जामिया यूनिवर्सिटी में हंगामें के बाद भारी पुलिस बल तैनात

छात्र यूनिवर्सिटी के एक कार्यक्रम में इजरायल को पार्टनर बनाए जाने का विरोध कर रहे थे।
जामिया यूनिवर्सिटी में हंगामें के बाद भारी पुलिस बल तैनात

न्यूज – जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में मंगलवार को छात्र गुटों के बीच झड़प होने से माहौल अभी भी तनावपूर्ण है। कुछ छात्र यूनिवर्सिटी के एक कार्यक्रम में इजरायल को पार्टनर बनाए जाने का विरोध कर रहे थे। छात्र विरोध मार्च करते हुए कुलपति के ऑफिस के पास पंहुचे तो उन पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया जिसमें छात्रों को गंभीर चोटें आई।

पुलिस के मुताबिक जामिया यूनिवर्सिटी के कुछ छात्रों ने शिकायत दर्ज कराई, छात्रों का आरोप है कि यूनिवर्सिटी प्रशासन के कहने पर मंगलवार को कुछ लोगों ने उन पर हमला किया था।

घटना के तूल पकडने के बाद यूनिवर्सिटी में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। यूनिवर्सिटी प्रशासन के मुताबिक कुछ छात्र संगठनों ने मार्च करते हुए वीसी ऑफिस का घेराव किया। उन्होंने सभी रास्तों को ब्लॉक कर दिया। इसके बाद कुछ टीचर्स प्रदर्शन में शामिल छात्रों से मिलने गए। उनसे घेराबंदी न करने का भी अनुरोध किया। साथ ही छात्रों के ज्ञापन पर चर्चा करने और अपने प्रतिनिधियों को बात करने के लिए भेजे जाने का अनुरोध किया।

यूनिवर्सिर्टी प्रशासन के मुताबिक इसके बाद भी छात्र हटने को राजी नहीं हुए। आरोप लगाया कि इन छात्रों ने मीर तकी मीर बिल्डिंग में इंग्लिश विभाग की तरफ से आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए मेहमानों को भी बाहर निकलने से रोका दिया। प्रदर्शनकारी छात्र रास्ता रोक कर खड़े रहे जिसके बाद छात्र गुटों के बीच हाथापाई शुरू हो गई।

वही छात्रों का कहना है कि प्रशासन के कहने पर छात्रों पर ये हमला किया गया। उन्होंने इसमें करीब 10 छात्रों को चोटें आने का दावा किया है, जिनमें से तीन अस्पताल में भर्ती किए गए।

इससे पहले यूनिवर्सिटी प्रशासन ने पांच छात्रों को अनुशासनहीनता पर कारण बताओ नोटिस दिया गया था, जिसका कुछ छात्र पिछले नौ दिन से विरोध कर रहे हैं। ये लोग आर्किटेक्चर फैकल्टी की ओर से रखे गए प्रोग्राम 'ग्लोबल हेल्थ जेनिथ : कॉन्फ्लूएस 19' के दौरान इस इवेंट में इजरायल को पार्टनर बनाने का विरोध कर रहे थे।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com