CHANDAULI: कौन है चंदौली का हिस्‍ट्रीशीटर कन्‍हैया यादव जिसकी बेटी की पुलिस की पिटाई में चली गई जान?

जांच शुरू होते ही मामले में (UP Chandauli Case) कार्रवाई भी तेज हो गई है। परिजनों की शिकायत पर पुलिसकर्मियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं। साथ ही मामले में एक इंस्पेक्टर को सस्पेंड भी कर दिया गया है। पुलिसकर्मियों पर हिस्ट्रीशीटर कन्हैया यादव के घर में घुसकर उसकी बेटियों के साथ मारपीट करने का आरोप है। इधर परिवार से मारपीट और युवती की मौत के आरोप पर पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए सफाई दी है। एसपी अंकुर अग्रवाल और डीएम संजीव सिंह ने बताया कि सैयदराजा थाना क्षेत्र के मनराजपुर में हुई युवती की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत (Chandauli girl post mortem report) के मामले में पीएम रिपोर्ट आ चुकी है। मृतका के गले पर खरोंच और जबड़े में हल्के चोट का निशान पाए गए हैं।
CHANDAULI: कौन है चंदौली का हिस्‍ट्रीशीटर कन्‍हैया यादव जिसकी बेटी की पुलिस की पिटाई में चली गई जान?

चंदौली में हिस्ट्रीशीटर की बेटी की मौत का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। ऐसे में (UP Chandauli Case) यूपी पुलिस एक बार फिर सवालों के घेरे में आ गई है। गैंगस्टर कन्हैया यादव (chandauli gangster kanhaiya yadav) के घर छापेमारी करने गई पुलिस पर अपराधी की बेटियों को पीटने का आरोप लग रहा है। इसमें एक बेटी की (Chandauli girl post mortem report) भी मौत हो गई। वीडियो वायरल होने के बाद मामला सामने आया।

जिसके बाद आरोपित पुलिसकर्मियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं। मामले में सैयदराजा के थाना प्रभारी आरोपी उदय प्रताप सिंह को निलंबित कर दिया गया है।

सैयदराजा थाना क्षेत्र के गांव मनराजपुर निवासी कन्हैया यादव बालू का व्यवसायी बताया जा रहा है। जांच सामने आया है कि कन्हैया यादव खनन माफिया की मिलीभगत से रेत का अवैध धंधा करता था। ऐसे में कन्हैया यादव का लंबा क्राइम रिकॉर्ड रहा है।

परिवार कई लोगों पर आपराधिक गतिविधियों में पहले से दर्ज है मामले

कन्हैया यादव, उसके बेटे विजय यादव, दूसरे बेटे दीपनारायण और दोनों बेटियों गुंजा और निशा यादव उर्फ ​​गुड़िया यादव के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मामले पहले से दर्ज हैं। वहीं कन्हैया यादव और उसके दो बेटों के खिलाफ गुंडा एक्ट सहित कई गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। वहीं बेटे विजय यादव पर 2013 से 2021 तक बिजली चोरी व गुंडा एक्ट समेत आधा दर्जन मामले दर्ज हैं। 2013 में उसके खिलाफ सैयदराजा थाने में अपराध संख्या 44/2013 धारा 504 के तहत मामला दर्ज किया गया था।
2014 में अपराध संख्या 63/2014 के मामले में धारा 10जी के तहत मामला दर्ज किया गया है। वर्ष 2018 में विद्युत अधिनियम के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। 2020 में कन्हैया यादव के खिलाफ भी कई मामले दर्ज किए गए थे। जनवरी 2021 में इसके खिलाफ यूपी गुंडा एक्ट की कार्रवाई भी की गई थी।

मामला बड़ा तो इंस्पेक्टर को सस्पेंड किया

जांच शुरू होते ही मामले में कार्रवाई भी तेज हो गई है। परिजनों की शिकायत पर पुलिसकर्मियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं। साथ ही मामले में एक इंस्पेक्टर को सस्पेंड भी कर दिया गया है। पुलिसकर्मियों पर हिस्ट्रीशीटर कन्हैया यादव के घर में घुसकर उसकी बेटियों के साथ मारपीट करने का आरोप है। परिजनों का आरोप है कि पुलिस की पिटाई से एक बच्ची की मौत हुई। बताया जा रहा है कि पुलिस हिस्ट्रीशीटर कन्हैया यादव को पकड़ने गई थी। इस दौरान घर में घुसकर घरवालों को पीटा गया।

CHANDAULI: कौन है चंदौली का हिस्‍ट्रीशीटर कन्‍हैया यादव जिसकी बेटी की पुलिस की पिटाई में चली गई जान?
जूनियर साइंटिस्ट का 60 लाख वेतन, फिर भी रश्विखोरी ऐसी की नोट गिनते अधिकारियों के हाथ थके, अब तक 7 करोड़ की संपत्ति का खुलासा
इधर परिवार से मारपीट और युवती की मौत के आरोप पर पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए सफाई दी है। एसपी अंकुर अग्रवाल और डीएम संजीव सिंह ने बताया कि सैयदराजा थाना क्षेत्र के मनराजपुर में हुई युवती की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत (Chandauli girl post mortem report) के मामले में पीएम रिपोर्ट आ चुकी है। मृतका के गले पर खरोंच और जबड़े में हल्के चोट का निशान पाए गए है, वहीं मृतका के इंटरनल और एक्सटर्नल पार्ट में किसी तरह की कोई इंजरी का किसी तरह का कोई मार्क नहीं है।
वहां के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने प्रेस वार्ता कर सारी जानकारी दी है। एक पैनल द्वारा मृतक का पोस्टमार्टम किया गया है। उसकी वीडियोग्राफी भी कर ली गई है। पीड़ित परिवार के अनुसार मामला दर्ज कर लिया गया है। साथ ही संबंधित एसएचओ के खिलाफ भी कार्रवाई की गई है। जांच के दौरान मिले सबूतों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
प्रशांत कुमार, एडीजी
मामले की जांच के लिए फोरेंसिक की मदद ली जा रही है। साथ ही घटना का मौके पर रिक्रिएशन करने के बाद विशेषज्ञों की राय ली जाएगी। पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है। इसमें सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो, सर्विलांस समेत अन्य अहम तथ्यों की भी जांच की जाएगी।
एसपी अंकुर अग्रवाल

डिप्टी सीएम ने कहा अखिलेश यादव बौखला गए हैं, लेकिन पुलिस वाला कुछ गलत करेगा तो उस पर भी नियमानुसार कार्रवाई होगी

इधर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने पुलिस की मौजूदगी में घटना को दुखद बताया है। उन्होंने कहा कि आरोपी पुलिस कर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले का जांच की जा रही है। अखिलेश यादव के यूपी की पुलिस पर आरोप लगाए जाने पर पलटवार कर डिप्टी सीएम ने कहा है कि अखिलेश यादव बौखला गए हैं। यदि कोई पुलिस वाला गलती करेगा तो वो भी नियानुसार कार्रवाई का भोगी होगा।

Related Stories

No stories found.