PK के बाद दीदी ने भी कांग्रेस को घेरा, ममता ने कहा आपकी वजह से मोदी हो रहे और मजबूत

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को गोवा में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अधिक शक्तिशाली बनेंगे क्योंकि कांग्रेस पार्टी राजनीति को लेकर गंभीर नहीं है। इसके अलावा उन्होंने देश की सबसे पुरानी पार्टी पर फैसला न लेने का आरोप लगाया। उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली की 'दादागिरी' काफी है।
PK के बाद दीदी ने भी कांग्रेस को घेरा, ममता ने कहा आपकी वजह से मोदी हो रहे और मजबूत
Photo | ANI

डेस्क न्यूज- तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को गोवा में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अधिक शक्तिशाली बनेंगे क्योंकि कांग्रेस पार्टी राजनीति को लेकर गंभीर नहीं है। इसके अलावा उन्होंने देश की सबसे पुरानी पार्टी पर फैसला न लेने का आरोप लगाया। उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली की 'दादागिरी' काफी है। तटीय राज्य पणजी की अपनी तीन दिवसीय यात्रा के अंतिम दिन मीडिया से बाद करते हुए ममता बनर्जी ने यह भी कहा कि देश पीड़ित है क्योंकि कांग्रेस निर्णय नहीं ले सकती है। आपको बता दें कि गोवा में अगले साल विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं।

कांग्रेस राजनीति को लेकर गंभीर नही

मीडिया से बात करते हुए ममता ने कहा, "मैं अभी सब कुछ नहीं कह सकती क्योंकि उन्होंने (कांग्रेस) राजनीति को गंभीरता से नहीं लिया। मोदी कांग्रेस के कारण और अधिक शक्तिशाली होने जा रहे हैं। अगर कोई निर्णय नहीं ले सकता है, तो देश को इसका खामियाजा क्यों भुगतना पड़ता है" सीएम ममता ने कहा, "उन्हें (कांग्रेस को) मौका मिला। उन्होंने बीजेपी के खिलाफ लड़ने के बजाय मेरे राज्य में मेरे खिलाफ चुनाव लड़ा।"

टीएमसी गोवा में चुनाव लड़ेगी

ममता ने यह भी कहा कि टीएमसी चुनाव में क्षेत्रीय दलों के लिए सीटों के बंटवारे में विश्वास करती है। आपको बता दें कि टीएमसी ने घोषणा की है कि वह आगामी गोवा चुनाव में सभी 40 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। उन्होंने कहा, "मैं चाहती हूं कि क्षेत्रीय दल मजबूत हों। हम चाहते हैं कि संघीय ढांचा मजबूत हो। हमें राज्यों को मजबूत बनाना चाहिए, अगर राज्य मजबूत हैं, तो केंद्र मजबूत होगा। हम दिल्ली की दादागिरी नहीं चाहते हैं।"

कांग्रेस फैसला खुद करे

यह पूछे जाने पर कि कांग्रेस को क्या निर्णय लेना चाहिए, उन्होंने कहा, "मैं कांग्रेस के बारे में चर्चा नहीं करने जा रही हूं क्योंकि यह मेरी पार्टी नहीं है। मैंने अपनी क्षेत्रीय पार्टी बनाई है और बिना किसी समर्थन के। हमने तीन बार सरकार बनाई है।" "उन्हें फैसला करने दें। यही मेरा सिस्टम भी है, मैं किसी और राजनीतिक दल के काम में दखल नहीं देता। मैं अपने राजनीतिक दल के बारे में कह सकती हूं और हमारी लड़ाई जारी रहेगी। हम भाजपा के आगे सिर नहीं झुकाएंगे।"

Related Stories

No stories found.