भारत के दबाव में झुका पाकिस्तान, खालिस्तान समर्थक करतापुर कॉरिडोर बातचीत से बाहर

गोपाल सिंह चावला पाकिस्तान में छिपकर बैठा भारत की शांति और अमन चैन का दुश्मन है,
भारत के दबाव में झुका पाकिस्तान, खालिस्तान समर्थक करतापुर कॉरिडोर बातचीत से बाहर

जयपुर (डेस्क न्यूज) – आखिरकार पाकिस्तान भारत के दबाव में झुक गया और गोपाल सिंह चावला नाम के अलगाववादी को करतारपुर कॉरिडोर की बातचीत से निकाल बाहर किया है,

भारत-पाकिस्तान के बीच करतारपुर कॉरिडोर को लेकर दूसरे राउंड की अहम बातचीत की शुरूआत में महज़ एक दिन बचा है. ऐसे में भारत का दबाव काम आया है, पाकिस्तान ने मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज़ सईद के करीबी और खालिस्तान समर्थक गोपाल सिंह चावला को करतारपुर कमेटी से हटा दिया है, उसे पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी से भी बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है,

भारत को उसके नाम पर भारी आपत्ति थी. भारतीय पक्ष ने कड़ी नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए 2 अप्रैल 2019 को बातचीत भी चावला की वजह से बंद कर दी थी, इसके बाद पाकिस्तानी पक्ष में अंदरूनी विचार-विमर्श का दौर चला और अंतत: अटारी-वाघा बॉर्डर पर रविवार को होनेवाली बातचीत से इस विवादित नाम को हटा कर पाकिस्तान ने बातचीत की राह आसान कर दी,

अब रविवार को नौ बजे बैठक शुरू होगी जो दोपहर एक बजे खत्म होगी. इसके बाद दोनों देश अलग-अलग प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे, भारत की ओर से गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव (आंतरिक सुरक्षा) एससीएल दास और विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव (पाकिस्तान, अफगानिस्तान और ईरान) दीपक मित्तल करेंगे, उधर पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व दक्षिण एशिया और सार्क महानिदेशक डॉ. मोहम्मद फैसल करेंगे,

करतारपुर कॉरिडोर के लिए दूसरे राउंड की बातचीत में अनुमति प्राप्त आंगतुकों की तादाद, यात्रा के लिए बुनियादी ढांचे, तीर्थ यात्रियों की रक्षा और सुरक्षा पर बात होनी है,

पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी  के पास पाकिस्तान में गुरुद्वारों की देखरेख का ज़िम्मा है, इसमें करतारपुर गुरुद्वारा और कॉरिडोर भी शामिल है, अब पाकिस्तान सरकार ने जो PSGPC  से संबंधित अधिसूचना जारी की है उसके हिसाब से पाकिस्तानी पंजाब से 4, उत्तरी खैबर पख्तूनख्वाह से 3, सिंध से 2 और बलूचिस्तान से एक सदस्य इसमें शामिल होंगे,

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com