसे रजिस्टर में दर्ज करें। सभी को बच्चों को सरकार द्वारा निर्धारित यूनिफॉर्म में ही स्कूल आना पड़ेगा। हमें किसी के पहनावे से दिक्कत नहीं है। सभी को नियम का पालन करना पड़ेगा।

प्रार्थना के बाद सूर्य नमस्कार कराएं

शिक्षा मंत्री ने कहा कि हर स्कूल में प्रार्थना के बाद सूर्य नमस्कार कराया जाए, इसमें बच्चों के साथ प्रिसिंपल, शिक्षक भी शामिल होंगे। स्कूल में कोई भी शिक्षक या स्टाफ तंबाकू, गुटखा और सिगरेट समेत नशे वाली सामग्री लेकर न आए। स्कूलों से 200 मीटर परिधि में नशीली सामग्री बेचना मना है, इसका सख्ती से पालन किया जाए। अगर, ऐसा किया तो हो सकता है कि कोई गांव वाला आपको कूट दे। ऐसे में पुलिस वाले भी कार्रवाई नहीं करेंगे, क्योंकि अपराधी तो आप खुद ही हैं।

Related Stories

No stories found.
logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com