जातिगत जनगणना पर RJD का JDU को ग्रीन सिग्नल‚ बीजेपी की बढ़ी परेशानी‚ क्या फिर आएगा बिहार की सियासत में भूचालॽ

बिहार में जातिगत जनगणना के मुद्दे पर राजनीतिक हलचल एक बार फिर तेज़ हो गई हैं। जातिगत जनगणना के मुद्दे पर विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने ऐसा पासा फेंका, जिसने नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू को तो खुशी से गदगद कर दिया, लेकिन यह पासा भारतीय जनता पार्टी के लिए चिंता का विषय बन गया हैं।
जातिगत जनगणना पर RJD का JDU को ग्रीन सिग्नल‚ बीजेपी की बढ़ी परेशानी‚ क्या फिर आएगा बिहार की सियासत में भूचालॽ

जातिगत जनगणना पर RJD का JDU को ग्रीन सिग्नल‚ बीजेपी की बढ़ी परेशानी‚ क्या फिर आएगा बिहार की सियासत में भूचालॽ

File Photo

बिहार में जातिगत जनगणना के मुद्दे पर राजनीतिक हलचल एक बार फिर तेज़ हो गई हैं। जातिगत जनगणना के मुद्दे पर विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने ऐसा पासा फेंका, जिसने नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू को तो खुशी से गदगद कर दिया, लेकिन यह पासा भारतीय जनता पार्टी के लिए चिंता का विषय बन गया हैं। जातिगत जनगणना पर जेडीयू और बीजेपी के बीच बढ़े फासलों का फायदा उठाने के लिए आरजेडी ने यहां तक कह दिया है कि वह सबकुछ भूलकर एक बार फिर नीतीश के साथ सरकार बनाने को तैयार है।

RJD का ऑफर भी जान लीजिए

आरजेडी के प्रदेशाध्यक्ष जगदानंद सिंह ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके पार्टी के रुख का ऐलान किया। उन्होंने नीतीश कुमार को जातिगत जनगणना के मुद्दे पर आगे बढ़ने को कहा। जगदानंद सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजस्वी के संदेश को बताते हुए कहा कि 'बीजेपी और बीजेपी के जो मंत्री सरकार का साथ नहीं दे रहे हैं, नीतीश को इन्हें हटा देना चाहिए।' उन्होंने आगे कहा कि, 'यदि बीजेपी नेताओं के इस व्यवहार से उनकी सरकार के सामने कोई भी संकट आता हैं तो उनकी पार्टी सबकुछ भूलकर तेजस्वी के नेतृत्व में आरजेडी साथ देने को तैयार है। जगदानंद सिंह के बाद पार्टी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने पार्टी के सन्देश को और साफ़ करते हुए कहा कि खरमास के बाद बिहार में बड़ा सियासी भूचाल आएगा। जब यह पूछा गया कि क्या आरजेडी एक बार फिर जेडीयू के साथ सरकार बना सकती है? इस पर तिवारी ने कहा कि, इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं।

<div class="paragraphs"><p>RJD के प्रदेशाध्यक्ष जगदानंद सिंह</p></div>

RJD के प्रदेशाध्यक्ष जगदानंद सिंह

File Photo

RJD के इस ऑफर पर क्या हैं JDU का रुख ?

RJD के इस ऑफर से JDU का सियासी मौसम खुशनुमा हो गया हैं। JDU पार्टी ने जगदानंद सिंह और आरजेडी के समर्थन के ऐलान पर आभार जताते हुए कहा कि 'पार्टी जातिगत जनगणना के लिए अटल है और जो लोग इस मुद्दे में साथ नहीं देंगे, जनता उन्हें सबक सिखाएगी।' उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि, 'इन मुद्दों पर हम आगे बढ़ेंगे और इस सफर में किनका साथ मिलता है किनका नहीं, यह तो लोग तय करेंगे। हम इन मुद्दों पर कभी भी समझौता नहीं करेंगे।' दरअसल, आरजेडी के इस ऑफर से जेडीयू को बीजेपी पर दबाव बनाने का मौका मिल गया है। अब पार्टी को उम्मीद है कि जातिगत जनगणना और बिहार को विशेष राज्य का दर्जा जैसी मांगों पर वह अब बीजेपी को दबाव में ला सकती है।

राजद के पास नहीं हैं कोई राजनीतिक मुद्दा, इसलिए दे रही हैं ऑफर
राजद नेता इस बयान के बाद बीजेपी ने भी तुरंत पलटवार किया और राजद को 'आईना' दिखाने में देरी नहीं की। बीजेपी के तर्जुमान और ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री निखिल आनंद ने कहा कि भाजपा राजद को दिन में सुहावने सपने देखने से रोक नहीं सकती है। उन्होंने आगे कहा कि, 'जिन मुद्दों को लेकर नीतीश कुमार ने राजद को गठबंधन से बाहर किया था, क्या उन्हें वे भूल गए हैं।' निखिल आनंद ने कहा कि, 'ऐसा प्रतीत होता है कि राजद में धन की कमी हो गई हैं, इसलिए वे सरकार में आने को बैचैन हैं। अब चूँकि राजद के पास कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं बचा हैं, इसलिए वे तरह - तरह के ऑफर दे रहे हैं।'

क्या हैं बीजेपी की टेंशन बढ़ने का कारण ?

भाजपा जातिगत जनगणना पर असमंजस कि स्तिथि में हैं। पार्टी के कई नेताओं ने इसका समर्थन किया है लेकिन केंद्रीय नेतृत्व इस पक्ष में हैं और इसलिए पार्टी किसी भी नतीजे तक नहीं पहुंच पा रही हैं। आरजेडी द्वारा दिए गए ऑफर पर पार्टी के अधिकतर नेताओं ने चुप्पी साध रखी है। हालांकि, पार्टी के प्रवक्ता प्रेमचंद्र पटेल ने कहा कि आरजेडी को अहसास हो गया है। आरजेडी ने पिछले चुनाव में पूरी ताकत लगाई थी, लेकिन बावजूद इसके वह सफल नहीं हो पाई। आरजेडी बिहार की जनता का विश्वास पाने में नापाक रही तो तांक-झांक कर रही है। नीतीश कुमार कच्चे नहीं है, वह बहुत सोच समझकर फैसला लेते हैं। कांच की हांडी दुबारा नहीं चढ़ती है।

Like Follow us on :- Twitter | Facebook | Instagram | YouTube

<div class="paragraphs"><p>जातिगत जनगणना पर RJD का JDU को ग्रीन सिग्नल‚ बीजेपी की बढ़ी परेशानी‚ क्या फिर आएगा बिहार की सियासत में भूचालॽ</p></div>
Bihar : अरवल जिले में कोविड-19 टीकाकरण लिस्ट में गड़बड़ी, PM Modi, Priyanka Chopra का नाम शामिल

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com