पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने गहलोत सरकार को लिया आड़े हाथ : करौली में कांग्रेस ने लगाई आग,तुष्टिकरण की राजनीति के कारण जला करौली
हाल ही में राज्यों के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने हिंदुत्व के नाम पर चुनाव लड़ा इस आइडियोलॉजी पर सोशल मीडिया पर भी लोगो ने काफी अपनी प्रतिक्रिया दी और अब राजस्थान विधानसभा चुनाव में भी इसका रंग दिखाई दे रहा है।

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने गहलोत सरकार को लिया आड़े हाथ : करौली में कांग्रेस ने लगाई आग,तुष्टिकरण की राजनीति के कारण जला करौली

सच तो यह है कि यह आग करौली में कांग्रेस ने लगवाई है। पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का तो एक ही लक्ष्य है, सबका साथ-सबका विकास।

राजस्थान की राजनीती में हर तरह के वॉर किए जा रहे है। अब वो हिंदुत्व को लेकर हो या भगवा रंग को लेकर राजनीती नेताओ के इन मुद्दों के इर्द -गिर्द घुमती रहती है। गौरतलब है की बीजेपी राजस्थान में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर काफी सक्रिय नजर आ रही है। राजस्थान विधानसभा चुनाव में यदि हम बड़े अहम मुद्दों की बात करे और विचारधारा यहाँ क्या हो सकती है किन विषय पर विधानसभा चुनाव पार्टी लड़ेंगी ? यह अहम रहेगा,हाल ही में राज्यों के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने हिंदुत्व के नाम पर चुनाव लड़ा इस आइडियोलॉजी पर सोशल मीडिया पर भी लोगो ने काफी अपनी प्रतिक्रिया दी और अब राजस्थान विधानसभा चुनाव में भी इसका रंग दिखाई दे रहा है।

राजस्थान में करौली दंगे को लेकर Ex. CM वसुंधरा राजे ने गहलोत सरकार पर हमला (तंज) किया है। वसुंधरा राजे ने मंगलवार को दंगा पीड़ितों से मिलने के बाद कहा- प्रशासनिक आदेशों के माध्यम से गहलोत सरकार हिंदू त्योहारों पर पाबंदी लगा रही है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मुख्यमंत्री कहते हैं कि भाजपा के शीर्ष नेता आग लगाने का काम करते हैं। सरकार आपकी, पुलिस आपकी और प्रशासन आपका तो फिर दोष भाजपा पर क्यों ? सच तो यह है कि यह आग करौली में कांग्रेस ने लगवाई है। पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का तो एक ही लक्ष्य है, सबका साथ-सबका विकास।

"आगामी राजस्थान विधानसभा चुनाव में आप पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के इस दिए गए बयान को आप किस नजरिये से देखते है ? कमेंट करके बताए"

इस सरकार का यह कैसा न्याय है? यदि शोभा यात्रा से पहले ही प्रशासन सतर्कता बरतता तो यह घटना टल सकती थी। करौली से कई लोग पलायन कर गए हैं। कई लोग दहशत में जी रहे हैं
इस सरकार का यह कैसा न्याय है? यदि शोभा यात्रा से पहले ही प्रशासन सतर्कता बरतता तो यह घटना टल सकती थी। करौली से कई लोग पलायन कर गए हैं। कई लोग दहशत में जी रहे हैं

राजे ने कहा- मुख्यमंत्री जी कहते हैं कि भाजपा धर्म की राजनीति करती है, जबकि भाजपा कर्म की राजनीति करती है। करौली कांग्रेस की तुष्टिकरण नीति के कारण ही जला। नववर्ष पर निकाली जा रही शोभायात्रा पर षड्यंत्र पूर्वक पथराव किया गया। जिन्होंने प्राण घातक हमला किया उन पर भी वही धाराएं और जो घायल हुए उन पर भी वही धाराएं लगाई गईं। इस सरकार का यह कैसा न्याय है? यदि शोभा यात्रा से पहले ही प्रशासन सतर्कता बरतता तो यह घटना टल सकती थी। करौली से कई लोग पलायन कर गए हैं। कई लोग दहशत में जी रहे हैं।

आज भगवा से परहेज तो क्या कल कांग्रेस भगवान से भी परहेज करेगी?

राजे ने कहा- यह सरकार पूरी तरह से तुष्टिकरण की नीति पर काम कर रही है। रमजान पर निर्बाध रूप से बिजली देने के आदेश, छोटीसादड़ी के केसुंदा गांव में भाजपा का झंडा लगाने के कारण एक कार्यकर्ता की हत्या इसकी बानगी है। इसी तरह भीलवाड़ा में परशुराम सर्किल पर से भगवा झंडा हटवाया गया। बाद में जब भाजपा कार्यकर्ताओं ने विरोध किया तो प्रशासन को भगवा झंडा वापस लगवाना पड़ा। भगवा किसी पार्टी का रंग नहीं है, यह भगवान का रंग है। आज भगवा से परहेज तो क्या कल कांग्रेस भगवान से भी परहेज करेगी?

ट्विटर वॉर - खुद की गलतियां भाजपा पर डालना गहलोत की उपलब्धि
ट्विटर वॉर - खुद की गलतियां भाजपा पर डालना गहलोत की उपलब्धि

खुद की गलतियां भाजपा पर डालना गहलोत की उपलब्धि

राजे ने कहा- कई बार मीडिया पूछता है कि मुख्यमंत्री गहलोत जी की उपलब्धि क्या है ? मेरा जवाब होता है- मुख्यमंत्री जी की उपलब्धि है खुद की हर गलती को पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और भाजपा नेताओं पर डालने का प्रयास करना। हालांकि इसमें वह सफल नहीं हो पाते।

वही राजस्थान सरकार के मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा : राजनीति में जिस तरह से भाजपा के लोग भगवान राम का नाम लेकर दंगा फसाद और भेदभाव की बात करते हैं जाति धर्म में टकराव की बात करते हैं यह रामराज्य की मूल भावना के खिलाफ है, भगवान ऐसे लोगों को कभी माफ नहीं करेंगे।

Related Stories

No stories found.