शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिज़वी के खिलाफ मौलाना काल्बे जवाद ने दर्ज कराया मामला

लखनऊ: शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं | विवादित बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहने वाले वसीम रिजवी के खिलाफ लोगों का गुस्सा बढ़ता ही जा रहा है |
शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिज़वी के खिलाफ मौलाना काल्बे जवाद ने दर्ज कराया मामला

लखनऊ: शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं | विवादित बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहने वाले वसीम रिजवी के खिलाफ लोगों का गुस्सा बढ़ता ही जा रहा है | वहीं, रिजवी के प्रकाशन और पैगंबर-ए-इस्लाम हजरत मोहम्मद साहब के खिलाफ विवादित किताब के विमोचन के बाद से देश भर में रिजवी के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं।

शिया धर्मगुरु ने कराया मामला दर्ज

वरिष्ठ शिया मौलवी और इमाम जुमा मौलाना कल्बे जवाद नकवी की शिकायत पर लखनऊ पुलिस ने वसीम रिजवी के खिलाफ भी गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया है. ईटीवी भारत से बात करते हुए मौलाना कल्बे जवाद ने वसीम रिजवी द्वारा लिखी गई विवादित किताब पर कड़ी आपत्ति जताई और सरकार से वसीम रिजवी को जल्द गिरफ्तार करने की भी मांग की।

चौक थाना में दर्ज हुआ मामला

लखनऊ के थाना चौक में वरिष्ठ धर्मगुरु मौलाना कल्बे जवाद समेत एक दर्जन मौलाना थाने पहुंचे और रिजवी के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज कराई। जिस पर पुलिस ने अब वसीम रिजवी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। बता दें कि वसीम रिजवी ने हाल ही में पैगंबर मोहम्मद पर एक विवादित किताब लिखी थी और गाजियाबाद के डासना मंदिर पहुंचकर उसका विमोचन किया था।

डासना धाम के महामंडलेश्वर नरसिम्हा नन्द सरस्वती के किताब के विमोचन में शामिल हो आये थे सुर्ख़ियों में

भड़काऊ बयान देकर सुर्खियों में आए महंत यति नरसिम्हा नंद सरस्वती की किताब का विमोचन वसीम रिजवी ने किया था। वसीम रिजवी ने बीते दिनों एक बड़ा ऐलान करते हुए उनकी मौत के बाद हिन्दू रीति रिवाज से शव को जलाने की इच्छा भी जाहिर की थी। रिजवी का कहना है कि उनकी अंतिम संस्कार की चिता चीफ फायर यति नरसिम्हा नंदा सरस्वती के हाथों दी जानी चाहिए।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com