Telangana: "मुस्लिम आरक्षण संविधान विरोधी, इसे खत्म करेंगे" तेलंगाना में शाह-योगी की हुंकार

Telangana Elections 2023: तेलंगाना में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मुस्लिम आरक्षण खत्म करने का वादा किया, वहीं इसे लेकर यूपी के सीएम योगी ने भी कहा कि मुस्लिम आरक्षण संविधान विरोधी है।
Telangana: "मुस्लिम आरक्षण संविधान विरोधी, इसे खत्म करेंगे" तेलंगाना में शाह-योगी की हुंकार

Telangana Assembly Elections 2023: तेलंगाना में भारतीय जनता पार्टी के ‘मिशन तेलंगाना’ में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘मुस्लिम आरक्षण’ पर अपना रुख साफ कर दिया है। यहां चुनावी प्रचार करने पहुँचे गृहमंत्री शाह ने कहा कि अगर बीजेपी यहाँ सत्ता में आई तो वो मुस्लिम आरक्षण खत्म कर देगी। वहीं सीएम योगी ने कुमुरम भीम आसिफाबाद की रैली में कहा कि मुस्लिम आरक्षण संविधान विरोधी है। किसी भी स्थिति में इसे लागू नहीं होने देना चाहिए।

पिछड़ा वर्ग से बनाएंगे सीएम : शाह

केंद्रीय मंत्री शाह ने 24 नवंबर को निजामाबाद में चुनावी जनसभा की। इसके बाद उन्होंने चुनावी राज्य तेलंगाना में रोड शो किए। इस दौरान एक रोड शो में केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा नेता शाह ने कहा, “हमने बहुत सारे वादे किए हैं। उनमें से एक ये है कि सीएम पिछड़ा वर्ग से बनाया जाएगा। हम मुस्लिम आरक्षण खत्म कर एससी, एसटी और ओबीसी को आरक्षण देंगे। हमने मडिगा समुदाय को शीर्ष आरक्षण का भी वादा किया है।”

उन्होंने आगे कहा, ”हमने राज्य की गरीब महिलाओं को एक साल में चार गैस सिलेंडर मुफ्त देने का भी वादा किया है। जितना भी भ्रष्टाचार हुआ है उस पर हम एक जाँच आयोग बिठाएँगे और भ्रष्टाचार के लिए जिम्मेदार लोगों को सजा देंगे।”

चल रहा तुष्टिकरण का गंदा खेल : योगी

वहीं, 25 नवंबर को सीएम योगी ने कुमुरम भीम आसिफाबाद और वेमुलावाड़ा में बीजेपी प्रत्याशियों के समर्थन में की गई रैली में कहा कि भाजपा मुस्लिम आरक्षण को खत्म करने और इस चार फीसदी आरक्षण को एससी/एसटी और ओबीसी वर्गों के कल्याण के लिए देने के लिए प्रतिबद्ध है। तेलंगाना के वेमुलावाड़ा में लोगों ने सकारात्मक बदलाव के वादे को पहचानते हुए बीजेपी को अपना समर्थन देने का वादा किया है।

उन्होंने आगे कहा, “तुष्टिकरण का सबसे गंदा खेल देखना हो तो तेलंगाना में देख सकते हैं। समाज को बाँटने के लिए और अपने स्वार्थ के लिए कोई सरकार किस हद तक गिर सकती है उदाहरण यहाँ पर मुस्लिम आरक्षण के रूप में हैं। इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी तेलंगानावासियों से एक वादा करती है कि भाजपा को जिताइए, मुस्लिम आरक्षण का खात्मा भारतीय जनता पार्टी करेगी।”

बता दें कि तेलंगाना में 119 विधानसभा क्षेत्रों के लिए 30 नवंबर को मतदान होगा और 3 दिसंबर को चुनाव के नतीजों का ऐलान होगा। इस राज्य में सत्तारूढ़ पार्टी बीआरएस, कॉन्ग्रेस और बीजेपी के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है। राज्य के कुल 3.17 करोड़ वोटर्स इन पार्टियों के भाग्य का फैसला करेंगे।

Related Stories

No stories found.
logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com