भारतीय महिला खिलाड़ी मिताली राज ने महिला वर्ल्ड कप में रचा इतिहास

ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ अर्धशतक जड़ने के बाद मिताली राज ने वर्ल्ड कप में 50 से ज़्यादा रन सबसे अधिक बार बनाने के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है.
भारतीय महिला खिलाड़ी मिताली राज ने महिला वर्ल्ड कप में रचा इतिहास

मिताली राज 

Twitter/BCCI Women

विश्व कप के बीच भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने एक नया रिकॉर्ड बनाया है. ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ अर्धशतक जड़ने के बाद मिताली राज ने विश्व कप में 50 से ज़्यादा रन सबसे अधिक बार बनाने के रिकॉर्ड को टच कर लिया है. इससे पहले न्यूज़ीलैंड की पूर्व खिलाड़ी डेबी हॉकली ने ही ये कारनामा किया था.

दोनों ही खिलाड़ियों ने 12 बार 50 से ज़्यादा रन विश्व कप में बनाए हैं. बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ बनाया गया अर्धशतक, मिताली राज का कुल 63वां अर्धशतक है.

मिताली दोराई राज जिन्हें पूरी दुनिया जानती है. वो एक भारतीय क्रिकेटर और भारत की नेशनल वुमन क्रिकेट टीम की टेस्ट और वनडे की कप्तान हैं. मिताली राइट हैंडेड अपर मिडिल ऑर्डर बैटर और एक राइट आर्म लेग ब्रेक गेंदबाज भी हैं. वह महिला इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली प्लेयर भी हैं और उन्हें अब तक की सबसे महान महिला क्रिकेटरों में से एक के रुप में जाना जाता है. मिताली को "भारतीय महिला क्रिकेट की लेडी तेंदुलकर" के नाम से भी जाना जाता है।

इंटरनेशनल करियर

मिताली राज ने भारत के लिए टेस्ट, वनडे और टी 20 तीनों फॉर्मेट में क्रिकेट खेला है. 1997 के महिला क्रिकेट विश्व कप में उन्हें संभावित खिलाड़ियों की सूची में शामिल किया गया था. जब वह केवल 14 साल की थी, लेकिन अंतिम टीम में वह जगह नहीं बना सकीं. उन्होंने 1999 में आयरलैंड के खिलाफ मिल्टन कीन्स में एक दिवसीय इंटरनेशनल डेब्यू किया और नाबाद 114 रन बनाए. फिर उन्होंने 2001-02 के सत्र में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ लखनऊ में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया. वहीं 17 अगस्त 2002 को, 19 साल की उम्र में, अपने तीसरे टेस्ट में, उन्होंने करेन रोल्टन के 209 के विश्व के सर्वोच्च व्यक्तिगत टेस्ट स्कोर के रिकॉर्ड को तोड़ तोड़ा और इंग्लैंड के खिलाफ काउंटी में दूसरे और अंतिम टेस्ट में 214 का एक नया हाई स्कोर बनाया. उसके बाद इस रिकॉर्ड को पाकिस्तान की किरण बलूच ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 242 रन बना कर तोड़ दिया.

फरवरी 2017 में मिताली ने महिला वनडे में 5,500 रन बनाने वाली दूसरी खिलाड़ी के रुप में अपना नाम लिखवाय. राज वनडे और T20 में भारत के लिए सबसे अधिक मैचों में कप्तानी करने वाले पहली खिलाड़ी हैं. जुलाई 2017 में, वह महिला वनडे में 6,000 रन बनाने वाली पहली महिला खिलाड़ी बनीं. उन्होंने 2017 महिला क्रिकेट विश्व कप के फाइनल में भारतीय टीम का नेतृत्व किया लेकिन वहां टीम इंग्लैंड से नौ रन से हार गई. दिसंबर 2017 में, उन्हें ICC महिला ODI टीम ऑफ द ईयर के लिए नॉमिनेट किया गया था.

फिर अक्टूबर 2018 में, उन्हें वेस्ट इंडीज में 2018 आईसीसी महिला विश्व 20-20 टूर्नामेंट के लिए भारत की टीम में शामिल किया गया. सितंबर 2019 में, राज ने T20 क्रिकेट से संन्यास लिया. फिर नवंबर 2020 के अंदर मिताली को दशक की ICC महिला क्रिकेटर के लिए राचेल हीहो-फ्लिंट अवार्ड और दशक की महिला ODI क्रिकेटर के अवॉर्ड के लिए चुना गया. मई 2021 में, उन्हें इंग्लैंड की महिला क्रिकेट टीम के खिलाफ उनके एकतरफा मैच के लिए भारत के टेस्ट टीम के कप्तान बनाया गया और जनवरी 2022 में, उन्हें न्यूजीलैंड में 2022 महिला क्रिकेट विश्व कप के लिए भारत की टीम के कप्तान के रूप में नामित किया गया था.

Related Stories

No stories found.