मंत्री परिषद की बैठक में किसको मिलेगी जगह और किसका कटेगा पत्ता जाने ?

बैठक के बाद देर शाम मुख्यमंत्री आवास पर मंत्रिपरिषद के सदस्यों के लिए भोज का आयोजन भी हो सकता है। हालांकि भोज का कार्यक्रम अभी सिर्फ प्रस्तावित है।
मंत्री परिषद की बैठक में किसको मिलेगी जगह और किसका कटेगा पत्ता जाने ?

राजस्थान में कैबिनेट विस्तार की सियासत तेज होने लगी है। कयास लगायी जा रही है की मंत्री मंडल विस्तार में काफी नए चेहरे देखे जा सकते है और कई पुराने दिग्गज नेताओ से मंत्री मंडल से हटाया जा सकता है जैसे परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावा, डॉ रघु शर्मा, गोविन्द सिंह डोटासरा और नए चेहरों की हम बात करे तो सचिन पायलट गुट से दो से तीन चेहरे आ सकते है और सीपी जोशी को मंत्री पद दिया जा सकता है,राजकुमार शर्मा, भी मंत्री मंडल की इस दौड़ में शामिल है वही

वहीं मंत्रिमंडल विस्तार पर कांग्रेस आलाकमान की मंजूरी मिल चुकी है। अब सिर्फ तारीख तय होनी बाकी है। उम्मीद है कि इसी सप्ताह विस्तार कर लिया जाएगा। मंत्रिपरिषद की बैठक में अनौपचारिक तौर पर सीएम अपने मंत्रियों से इस मुद्दे पर भी बात कर सकते हैं। इस बैठक के बाद देर शाम मुख्यमंत्री आवास पर मंत्रिपरिषद के सदस्यों के लिए भोज का आयोजन भी हो सकता है। हालांकि भोज का कार्यक्रम अभी सिर्फ प्रस्तावित है।

रफ्तार बढ़ाने को प्रशासन गांवों के संग शिविरों का करेंगे अवलोकन

मंगलवार को मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद गहलोत बुधवार 17 नवंबर को कोटा, बूंदी और टोंक के दौरे पर निकलेंगे। गहलोत इन तीनों जिलों में प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत लगाए जा रहे शिविरों का अवलोकन करेंगे। मुख्यमंत्री बुधवार सुबह 10 बजे जयपुर से हेलीकॉप्टर के जरिए पीपल्दा पहुंचेंगे। यहां से दोपहर 12 बजे हिंडौली जाएंगे। इसके बाद टोंक के उनियारा जाकर शिविर का अवलोकन करेंगे।

यहां से गहलोत दोपहर 3 बजे जयपुर लौटेंगे। गौरतलब है कि प्रशासन गांवों के संग अभियान को रफ्तार देने के लिए गहलोत इन दिनों लगातार प्रदेश के दौरे कर रहे हैं। इससे पहले वे जोधपुर, भीलवाड़ा, बीकानेर, चूरू, सीकर और जयपुर में भी प्रशासन शहराें के संग अभियान के तहत लगाए जा रहे शिविरों का दौरा कर चुके हैं।

Since independence
hindi.sinceindependence.com