Ramotsav: छोटी काशी रामोत्सव के जश्न को तैयार, कटआउट व पताकाओं से सजे बाजार

Ramotsav in Jaipur: सांसद रामचरण बोहरा ने शनिवार को रामचंद्र मंदिर में पूजा-अर्चना कर रामोत्सव का आगाज किया। रामोत्सव के लिए जयपुर को अयोध्या-सा सजाया जा रहा है।
Ramotsav: छोटी काशी रामोत्सव के जश्न को तैयार, कटआउट व पताकाओं से सजे बाजार

Sri Ram Mandir Pran Pratistha Ceremony: अयोध्या के श्रीराम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर छोटी काशी जयपुर में तैयारियां चरम पर हैं। शहरवासी प्रभु रामलला के प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव को रामोत्सव के रूप में मनाएंगे। 22 जनवरी को शहर में महादीपोत्सव का आयोजन होगा, जिसके तहत हर घर और मंदिरों में दीपक जलाए जाएंगे। बाजार भी दीयों की रोशनी से जगमगाएंगे। रामोत्सव के लिए जयपुर को अयोध्या की तर्ज पर सजाया जा रहा है। बाजारों में सजावट और रोशनी की जा रही है। जगह-जगह भगवा पताकाएं और रामभक्त हनुमान आदि के कटआउट लगाए गए हैं। मंदिरों धार्मिक आयोजन चल रहे हैं। व्यापार संगठनों, नगर निगम और प्रशासन ने विशेष तैयारियां की हैं।

जयपुर शहर सांसद रामचरण बोहरा ने शनिवार को चांदपोल बाजार स्थित रामचंद्र के मंदिर में पूजा-अर्चना कर रामोत्सव का आगाज किया। ये रामोत्सव 22 जनवरी 2024 तक चलेगा, जिसके तहत विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इस मौके पर सांसद बोहरा ने कहा कि 22 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में रामलाल के विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा भव्य मंदिर में होने जा रही है। इस दिन जयपुर में भी अयोध्या सा नजारा देखने को मिलेगा।

परकोटे में 5 लाख, रामनिवास बाग में जलेंगे 1 लाख 11 हजार दीये

ग्रेटर नगर निगम की ओर से रामोत्सव को लेकर विशेष तैयारियां की गई हैं। 22 जनवरी को बड़े पैमाने पर दीपदान करने की तैयारी चल रही है। निगम प्रशासन की ओर से ग्रेटर निगम क्षेत्र के धार्मिक स्थलों, मंदिरों और सरकारी भवनों पर 5 लाख दीपक जलाए जाएंगे। लोगों को घर-घर जाकर दीपदान करने के लिए भी जागरूक किया जा रहा है। वहीं रामनिवास बाग भी 1 लाख 11 हजार दीयों से रोशन होगा। शाम 4 बजे बाद भव्य आतिशबाजी होगी।

बाजारों में हो रही सजावट, लगे कटआउट

जयपुर के व्यापार मंडलों की ओर से सभी प्रमुख बाजारों में विशेष सजावट की जा रही है। जगह-जगह कटआउट लगाए जा रहे हैं और रोशनी के लिए झालरें और बल्बों की लड़ियां लगाई जा रही हैं। साथ ही झांकियां सजाई जा रही है। हैरिटेज निगम की ओर से सफाई कराई जा रही है और रोड लाइटें सुधारी जा रही हैं। 22 जनवरी को होने वाली आतिशबाजी को देखते हुए जयपुर कमिश्नरेट ने पटाखा व्यापारियों को अस्थायी लाइसेंस देने का निर्णय लिया है।

बन रही राम मंदिर की प्रतिकृति

रामनिवास बाग में 22 जनवरी को अयोध्या नगरी साकार होती नजर आएगी। यहां अयोध्या के जैसा श्रीराम मंदिर साकार होगा। रामनिवास बाग को अयोध्या की तर्ज पर सजाया जाएगा, यहां बनने वाले श्रीराम मंदिर के चार द्वार होंगे। इस काम के लिए विशेष रूप से बंगाल से करीब 150 कारीगर बुलाए जा रहे हैं। यहां अयोध्या की तरह रामद्वार, सीताद्वार, लक्ष्मण द्वार, हनुमान द्वार बनाए जा रहे हैं। 22 जनवरी को 300 ड्रोन एकसाथ आकाश में उड़ेंगे और हवा में राम मंदिर की प्रतिकृति बनाएंगे।

रामभजनों की होगी प्रतियोगिता

नगर निगम ग्रेटर की ओर से युवाओं और नई पीढ़ी के लोगों को रामोत्सव से जोड़ने और जयपुर को राममय बनाने के लिए रामभजनों की एक प्रतियोगिता भी करवाई जाएगी जहां राम भजनों को गाया जाएगा। साथ ही जयपुर में रंगोली की भी कई प्रतियोगिताएं निगम की ओर से रखी गई हैं।

रामनिवास बाग पर होगी महाआरती

22 जनवरी को रामनिवास बाग पर महाआऱती का आयोजन होगा। यहां 1 लाख 11 हजार दीयों जलाए जाएंगे और महाआरती पर शहरभर की भागीदारी रहेगी। इसके अलावा लाइट शो के जरिए आकाश में राम की अलग-अलग झांकियां दिखाई जाएंगी।

Related Stories

No stories found.
logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com