MP News: जन्मदिन बहाना...राम मंदिर निशाना! कमलनाथ के बर्थडे पर कटा मंदिर की आकृति का केक

मजहब विशेष को खुश करने को अक्सर हिंदुओं की भावनाएं भड़का कर कांग्रेस नेता विवाद खड़े करते रहते हैं। अब नया विवाद मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ से जुड़ा है। उनके जन्मदिन से पहले एक कार्यक्रम में मंदिर की आकृति वाला केक काटा गया। भाजपा ने इसे राम मंदिर की आकृति बताकर घेराबंदी शुरू कर दी है।
MP News: जन्मदिन बहाना...राम मंदिर निशाना! कमलनाथ के बर्थडे पर कटा मंदिर की आकृति का केक

चुनावों के समय जहां भाजपा हिंदुओं से जुड़े मुद्दों को उठाकर हिंदू वोटर्स का दिल जीतने का काम करती है, वहीं कांग्रेस इसके उलट हिंदू भावनाएं आहत करने में कोई कसर नहीं छोड़ती। अक्सर हिंदू विरोधी बयान देकर कांग्रेस नेता खुद को आलाकमान (सोनिया गांधी) की नजर में बने रहने का प्रयास करते रहते हैं। इस मामले में राहुल गांधी, दिग्विजय सिंह, कमलनाथ, मणिशंकर अय्यर, कपिल सिब्बल, मनीष तिवारी जैसे नाम प्रमुख हैं।

अब पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेशाध्‍यक्ष कमलनाथ से जुड़ा एक नया विवाद सामने आया है। कमलनाथ के जन्मदिन से पहले छिंदवाड़ा में आयोजित एक कार्यक्रम में मंदिर की आकृति रूपी केक काटा गया। इस पर भाजपा हमलावर हो गई है और आरोप है कि केक पर राम मंदिर और हनुमान जी की आकृति बनी हुई थी।

गौरतलब है कि इससे पहले भी कमलनाथ विवादित बयान देकर चर्चा में आ चुके हैं। मध्य प्रदेश में एक विधानसभा चुनाव के दौरान उनका एक वीडियो खूब वायरल हुआ था। वीडियो में कमलनाथ मुसलमानों को समझा रहे थे कि कांग्रेस को जिताएं बीजेपी और संघ से वो निपट लेंगे।

(वीडियो) छिंदवाड़ा में काटा मंदिर की आकृति वाला केक

पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेशाध्‍यक्ष कमलनाथ नए विवादों में घिर गए है। अपने जन्मदिन के पूर्व एक कार्यक्रम के दौरान उनके केक काटने को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। भाजपा जिला अध्यक्ष विवेक बंटी साहू ने राम मंदिर रूपी केक और उसमें बने हनुमान जी की तस्वीर काटने का आरोप लगाया है।

भाजपा जिलाध्यक्ष ने कहा कि, शुरू से कमल नाथ और कांग्रेस राम मंदिर का विरोध करते आए हैं। अब उन्होंने राम मंदिर रूपी केक काटकर अपनी इन्‍हीं भावनाओं को प्रदर्शित किया है। बंटी साहू ने कहा कि इस तरह उन्होंने एक बार फिर साबित कर दिया है कि वह राम मंदिर और राम के विरोधी हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने कहा कि इस कलियुग में सिर्फ हनुमान जी हर जगह साक्षात विराजमान हैं। उन्होंने हनुमान जी का भी केक काटकर अपमान किया है। इस घटना के लिए वो तत्काल माफी मांगें।

जन्मदिन से पहले हुआ कार्यक्रम

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का जन्मदिन 18 नवंबर को है। वे 4 दिवसीय दौरे पर छिंदवाड़ा पहुंचे थे, इस दौरान बीते मंगलवार शाम को शिकारपुर स्थित बंगले पर उनके कुछ समर्थकों ने उनका जन्मदिन मनाया। जन्मदिन के मौके पर जो केक काटा गया, वह राम मंदिर के आकार का था। उसमें हनुमान जी की प्रतिमा भी बनी हुई थी। भाजपा जिला अध्यक्ष ने इसी को लेकर प्रेसवार्ता में गंभीर आरोप लगाए। इसका वीडियो भी सामने आया है। हालांकि कांग्रेस जिला विश्वनाथ ऑक्टे ने कहा है कि वो केक कमलनाथ ने नहीं काटा है।

वीडियो में नजर आ रहा है कि केक खंड में बना है। निचले पहले खंड पर लिखा है- हम हैं छिंदवाड़ा वाले, इससे ऊपर दूसरे खंड पर- जीवेत शरद: शतम्, तीसरे पर कमलनाथ और चौथी लेयर पर जननायक लिखा हुआ है। ऊपरी चौथे खंड पर हनुमान जी की फोटो भी नजर आ रही है। केक पर मंदिर की तरह शिखर है। झंडा लगा हुआ है। कमल नाथ केक काटते नजर आ रहे हैं। साथ में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र गुप्ता और दूसरे लोग भी हैं।

(वीडियो) तब कहा था- 'बीजेपी और संघ से निपट लेंगे!'

नवंबर, 2018 में मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ अपने वायरल हो रहे वीडियो से सुर्खियों में रहे। वायरल हो रहे वीडियो में कमलनाथ यह कह रहें हैं कि मुस्लिम कांग्रेस पार्टी के 'वोट बैंक' है. पिछले चुनावों में मुस्लिम बूथ पर केवल 50 से 60 फीसदी ही वोटिंग हुई मुस्लिम बूथों पर 90 फीसदी वोटिंग क्यों नहीं हुई. कमलनाथ ने कहा कि मुस्लिम समुदाय से अगर कांग्रेस 90 फीसदी वोट नहीं मिले तो कांग्रेस को बड़ा नुकसान हो सकता है.

वीडियो में कांग्रेस नेता ने विधानसभा चुनाव में आरएसएस के नारे का भी जिक्र कर रहें हैं. कमलनाथ ने अपने इस बयान में आरएसएस के बारे में आपत्तिजनक बातें कही हैं. कमलनाथ वीडियो में सीधे तौर पर हिंदू-मुस्लिम वोट बैंक को अलग कर धर्म पर राजनीति कर रहें हैं. वीडियो में कमलनाथ मुसलमानों को समझा रहे थे कि कांग्रेस को जिताएं बीजेपी और संघ से वो निपट लेंगे।

MP News: जन्मदिन बहाना...राम मंदिर निशाना! कमलनाथ के बर्थडे पर कटा मंदिर की आकृति का केक
Elections & Politics: खुल रही पोल, बज रहे ढोल... AAP के 'कारनामे' कर रहे धमाके
Since independence
hindi.sinceindependence.com