उत्तराखंड: पीएम मोदी ने सीएम धामी से की बात, नैनीताल में फटा बादल; लोगों के दबे होने की आशंका

भारी बारिश से उत्तराखंड के अलावा केरल के भी हालात खराब हो गए
उत्तराखंड: पीएम मोदी ने सीएम धामी से की बात, नैनीताल में फटा बादल; लोगों के दबे होने की आशंका
photo- ANI

डेस्क न्यूज. भारी बारिश से जूझ रहे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बात की है. मंगलवार को उन्होंने राज्य के बिगड़ते हालात का जायजा लिया. प्रधानमंत्री मोदी ने सीएम धामी के अलावा राज्य मंत्री अजय भट्ट से भी चर्चा की है. उत्तराखंड में पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश का सिलसिला जारी है। राज्य में नालों का जलस्तर उफान पर है। बारिश से जुड़ी घटनाओं में अब तक 9 लोगों की मौत हो चुकी है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी | फोटो साभार: ANI
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी | फोटो साभार: ANI

सोमवार को सीएम धामी ने जानकारी दी

सोमवार को सीएम धामी ने जानकारी दी थी कि वह लगातार स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं. उन्होंने ट्वीट किया था, 'मैं लगातार राज्य के अलग-अलग इलाकों में हो रही बारिश का जायजा ले रहा हूं.

संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे प्रत्येक जिले में बारिश और यातायात की स्थिति पर प्रति घंटा रिपोर्ट दें और प्रशासन को यात्रियों की हर संभव मदद करने के लिए कहा गया है. मलबे में कई लोगों के दबे होने की आशंका है। पुलिस और प्रशासन मौके पर पहुंच गया है।

भूस्खलन से बिगड़े हालात

सोमवार को नैनीताल पहुंचने वाले तीन हाईवे भूस्खलन के कारण बंद कर दिए गए। ऐसे में शहर का राज्य के बाकी हिस्सों से संपर्क पूरी तरह बंद हो गया. इसके साथ ही कई यात्री सड़कों और होटलों में भी फंसे रहे। नैनीताल को उधम सिंह नगर और चंपावत जिलों से जोड़ने वाले हल्द्वानी पुल का एक हिस्सा भी तेज धारा के कारण बह गया। इसके साथ ही चंपावत जिले में नदी पर निर्माणाधीन पुल भी पानी के तेज बहाव के कारण बह गया.

भारी बारिश से उत्तराखंड के अलावा केरल के भी हालात खराब हो गए

भारी बारिश से उत्तराखंड के अलावा केरल के भी हालात खराब हो गए हैं।

केंद्र सरकार दक्षिण भारतीय राज्य के हालात पर भी नजर रखे हुए है.

केंद्रीय गृह मंत्री ने रविवार को बताया था कि राज्य में केंद्र सरकार हर संभव मदद के लिए तैयार है.

उन्होंने ट्वीट किया था, 'भारी बारिश और बाढ़ की स्थिति को देखते हुए

हम केरल के इलाकों के हालात पर लगातार नजर बनाए हुए हैं.

केंद्र सरकार जरूरतमंद लोगों की हर संभव मदद करेगी। बचाव अभियान में मदद के

लिए एनडीआरएफ की टीम पहले ही भेजी जा चुकी है।

साथ ही उन्होंने सभी की सलामती की दुआ की थी.

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com