पंजाब: कल अमित शाह से मुलाकात करेंगे कैप्टन, कृषि कानूनों पर होगी चर्चा, पार्टी बनाने के सवाल दिया ये जवाब

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कल (गुरुवार) को दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करेंगे। 20 से 25 नेता उनके साथ रहेंगे और केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में पारित तीन कृषि कानूनों पर चर्चा करेंगे। पार्टी बनाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि समय आने पर हम सभी 117 सीटों पर लड़ेंगे, चाहे वह एडजस्टमेंट सीट हो या हम अपने दम पर चुनाव लड़ें।
पंजाब: कल अमित शाह से मुलाकात करेंगे कैप्टन, कृषि कानूनों पर होगी चर्चा, पार्टी बनाने के सवाल दिया ये जवाब

डेस्क न्यूज़- पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कल (गुरुवार) को दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करेंगे। 20 से 25 नेता उनके साथ रहेंगे और केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में पारित तीन कृषि कानूनों पर चर्चा करेंगे। इस बात की जानकारी खुद कैप्टन ने आज चंडीगढ़ में दी है। पार्टी बनाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि समय आने पर हम सभी 117 सीटों पर लड़ेंगे, चाहे वह एडजस्टमेंट सीट हो या हम अपने दम पर चुनाव लड़ें।

नई पार्टी को लेकर क्या कहा?

कैप्टन के सीएम पद से इस्तीफे के बाद से उनकी नई पार्टी को लेकर लगातार अटकलें लगाई जा रही हैं। आज चंडीगढ़ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने इसके नाम और चिन्ह के बारे में पूछे गए सवाल का जवाब दिया। कैप्टन ने कहा, 'हां, मैं नई पार्टी बनाउंगा। चुनाव चिन्ह के साथ नाम की घोषणा चुनाव आयोग की मंजूरी के बाद की जाएगी। मेरे वकील इस पर काम कर रहे हैं।'

इससे पहले उन्होंने अपने 4.5 साल के कार्यकाल का लेखा-जोखा भी पेश किया। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कैप्टन अपना घोषणा पत्र भी लेकर आए थे, जिसका वादा उन्होंने पंजाब की जनता से किया था। उन्होंने कहा कि उन्होंने ज्यादातर वादों को पूरा किया। इस दौरान कैप्टन ने अपने विरोधियों पर भी जमकर निशाना साधा।

विरोधियों पर साधा निशाना

कैप्टन ने कहा कि "वे सुरक्षा उपायों के बारे में मेरा मज़ाक उड़ाते हैं। मेरा मूल प्रशिक्षण एक सैनिक का है। मैं अपने प्रशिक्षण की अवधि से लेकर सेना छोड़ने तक 10 वर्षों तक सेना में था। इसलिए मुझे मूल बातें पता हैं।" कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा, "दूसरी तरफ मैं पंजाब का गृह मंत्री 9.5 साल तक रहा। ऐसा लग रहा है जैसे 'जो 1 महीने तक गृह मंत्री रहा, वह मुझसे ज्यादा जानता है।' कोई भी परेशान पंजाब नहीं चाहता। हमें समझना चाहिए कि हम पंजाब में बेहद मुश्किल दौर से गुजर रहे है।

अरुसा आलम को बनाया जा रहा चुनावी मुद्दा

अरूसा आलम को लेकर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि वह 16 साल से उचित वीजा लेकर भारत आ रही हैं। इतने सालों में किसी ने नहीं पूछा। चुनाव आने पर अब यह सवाल क्यों पूछा जा रहा है? चुनाव को देखते हुए इसे मुद्दा बनाया जा रहा है। कैप्टन ने कहा कि मौजूदा डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा मेरी सरकार में मंत्री थे और अरुसा तब भी यहां आए थे। फिर उसे यह बात याद क्यों नहीं आई। अरूसा आलम द्वारा पंजाब से पैसे लेने के सवाल पर अमरिंदर ने कहा कि विरोधी बताए कि वह पैसा कहां ट्रांसफर हुआ। इसके बारे में इनकम टैक्स और ईडी को बताएं।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com