DAUSA: बोरवेल में गिरी दो साल की बच्ची को देसी जुगाड़ से निकाला गया बाहर, 100 फीट पर फंसी थी अंकिता

बांदीकुई के आभानेरी में बोरलेल में गिरी दो साल की बच्ची अंकिता को 8 घंटे बाद ही बाहर निकाल लिया गया है। 200 फीट गहरे बोरवेल में गिर बच्ची को देसी जुगाड़ के जरिये निकाल कर बचा लिया गया है।
DAUSA: बोरवेल में गिरी दो साल की बच्ची को देसी जुगाड़ से निकाला गया बाहर, 100 फीट पर फंसी थी अंकिता

दौसा जिले में बांदीकुई क्षेत्र के आभानेरी के समीप आज गुरुवार सुबह 11 बजे दो साल की बच्ची अंकिता 200 फीट गहरे बोरवेल में गिर गई थी। मासूम करीब 100 फीट की गहराई में फंसी थी। एसडीआरएफ और प्रशासन की टीमें बचाव कार्य में जुटी थीं। वहीं, बच्ची को बाहर निकालने के लिए देसी जुगाड़ का भी सहारा लिया जा रहा था। जिसमें कामयाबी मिली है।

200 फीट गहरे बोरवेल में बच्ची को 8 घंटे बाद बाहर निकाल लिया गया है। बच्ची को इतनी जल्दी बाहर निकालने में देसी जुगाड़ काम आई है। बच्ची के बाहर निकलते ही मां ने उसे सीने से लगा लिया और रो पड़ी। बच्ची को इलाज के लिए एंबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया है। वह स्वस्थ बताई जा रही है।

इस तरह घटा घटनाक्रम

बच्ची करीब 11 बजे बोरवेल में गिरी थी। जानकारी लगते ही इसकी सूचना पुलिस और प्रशासन को दी गई। 11:45 पर जेसीबी मौके पर पहुंची 12 बजे तहसीलदार मौके पर पहुंचे। करीब डेढ़ घंटे बाद 12:30 बजे बोरवेल में बच्ची के लिए ऑक्सीजन पहुंचाई गई। एक बारिश शुरू होने के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन रोकना पड़ा। बरसात रुकने के बाद 1:30 एसडीआरएफ की टीम ने बचाव कार्य शुरू किया। 2 बजे के बाद बच्ची तक कैमरा पहुंचाया गया।

रस्सी से बांधकर पानी की बोतल पहुंचाई

बचाव कार्य में जुटी टीम ने बच्ची को पानी देने के लिए रस्सी से बांध कर एक बोतल उस तक पहुंचाई। मासूम आसानी से पानी पी सके इसके लिए बोतल बोतल पर निप्पल भी लगाई गई। उसने बोतल को हाथ में ले लिया था, कैमरे में वह हाथ में बोतल लिए हुए दिख रही है। इसी तरह उसे दूध और खाने की अन्य चीजें भी दी गईं।

घर के पास है खुला हुआ बोरवेल

जानकारी के अनुसार आभानेरी गांव में देवनारायण गुर्जर की दो साल की बेटी अंकिता सुबह 11 बजे घर के बाहर खेल रही थी। इस दौरान वह घर के पास मौजूद खुले बोरवेल में गिर गई। कुछ देर तक परिजनों को इसकी जानकारी नहीं लगी। जब उन्हें कुछ देर तक बच्ची नहीं दिखी तो घरवालों ने उसकी तलाश की। इसी बीच उन्हें बोरवेल से उसके रोने की आवाज आई। बच्ची के बोरवेल में गिरने की जानकारी लगते ही हड़कंप मच गया।

बंद करने के लिए खोला गया था बोरवेल

अंकिता जिस बोरवेल में गिरी है उसे दो साल पहले खोदा गया था, लेकिन पानी नहीं निकले के कारण ढक्कन लगाकर उसे बंद कर दिया। आज सुबह बोरवेल में मिट्टी भरने के लिए उसका ढक्कन खोला था। हादसे से पहले करीब 100 फीट तक मिट्टी भर दी गई थी। इसके बाद मासूम अंकिता खेलते-खेलते उसमें गिर गई।

DAUSA: बोरवेल में गिरी दो साल की बच्ची को देसी जुगाड़ से निकाला गया बाहर, 100 फीट पर फंसी थी अंकिता
DAUSA: बोरवेल में गिरी 2 साल की बच्ची; पानी की बोतल पहुंचाई तो पकड़ ली, गड्‌ढा खोदकर सुरंग के जरिए निकालने के प्रयास
Since independence
hindi.sinceindependence.com