Indore Fire Case : एकतरफा प्यार में इंदौर की इमारत में आग लगाने के आरोपी को लड़की की बहन ने मारा थप्पड़, बोली क्या मिला तुझे ऐसा...

Indore Fire Case : आरोपी शुभम जिस युवती के पीछे लगा था उसकी बड़ी बहन रविवार सुबह अपनी बहन से मिलवाने की मांग को लेकर थाने पहुंची थी। उसी समय उसे पुलिस के साथ आरोपी शुभम दीक्षित आता नजर आया। आरोपी का आता देख महिला ने आरोपी को जोरदार तमाचा जड़ दिया। थाना परिसर में अचानक थप्पड़ पड़ने से हड़कंप मच गया।
Indore Fire Case : एकतरफा प्यार में इंदौर की इमारत में आग लगाने के आरोपी को लड़की की बहन ने मारा थप्पड़, बोली क्या मिला तुझे ऐसा...

एक तरफा प्यार में सनकी आशिक की ओर से अपनी प्रेमिका से बदला लेने के लिए स्कूटी में आग लगाने और इससे इमारत में आग फैलने के बाद हादसे में मारे गए सात लोगों की हत्या के आरोपी शुभम दीक्षित को पुलिस ने पकड़ लिया। इसके बाद रविवार सुबह थाने में युवती की बड़ी ने आरोपी को जोरदार तमाचा मार पूछा कि आखिर सात लोगों की जान लेकर उसे क्या मिला...।

दरअसल आरोपी शुभम जिस युवती के पीछे लगा था उसकी बड़ी बहन रविवार सुबह अपनी बहन से मिलवाने की मांग को लेकर थाने पहुंची थी। उसी समय उसे पुलिस के साथ आरोपी शुभम दीक्षित आता नजर आया। आरोपी का आता देख महिला ने आरोपी को जोरदार तमाचा जड़ दिया। थाना परिसर में अचानक थप्पड़ पड़ने से हड़कंप मच गया। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने बीच-बचाव कर महिला को आरोपी से दूर किया और उसे अपने साथ ले गई। अब ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

बहन ने कहां इसे फांसी की सजा दो...

छोटी बहन को एकतरफा प्यार में लंबे समय से परेशान करने के आरोप लगाते हुए पीड़ित युवती की बड़ी बहन ने आरोपी को थाने में ही फांसी दिए जाने की मांग कर डाली। आरोपी को जिस समय थाने लेकर आया गया था, उस समय उसके हाथ और पैर में पलस्तर चढ़ा था। विजय नगर पुलिस थाने के प्रभारी तहजीब काजी के अनुसार पुलिस से बचने के लिए भागते समय आरोपी डिवाडर फांदते वक्त गिर पड़ा जिससे उसका उसका पैर और हाथ फ्रेक्चर हो गया। थाने में अपने बयान दर्ज कराने पहुंचे मृतक ईश्वर सिंह के परिजनों ने भी आरोपी को फांसी देने की मांग की है।

इमारत के सामने ही मृतक दंपत्ति का मकान बन रहा था...

हादसे में मारे गए दंपत्ति ईश्वर सिंह सिसोदिया और उनकी पत्नी नीतू जिस बिल्डिंग में हादसा हुआ उसी में फ्लैट लेकर किराए पर रह रहे थे। इस बिल्डिंग के सामने उनका घर बन रहा है। ईश्वर सिंह के छोटे भाई भेरू सिंह ने बताया कि हादसे के वक्त सबसे पहले उनके भाई ने उन्हें फोन किया था। वह बुरी तरह फंस गए थे। मैंने फायर ब्रिगेड को फोन किया और पड़ोसी की पानी की मोटर चलाकर आग बुझाने की कोशिश की। अंदर पहुंचे तो सब कुछ खत्म हो चुका था। भाई और भाभी फर्श पर बेसुध पड़े थे। मुझे खेद है कि मैं उन्हें बचा नहीं पाया।
Indore Fire Case : एकतरफा प्यार में इंदौर की इमारत में आग लगाने के आरोपी को लड़की की बहन ने मारा थप्पड़, बोली क्या मिला तुझे ऐसा...
Watch Viral Video : पानीपत में तेंदुए ने वनकर्मियों, SHO और डाक्टर पर किया हमला, देखें वीडियो

Related Stories

No stories found.