टीम इंडिया का नया कोच: T20 वर्ल्ड कप से 2023 वर्ल्ड कप तक राहुल द्रविड़ रहेंगे कोच, भरत अरुण की जगह लेंगे पारस म्हाम्ब्रे

द्रविड़ वर्तमान में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के अध्यक्ष हैं। शुक्रवार रात आईपीएल फाइनल के दौरान बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया, 'राहुल द्रविड़ भारतीय टीम के मुख्य कोच बनेंगे। वह जल्द ही एनसीए प्रमुख के पद से इस्तीफा देंगे। वहीं, कई सालों से द्रविड़ के साथ काम कर रहे पारस म्हाम्ब्रे को गेंदबाजी कोच नियुक्त किया गया है।
टीम इंडिया का नया कोच: T20 वर्ल्ड कप से 2023 वर्ल्ड कप तक राहुल द्रविड़ रहेंगे कोच, भरत अरुण की जगह लेंगे पारस म्हाम्ब्रे
Photo | Aaj tak

डेस्क न्यूज़- भारत के पूर्व दिग्गज राहुल द्रविड़ अब भारतीय क्रिकेट टीम के कोच होंगे। वह टी20 वर्ल्ड कप के बाद टीम से जुड़ेंगे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक द्रविड़ शुक्रवार को आईपीएल फाइनल के दौरान कोच बनने के लिए तैयार हो गए थे। दुबई में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह ने द्रविड़ के साथ बैठक की और उन्हें टी20 विश्व कप के बाद टीम में शामिल होने को कहा। द्रविड़ 2023 विश्व कप तक टीम के कोच बने रहेंगे। द्रविड़ के अलावा पारस म्हाम्ब्रे को गेंदबाजी कोच नियुक्त किया गया है। उनका कार्यकाल भी 2023 विश्व कप तक रहेगा।

भरत अरुण की जगह लेंगे पारस म्हाम्ब्रे

द्रविड़ वर्तमान में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के अध्यक्ष हैं। शुक्रवार रात आईपीएल फाइनल के दौरान बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया, 'राहुल द्रविड़ भारतीय टीम के मुख्य कोच बनेंगे। वह जल्द ही एनसीए प्रमुख के पद से इस्तीफा देंगे। वहीं, कई सालों से द्रविड़ के साथ काम कर रहे पारस म्हाम्ब्रे को गेंदबाजी कोच नियुक्त किया गया है। वह टीम के हिस्से के रूप में भरत अरुण की जगह लेंगे। फील्डिंग कोच आर. श्रीधर की जगह कोई फैसला नहीं लिया गया है। वहीं विक्रम राठौर टीम के बल्लेबाजी कोच बने रहेंगे। द्रविड़ कुछ दिन पहले श्रीलंका दौरे पर टीम इंडिया के कोच थे।

टी20 वर्ल्ड कप के बाद शास्त्री का कार्यकाल खत्म

बता दें, टी20 वर्ल्ड कप के बाद शास्त्री के साथ गेंदबाजी कोच भरत अरुण भी थे और फील्डिंग कोच आर. श्रीधर का कार्यकाल खत्म हो रहा है। रवि शास्त्री 2017 से टीम इंडिया के कोच हैं। उनका अनुबंध 2019 में बढ़ाया गया था। रवि शास्त्री और विराट के बीच टीम इंडिया ने टेस्ट में विदेशी सरजमीं पर शानदार प्रदर्शन किया है। ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टीम ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर सीरीज जीती। वहीं, इंग्लैंड दौरे पर पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-1 से आगे थी। टीम पहली बार आयोजित वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भी पहुंची। हालांकि टीम को न्यूजीलैंड से हार का सामना करना पड़ा था।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com