प्रेमी के साथ मिलकर पत्नी ने किया पति का कत्ल, 6 माह तक करती रही श्रृंगार, ऐसे खुला राज

Horror love triangle story: राजस्थान के भरतपुर जिले के चिकसाना थाना इलाके में पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति की हत्या कर उसे पत्थर बांधकर गंदे पानी की नहर में फेंक दिया। बाद में 6 माह तक निश्चिंत होकर श्रृंगार करके घूमती रही। प्रेमी के साथ आपत्तिजनक अवस्था में पकड़ने पर ससुर को हुआ था शक
प्रेमी के साथ मिलकर पत्नी ने किया पति का कत्ल, 6 माह तक करती रही श्रृंगार, ऐसे खुला राज

राजस्थान के भरतपुर जिले में 6 महीने पहले लापता हुए एक शख्स के बारे में पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है। लापता इस शख्स की हत्या उसकी पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर की थी। बाद में शव को बोरे में बांधकर नहर में फेंक दिया। लोगों को इस बात की जानकारी न हो इसके लिए पत्नी पति की हत्या के बाद 6 महीने तक मेकअप लगाकर घूमती रही। अब 6 महीने बाद जब इस मामले का खुलासा हुआ तो मृतक के परिजनों के पैरों तले से जमीन ही खिसक गई। पुलिस ने आरोपी पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है। यह मामला भरतपुर के चिकसाना थाना क्षेत्र का है।

चिकसाना थानाधिकारी विनोद कुमार ने बताया कि हत्या के शिकार पवन की शादी आरोपी रीमा से करीब सात साल पहले हुई थी। इस शादी में पांच साल बाद एक अहम मोड़ आया। पवन की पत्नी रीमा को 2 साल पहले उसके ही पड़ोस में रहने वाले भगेंद्र नाम के युवक से प्यार हो गया और दोनों चोरी छुपे मिलने लगे। इसी दौरान रीमा ने 29 मई 2022 को अपने प्रेमी भगेंद्र को फोन से कॉल किया। भागेंद्र अपने दोस्त के साथ रीमा से मिलने गांव पहुंचा।

पवन ने पत्नी को प्रेमी के साथ आपत्तिजनक हालत में देखा था

रात में भागेंद्र अपने साथी दीप को बाहर छोड़कर रीमा से मिलने घर के अंदर चला गया। उसी समय पवन की नींद खुल गई। जब पवन ने अपनी पत्नी रीमा और भगेंद्र को आपत्तिजनक स्थिति में देखा तो इसका विरोध किया। विरोध करने पर भगेंद्र और रीमा ने पवन का मुंह दबा दिया और फिर गला दबा कर उसकी हत्या कर दी। उसके बाद भगेंद्र ने अपने दोस्त दीप को घर के अंदर बुला लिया।

शव को पत्थर से बांधकर नहर में फेंका

उन्होंने पवन के शव को चादर में लपेट कर प्लास्टिक की रस्सी से बांध दिया। बाद में उसे बोरे में भरकर ले गए। घर से करीब 2 किलोमीटर दूर जाकर शव को पत्थर से बांधकर गंदे पानी की नहर में फेंक दिया। उसके बाद भगेंद्र उसी रात अपने दोस्त के साथ वापस दिल्ली चला गया। वहीं घटना को छिपाने के लिए पत्नी पूरा श्रृंगार करती थी। वह उसी बिस्तर पर खाना खाती थी, जहां पवन की मौत हुई थी।

4 जून को हुआ था गुमशुदगी का मामला दर्ज

इस पूरे मामले को लेकर 4 जून को पवन के पिता ने चिकसाना थाने में बेटे की गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया था। पुलिस पूरे मामले की पड़ताल करती रही लेकिन लिंक नहीं खुल सका। वहीं, घटना के बाद भगेंद्र और रीमा दोनों आपस में बात करते रहे। अक्टूबर के महीने में भगेंद्र फिर अपनी प्रेमिका रीमा से मिलने उसके घर पहुंचा। वहां रीमा और भगेंद्र को पवन के पिता ने आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ लिया। इस पर परिजनों ने दोनों पर पवन की हत्या का शक जताया।

आरोपी करते थे कोड वर्ड में बात

उसके बाद दोनों के खिलाफ चिकसाना थाने में हत्या का मामला दर्ज किया गया था। चिकसाना थाना पुलिस ने पूरे मामले की गहनता से जांच की। तफ्तीश में पूरी कहानी सामने आई तो पुलिस ने भगेंद्र और रीमा को गिरफ्तार कर लिया। पवन की बहन ने बताया कि भाई को मारने के बाद भी उसकी पत्नी रीमा अच्छे से गुजारा करती थी। ताकि घरवालों को किसी तरह का शक न हो। पवन के पिता ने बताया कि रीमा और उसका प्रेमी भागेंद्र कोड वर्ड के जरिए आपस में बात करते थे।

प्रेमी के साथ मिलकर पत्नी ने किया पति का कत्ल, 6 माह तक करती रही श्रृंगार, ऐसे खुला राज
Rajasthan: पुजारी दंपति को जिंदा जलाने का प्रयास, पुलिस से शिकायत करने पर नहीं हुई कोई सुनवाई
Since independence
hindi.sinceindependence.com