महाराष्ट, केरल में बाढ़ का कहर…महाराष्ट में बाढ़ से अब तक 27 लोग की मौत

कोल्हापुर में 10 इंच पानी गिरा था,कृष्णा और उसकी सहायक नदियों उफान पर
महाराष्ट, केरल में बाढ़ का कहर…महाराष्ट में बाढ़ से अब तक 27 लोग की मौत

डेस्क न्यूज – पश्चिमी महाराष्ट्र में बाढ़ से अब तक कम से कम 2.05 लाख लोग विस्थापित हुए हैं और 27 लोग मारे गए हैं। जबकि बारिश एक हद तक कम हो गई है, मुंबई से 376 किमी दूर कोल्हापुर और सांगली के सबसे अधिक प्रभावित हुए है।

शुक्रवार को फिर से बहुत भारी बारिश होने के अनुमान के बाद भी 30,000 से 35,000 लोगों फंसे हुए है। कोल्हापुर और सांगली इन दोनों जिलों में स्थिति गंभीर बनी हुई है।

बाढ़ प्रभावित जिलों का हवाई दौरा करने के बाद मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि कर्नाटक के अलमट्टी बांध से 5 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद स्थिति में बदलाव हुआ है। 'सांगली में स्थिति सबसे विकट है … गृह मंत्री अमित शाह ने इस मुद्दे को सुलझाने के लिए कर्नाटक के सीएम बीएस येदियुरप्पा और मैं दोनों के साथ बैठक की।

उन्होंने (कर्नाटक) आज रात तक इस पानी को डिस्चार्ज करने पर सहमति जताई है। उन्होंने स्वीकार किया कि कर्नाटक को इतना पानी छोडने की चिंता है क्योंकि यह संभावित रूप से अपने ही कुछ इलाकों में बाढ़ ला सकता है।

पश्चिमी महाराष्ट्र के पांच जिलों में सरकारी तंत्र द्वारा लगभग 2.05 लाख लोगों को निकाला गया है। और, अब तक 27 की मौत हो चुकी है। सबसे ज्यादा प्रभावित जिले कोल्हापुर और सांगली हैं। सोलापुर, सतारा और पुणे के अन्य तीन जिलों में हालात नियंत्रण में हैं।

गुरुवार को कोल्हापुर में 10 इंच पानी गिरा था, जबकि सांगली में नौ इंच पानी डाला गया था। कर्नाटक में अल्माटी बांध के बैकवाटर में वृद्धि और कृष्णा नदियों और उसकी सहायक नदियों, पंचगंगा और दुधगंगा की बाढ़ के कारण इन दोनों जिलों की स्थिति खराब हो गई थी।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com