Rajasthan: पेपर लीक मामले में डोटासरा के दोनों बेटे राडार पर, ED ने पूछताछ के लिए बुलाया

Rajasthan News: 26 अक्टूबर को राजस्थान कांग्रेस प्रमुख गोविंद सिंह डोटासरा के निवास पर ईडी ने छापेमार कर कुछ दस्तावेज जब्त किए थे। इसके बाद अब उनके दोनों बेटों को ईडी ने तबल किया है।
Rajasthan: पेपर लीक मामले में डोटासरा के दोनों बेटे राडार पर, ED ने पूछताछ के लिए बुलाया

Govind Singh Dotasara on ED Radar: प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने पेपर लीक मामले में कथित संलिप्तता के लिए राजस्थान कांग्रेस प्रमुख गोविंद सिंह डोटासरा के दो बेटों अभिलाष और अविनाश को तलब किया है।

परीक्षा पेपर लीक मामले में ईडी द्वारा राजस्थान पीसीसी प्रमुख गोविंद सिंह डोटासरा और एक अन्य विधायक ओमप्रकाश हुडला के घरों पर छापेमारी के एक हफ्ते बाद यह बात सामने आई है। इनके घरों में छापेमारी 26 अक्टूबर 2023 को की गई थी।

राजस्थान में सीकर की लक्ष्मणगढ़ सीट से कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार डोटासरा का मुकाबला बीजेपी के उम्मीदवार सुभाष महरिया से है। डोटासरा इस निर्वाचन क्षेत्र के विर्तमान विधायक हैं। इस बीच, राजस्थान के मंत्री और कांग्रेस के नेता प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि पूरी पार्टी डोटासरा के साथ खड़ी है।

तब यह दावा किया था डोटासरा ने

बता दें 26 अक्टूबर 2023 को हुई छापेमारी के बाद डोटासरा ने दावा किया था कि ईडी के अधिकारियों ने उनसे कोई पूछताछ नहीं की और न ही उनका बयान लिया। डोटासरा ने आगे कहा कि उन्होंने एक रुपया भी नहीं लिया या कोई अवैध दस्तावेज़ नहीं पाया। उन्होंने उनके और उनके बेटों के फोन, साथ ही एक पेन ड्राइव पर मौजूद ईमेल भी ले लिए।

उन्होंने दावा किया कि पेपर लीक मामले के सिलसिले में ईडी उनके घर की तलाशी लेने आई थी, लेकिन तलाशी वारंट मेरे बेटे अविनाश डोटासरा के नाम पर था, जो एक लेखा अधिकारी है। उनका दावा है कि डोटासरा के जयपुर और सीकर स्थित घरों के साथ-साथ उनके राजनीतिक कार्यालय के और उनके दोनों बेटों के अपार्टमेंट की भी तलाशी ली गई।

पेपर लीक मामले में हुई थी 55 गिरफ्तारियां

प्रवर्तन निदेशालय पिछले वर्ष दिसंबर में ग्रेड II शिक्षक प्रतियोगी परीक्षा प्रश्नपत्रों के लीक होने से संबंधित मनी लॉन्ड्रिंग के विभिन्न पहलुओं की जाँच कर रहा है। पेपर लीक मामले में कुल 55 लोगों को गिरफ्तार किया गया था, जिनमें 37 अभ्यर्थी भी शामिल थे। ईडी की जाँच के अनुसार, कम-से-कम 180 उम्मीदवारों को 8-10 लाख रुपए लेकर परीक्षा के प्रश्न पत्र बाँटे गए थे। इसमें भूपेन्द्र सरन को गिरफ्तार किया गया था।

logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com