दिल्ली : पुराने साथी ने केजरीवाल-सिसोदिया को लिया निशाने पर, लगाया 500 करोड़ की रिश्वतखोरी का बड़ा आरोप

दिल्ली सरकार नई शराब निति लागू करने को लेकर शुरू से ही विपक्ष ने निशाने पर थी और अब पुराने साथी ने भी केजरीवाल पर हमला बोल दिया हैं। जाने-माने कवि कुमार विश्वास ने ट्विट कर आम आदमी सरकार की नई नीति के लागू करने के पीछे शराब के ठेके बांटने में 500 करोड़ रुपए की रिश्वत खाने का बड़ा आरोप लगाया है।
दिल्ली : पुराने साथी ने केजरीवाल-सिसोदिया को लिया निशाने पर, लगाया 500 करोड़ की रिश्वतखोरी का बड़ा आरोप

दिल्ली : पुराने साथी ने केजरीवाल-सिसोदिया को लिया निशाने पर, लगाया 500 करोड़ की रिश्वतखोरी का बड़ा आरोप

अरविंद केजरीवाल

डेस्क न्यूज़ - अरविंद केजरीवाल की सरकार की तरफ से लागू नई शराब पॉलिसी विवाद में घिर गई है। राष्ट्रीय राजधानी के सीएम और आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया पर अन्ना आंदोलन के ज़माने के पुराने साथी कवि कुमार विश्वास ने बड़ा संगीन आरोप लगाया हैं। कुमार ने केजरीवाल और सिसोदिया पर 500 करोड़ की रिश्वतखोरी का आरोप लगाया हैं। दरअसल, दिल्ली सरकार नई शराब निति लागू करने को लेकर शुरू से ही विपक्ष ने निशाने पर थी और अब पुराने साथी ने भी केजरीवाल पर हमला बोल दिया हैं। जाने-माने कवि कुमार विश्वास ने ट्विट कर आम आदमी सरकार की नई नीति के लागू करने के पीछे शराब के ठेके बांटने में 500 करोड़ रुपए की रिश्वत खाने का बड़ा आरोप लगाया है।

एक नज़र कवि कुमार के ट्वीट पर
कुमार विश्वास ने सोमवार को सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिखकर नई शराब नीति से जुड़ी एक खबर को रीट्वीट किया। इस पोस्ट में उन्होंने आजतक न्यूज़ चैनल की खबर को रीट्वीट करते हुए लिखा कि, "पीनेवालों की उम्र 21 से 18 करने और 1000 नए ठेके खुलवाने की पालिसी लागू करने की सिफ़ारिश लेकर 2016 में दिल्ली शराब माफिया,दारू जमाख़ोर विधायक के साथ मेरे पास आया था।मैंने दुत्कार कर भगाया था और दोनों नेताओं को चेताया था। अब छोटेवाले के साले ने 500 करोड़ की डील में मामला सैट कर लिया"। कुमार विश्वास के इस ट्वीट से साफ़ ज़ाहिर है कि इसमें उन्होंने 'दोनों नेताओं' के जरिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और डिप्टी CM मनीष सिसोदिया की और इशारा किया है और ‘छोटे वाले’ के बहाने विश्वास ने सिसोदिया की ओर ही इशारा कर हमला बोला है।

क्या हैं केजरीवाल की नई शराब पॉलिसी में

नई शराब नीति में दिल्ली सरकार ने सरकारी ठेकों की जगह निजी शराब की दुकानों को बढ़ावा दिया है। इस नीति के तहत दिल्ली में 849 शराब की दुकानें खोली गई हैं। नई नीति के तहत हर वार्ड में 3 शराब की दुकानें खोलने का लाइसेंस दिया गया है। साथ ही शराब पीने की उम्र भी 21 साल से घटाकर 18 साल कर दी गई है। दिल्ली में विपक्षी पार्टी बीजेपी भी इस नई पॉलिसी का कड़ा विरोध कर रही हैं। नए साल के पहले ही दिन बीजेपी ने इस नीति के खिलाफ बड़ा प्रदर्शन किया था। साथ ही भाजपाइयों ने केजरीवाल सरकार पर दो हज़ार करोड़ रूपए की रिश्वत लेने का भी आरोप लगाया था। यह तर्क भी दिए गए कि एक तरफ केजरीवाल पंजाब जाकर शराबबंदी के वादे कर रहे हैं, वहीं इसके विपरीत दिल्ली में शराबबंदी को बढ़ावा दे रहे हैं।

AAP पार्टी के संस्थापक सदस्य थे कुमार विश्वास

कुमार विश्वास पहले अरविंद केजरीवाल के साथ थे। कुमार विश्वास, केजरीवाल के साथ, 2011 में दिल्ली के रामलीला मैदान में अन्ना हजारे के आंदोलन के आयोजन के पीछे मुख्य सूत्रधार थे। बाद में वह आम आदमी पार्टी (आप) के संस्थापक सदस्य भी बने। हालांकि दिल्ली में आप सरकार के दूसरी बार सत्ता में आने के बाद उन्होंने वैचारिक मतभेदों के चलते केजरीवाल का साथ छोड़ दिया था।

Like Follow us on :- Twitter | Facebook | Instagram | YouTube

<div class="paragraphs"><p>दिल्ली : पुराने साथी ने केजरीवाल-सिसोदिया को लिया निशाने पर, लगाया 500 करोड़ की रिश्वतखोरी का बड़ा आरोप</p></div>
Delhi: आठ रुपये सस्ता हुआ पेट्रोल, केजरीवाल सरकार ने घटाया वैट

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com