यूरोप में फैला सुई चुभवा का आतंक, भीड़भाड़ में सुई चुभाकर हो रहा कोई फरार

कोई इन्सान नाइट क्लब्स, कॉन्सर्ट्स और भीड़भाड़ वाले इलाकों पर लोगों को सुई चुभा रहा है। अकेले फ्रांस में ऐसे 302 पीड़ितों ने शिकायत दर्ज कराई है। हालांकि पुलिस ने जांच शुरू कर दी हैं
यूरोप में फैला सुई चुभवा का आतंक, भीड़भाड़ में  सुई चुभाकर हो रहा कोई फरार

यूरोप के कई देशों में पिछले कुछ महीनों एक नई तरह की घटना देखने को मिली है। दरअसल यूरोप के फ्रांस, ब्रिटेन जैसे कई देशों में एक रहस्यमयी सुईचुभवा का आतंक फैला हुआ है।

कोई इन्सान नाइट क्लब्स, कॉन्सर्ट्स और भीड़भाड़ वाले इलाकों पर लोगों को सुई चुभा रहा है। अकेले फ्रांस में ऐसे 302 पीड़ितों ने शिकायत दर्ज कराई है। हालांकि पुलिस ने जांच शुरू कर दी हैं, लेकिन अब तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है।

क्या है इसका मकसद?

ऐसे में कुछ सवाल हैं जो बार बार इन देशों के प्रशासनिक अधिकारियों के मन में कौंध रहा है। सवाल हैं कि आखिर कौन ये सुईं चुभाने वाला, क्या है इसका मकसद और क्यों कर रहा है ये हरकत। फ्रांस, ब्रिटेन और नीदरलैंड की पुलिस इन मामलों की जांच करने में जुटी हुई हैं। बता दें ज्यादातर मामले महिलाओं के साथ सामने आ रहे हैं।

कहीं ये कोई ड्रग तो नहीं

लोगों को डर है कि कहीं ये ड्रग्स का इंजेक्शन तो नहीं है। या फिर किसी केमिकल का इंजेक्शन हो सकता है क्योंकि कुछ पीड़ितों ने बताया है कि उनके बाजू में सुईं चुभने के निशान मिले हैं और नीले रंग का पदार्थ मिला है।

अधिकांश पीड़ितों ने बताया कि सुई चुभने के बाद उन्हें चक्कर और उल्टी आने की शिकायत हुई। कुछ पीड़ितों को नींद नहीं आने और बेचैनी जैसी परेशानी भी हुई।

दो पीड़ित मिले GHB पॉजिटिव

पुलिस को शक है कि ये इंजेक्शन GHB के हैं जो कि एक बेहोशी की दवा है। क्योंकि दो पीड़ितो के टेस्ट के दौरान GHB के अंश उनके अंदर मिले हैं।

गौरतलब है कि GHB एक बेहोशी के दवा है। यूरीन की जांच से ही इसका पता चलता है और वह भी घटना के 12 घंटे के भीतर। संदेह है कि पीड़ितों को GHB का इंजेक्शन दिया जा रहा है।

यूरोप में फैला सुई चुभवा का आतंक, भीड़भाड़ में  सुई चुभाकर हो रहा कोई फरार
13-वर्षीय भारतीय मूल की हरिनी ने जीता 'Spelling Bee' Competition, 22 कठिन शब्दों की स्पेलिंग बताई

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com