Rajasthan: गहलोत सरकार के भ्रष्टाचार? चंबल रिवर फ्रंट के निर्माण की जांच कराएगी भजन सरकार

Kota River Front: राजस्थान की भजन लाल सरकार ने गहलोत सरकार में हुए कामों और योजनाओं में कथित घोटाले उजागर करना शुरू कर दिया है। अब चंबल रिवर फ्रंट के कामों की जांच होगी।
Rajasthan: गहलोत सरकार के भ्रष्टाचार? चंबल रिवर फ्रंट के निर्माण की जांच कराएगी भजन सरकार

Rajasthan Kota River Front: राजस्थान में भजन लाल की सरकार बनने के बाद से एक के बाद एक कांग्रेस सरकार की योजनाओं पर लगाम लगाया जा रहा है। जहां एक ओर चिरंजीवी योजना पर तलवार लटकी है तो वहीं, ओल्ड पेंशन स्कीम पर भी खतरा मंडरा रहा है। वहीं, अब एक और मामला सामने आ रहा है बताया जा रहा है कि बीजेपी सरकार चंबल रिवर फ्रंट के निर्माण की जांच कराएगी।

हालांकि, चंबल रिवर फ्रंट की जांच पहले ही NGT द्वारा किया जा रहा है। कोटा के पूर्व विधायक प्रहलाद गुंजल ने एनजीटी से शिकायत कर इसे ध्वस्त करने की मांग की थी। जबकि एनजीटी ने कमेटी बनाकर चंबल रिवर फ्रंट के निर्माण पर रिपोर्ट तैयार करने को कहा था। हालांकि, रिपोर्ट अब तक सामने नहीं आई है। लेकिन अब बीजेपी सरकार ने खुद जांच कराने की बात कही है।

रिवर फ्रंट के निर्माण में हुए सभी घोटालों की होगी जांच

राजस्थान की भजन लाल सरकार में यूडीएच मंत्री झाबर सिंह खर्रा ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि राजस्थान की अशोक गहलोत की पिछली सरकार के समय कोटा में हुए चंबल रिवर फ्रंट के निर्माण में हुए सभी घोटालों की विस्तृत जांच करायी जायेगी। किसी भी सूरत में घोटाले करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा चाहे वह कितना भी प्रभावशाली क्यों न हो। कैबिनेट मंत्री झाबर सिंह खर्रा ने कहा कि घोटाले हुए हैं तभी तो जांच की बात हो रही है।

नगर विकास मंत्रालय के सारे काम 31 से ऑनलाइन

स्वायत शासन मंत्री झाबर सिंह खर्रा ने कहा कि मैंने अधिकारियों से कह दिया है कि मेरे मंत्रालय के जितने भी काम हो 31 जनवरी के बाद ऑनलाइन होने चाहिए। इसके साथ ही ऑनलाइन में समय से उनका निस्तारण हो जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कार्यप्रणाली पूरी तरह से पारदर्शी और भ्रष्टाचार रहित होनी चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा कि विभागों में आपस मे सामंजस्य होना चाहिए। क्योंकि नगर परिषद सड़क बनाती है उसको कभी पीएचइडी तोड़ देती है और कभी बिजली विभाग खोद देती हैं। ऐसे में सभी विभागों में सामंजस्य होगा तो इनका रख रखाव अच्छा होगा।

Related Stories

No stories found.
logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com