DO YOU KNOW : यहां लोग खेलते हैं मानव खोपड़ी से फुटबॉल

पश्चिमी अफ्रीका की वोदाब्बे जनजाति में शादी की रसम बहुत ही हैरान करने वाली है, यहां पर एक दूसरे की बीबी को चुरा कर शादी करने की अजीब परंपरा
DO YOU KNOW : यहां लोग खेलते हैं मानव खोपड़ी से फुटबॉल

डेस्क न्यूज. विश्व भर में कई ऐसी जनजाति है जो अपनी पुरानी परंपराओं के लिए जानी जाती है आज भी वह अपने पुराने रीति रिवाज के साथ रहते हैं, इनके कबीले के अपने नियम कायदे कानून हैं,  यह सरकार के नियमों को नहीं मानते हैं, आज हम आपको ऐसे ही कुछ समुदाय के बारे में बताएंगे, जो अपनी कुछ अजीब परंपरा रीति रिवाज के लिए जाने जाते हैं,

अफ्रीका में मातमी समुदाय

पश्चिमी अमेरिका में मातमी जनजाति के लोग रहते हैं, यह जनजाति अपने समुदाय में व्यक्ति की मौत के बाद उसकी खोपड़ी से फुटबॉल खेलते हैं,

दूसरे की पत्नी को चुरा कर शादी करने की परंपरा

पश्चिमी अफ्रीका की वोदाब्बे जनजाति में शादी की रसम बहुत ही हैरान करने वाली है, यहां पर एक दूसरे की बीबी को चुरा कर शादी करने की अजीब परंपरा है, इस जनजाति के द्वारा हर साल गेरेवोल फेस्टिवल का आयोजन किया जाता है, आयोजन के दौरान लड़के अपने चेहरे को रंगों से रंग लेते हैं और दूसरे की पत्नियों को रिझाने का प्रयास करते हैं इस दौरान यह भी ख्याल रखा जाता है कि उसके पति को इस बात की जानकारी ना हो, महिला के मान जाने पर दोनों वहां से भाग जाते हैं और समुदाय के लोग फिर उनकी शादी करवा देते हैं समुदाय में इस तरह से शादी को लव मैरिज का नाम देकर अपनाया जाता है

मुर्सी जनजाति : लिप-प्लेट बॉडी मॉडिफिकेशन के कारण यहां की महिलाएं दुनियाभर में आकर्षण का केंद्र

यह जनजाति अपनी परंपरा को भी लेकर चर्चा में बनी रहती है। लोगों की बुरी नजर से बचने के लिए बॉडी मॉडिफिकेशन प्रक्रिया के तहत इस जनजाति की महिलाओं के निचले होंठ में लकड़ी या मिट्टी की डिस्क पहनाई जाती है, 15-16 साल की उम्र में कबीले की लड़कियों को यह डिस्क पहनाई जाती है। लिप-प्लेट के नाम से चर्चित इस बॉडी मॉडिफिकेशन के कारण यहां की महिलाएं दुनियाभर के पर्यटकों की नजर में आकर्षण का केंद्र बन चुकी हैं। अफ्रीका में अब मुर्सी, छाई और तिरमा जनजाति ही ऐसी हैं, जिसमें इस प्रथा का चलन अब भी जारी है।

Like and Follow us on :

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com