अपने बल्ले से पाकिस्तान के छक्के छुड़ाने वाले टीम इंडिया के खिलाड़ी, मैदान पर उतरते ही हो जाती थी पाक की हवा टाइट

टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद जब भी पाकिस्तान के खिलाफ खेलते थे तो एक अलग ही लय में नजर आते थे। 1996 वर्ल्ड कप में आमिर सोहेल के विकेट की कहानी को कौन भूल सकता है। वेंकटेश ने इस मैच में तीन विकेट लिए और भारत ने यह मैच 39 रन से जीत लिया। 1999 के वर्ल्ड कप में एक बार फिर इस खिलाड़ी ने पाकिस्तान की हालत खराब कर दी थी।
अपने बल्ले से पाकिस्तान के छक्के छुड़ाने वाले टीम इंडिया के खिलाड़ी, मैदान पर उतरते ही हो जाती थी पाक की हवा टाइट
Photo | Dainik Bhaskar

डेस्क न्यूज़- टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद जब भी पाकिस्तान के खिलाफ खेलते थे तो एक अलग ही लय में नजर आते थे। 1996 वर्ल्ड कप में आमिर सोहेल के विकेट की कहानी को कौन भूल सकता है। वेंकटेश ने इस मैच में तीन विकेट लिए और भारत ने यह मैच 39 रन से जीत लिया। 1999 के वर्ल्ड कप में एक बार फिर इस खिलाड़ी ने पाकिस्तान की हालत खराब कर दी थी। मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने 50 ओवर में 227 रन बनाए।

Photo | royalchallengers
Photo | royalchallengers

जब वेंकटेश पाक की कमर तोड़ बने मैन ऑफ द मैच

इस लक्ष्य का पीछा करना पाकिस्तान की बल्लेबाजी क्रम के लिए आसान लग रहा था, लेकिन वेंकटेश प्रसाद उस दिन एक अलग अंदाज में थे। उन्होंने पाकिस्तान के सबसे खतरनाक बल्लेबाज सईद अनवर को 36 रन पर वॉक किया। तब वेंकटेश ने सलीम मलिक, इंजमाम-उल-हक, मोइन खान और वसीम अकरम को आउट कर पूरे पाकिस्तान के मध्यक्रम की कमर तोड़ दी थी। मैच में उन्होंने 27 रन देकर 5 विकेट लिए और मैन ऑफ द मैच बन गए।

बालाजी की बल्लेबाजी ने पाक फैन्स को बना दिया था दीवाना

बालाजी का नाम उन खिलाड़ियों की लिस्ट में आता है जिन्होंने अपनी गेंदबाजी और बल्लेबाजी से पाकिस्तान में हंगामा किया। बालाजी के खेल और उनकी मुस्कान ने पाकिस्तानी फैन्स को दीवाना बना दिया। बालाजी ने 2004 की सीरीज के आखिरी दो मैचों में 5 विकेट लिए और भारत की सीरीज जीत में अहम भूमिका निभाई। सीरीज के पांचवें वनडे में बालाजी ने शोएब अख्तर की गेंद पर जबरदस्त छक्का लगाया जिसे देखकर हर कोई हैरान रह गया। इस खिलाड़ी ने 2012 के टी20 वर्ल्ड कप में भी पाकिस्तान के खिलाफ कमाल की गेंदबाजी की थी। इस मैच में पाकिस्तान की टीम महज 128 रन पर ऑल आउट हो गई थी। बालाजी ने मैच में 22 रन देकर 3 विकेट लिए।

इरफान पठान के दम पर टीम इंडिया बनी थी चैंपियन

2006 में जब इरफान पठान पाकिस्तान दौरे पर गए थे तो पाकिस्तान के पूर्व बल्लेबाज जावेद मियांदाद का बयान आया था कि पठान जैसे गेंदबाज पाकिस्तान की सड़कों पर घूमते हैं, लेकिन कराची टेस्ट के पहले ही ओवर में इस गेंदबाज ने हैट्रिक लेकर अपनी बोलती बंद कर दी थी। 2007 विश्व कप के फाइनल में इरफान पठान को मैन ऑफ द मैच चुना गया था। उन्होंने इस मैच में 16 रन देकर 3 विकेट लिए। पठान ने पाकिस्तान के मध्यक्रम के बल्लेबाजों को टिकने नहीं दिया। उनके शानदार प्रदर्शन के दम पर ही टीम इंडिया पहली बार टी20 वर्ल्ड कप की चैंपियन बनी।

अजय जडेजा ने भारत-पाक क्वार्टर फाइनल में खेली थी कमाल की पारी

9 मार्च 1996 को भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए क्वार्टर फाइनल में अजय जडेजा ने कमाल की पारी खेली थी। इस मैच में टीम इंडिया पहले बल्लेबाजी कर रही थी। टीम इंडिया ने 47 ओवर में 236 रन बनाए। टीम के 6 विकेट गिर गए। पाकिस्तान के खतरनाक गेंदबाजों में से एक वकार यूनुस मैच में कमाल की गेंदबाजी कर रहे थे, लेकिन अजय जडेजा ने उनकी जमकर धुनाई कर दी। जडेजा ने इस मैच में 25 गेंदों में 45 रन बनाए। उन्होंने 4 चौके और 2 छक्के लगाए। उनका स्ट्राइक रेट 180 का था।

जडेजा ने वकार के एक ओवर में 23 रन बनाए थे। ओवर की पहली गेंद पर तीन रन लेने के बाद अजय ने अगली चार गेंदों में दो चौके और दो छक्के लगाए. आखिरी गेंद पर वह आउट हो गए, लेकिन उससे पहले भारत को बड़े स्कोर तक ले गए। टीम इंडिया ने इस मैच को 39 रन से जीत लिया।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com