राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर का दावा 40 साल तक केंद्र में रहेगी BJP सरकार,गोवा दौरे के दौरान कही यह बात

जिस तरह कांग्रेस पहले 40 साल तक भारतीय राजनीति के केंद्र में थी, उसी तरह बीजेपी भी राजनीति के केंद्र में रहेगी, चाहे वह जीतें या हारें, बीजेपी कहीं नहीं जा रही है, राष्ट्रीय स्तर पर एक बार 30% वोट मिलने के बाद, राजनीतिक तस्वीर से इतनी जल्दी नहीं हटते
राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर का  दावा 40 साल तक केंद्र में रहेगी BJP सरकार,गोवा दौरे के दौरान कही यह बात

डेस्क न्यूज़- राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर का मानना ​​है कि भारतीय जनता पार्टी आने वाले दशकों तक भारतीय राजनीति में एक बड़ी ताकत बनी रहेगी, प्रशांत किशोर ने अपने गोवा दौरे के दौरान यह बात कही है।

प्रशांत किशोर ने कहा, 'जिस तरह कांग्रेस पहले 40 साल तक भारतीय राजनीति के केंद्र में थी, उसी तरह बीजेपी भी राजनीति के केंद्र में रहेगी, चाहे वह जीतें या हारें, बीजेपी कहीं नहीं जा रही है, राष्ट्रीय स्तर पर एक बार 30% वोट मिलने के बाद, राजनीतिक तस्वीर से इतनी जल्दी नहीं हटते।

इस झांसे में न आएं कि लोग मोदी से नाराज हैं।

गोवा म्यूजियम में हुई बातचीत में प्रशांत किशोर ने कहा, 'कभी भी इस जाल में न पड़ें कि लोग नाराज हो रहे हैं और मोदी को बाहर निकाल देंगे. शायद वे मोदी को बाहर कर देंगे, लेकिन बीजेपी कहीं नहीं जा रही है, आपको अगले कई दशकों तक बीजेपी से लड़ना होगा।

असमंजस में हैं राहुल गांधी

प्रशांत किशोर ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बारे में कहा कि उन्हें शायद यह भ्रम है कि मोदी के सत्ता में रहने तक ही भाजपा मजबूत है, किशोर ने कहा, 'राहुल गांधी के साथ भी यही समस्या है, शायद उन्हें लगता है कि यह बस समय की बात है जब लोग उन्हें (नरेंद्र मोदी) सत्ता से बाहर कर देंगे।

मोदी की ताकत को हराने के लिए समझना होगा

प्रशांत किशोर ने कहा, 'जब तक आप उनकी (मोदी की) ताकत को नहीं समझेंगे, आप उन्हें हरा नहीं पाएंगे, मुझे जो समस्या दिख रही है, वह यह है कि ज्यादातर लोग अपनी ताकत को समझने में अपना समय नहीं लगा रहे हैं, यह समझना होगा कि उनकी लोकप्रियता का कारण क्या है, अगर आप इसे समझ लेते हैं तो ही आप उन्हें हराने के लिए काउंटर ढूंढ सकते हैं।

कांग्रेस बीजेपी के भविष्य को कैसे देखती है?

कांग्रेस पार्टी नरेंद्र मोदी और बीजेपी के भविष्य को कैसे देखती है, इस पर किशोर ने कहा, 'आप किसी भी कांग्रेस नेता या किसी क्षेत्रीय नेता से जाकर बात करें, वे कहेंगे, 'बस समय की बात है, लोग तंग आ चुके हैं, सत्ता विरोधी लहर होगी और लोग उन्हें बाहर निकाल देंगे, मुझे नहीं लगता कि ऐसा होने जा रहा है।

देश में बंटा हुआ मतदाता आधार एक बड़ी समस्या

देश में विभाजित मतदाता आधार की ओर इशारा करते हुए प्रशांत किशोर ने कहा, मतदाता आधार पर नजर डालें तो यह एक-तिहाई और दो-तिहाई के बीच की लड़ाई है, सिर्फ एक तिहाई लोग बीजेपी को वोट दे रहे हैं या बीजेपी को सपोर्ट करना चाहते हैं, समस्या यह है कि दो-तिहाई मतदाता 10, 12 या 15 राजनीतिक दलों में बंटे हुए हैं, इसका कारण कांग्रेस की कमजोरी है।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com