नकली वैक्सीन लाखों लोगों को लगा दी! बड़े गैंग की साजिश का पर्दाफाश, STF की कार्रवई में करोड़ों के टीके और जांच किट बरामद

इसकी आपूर्ति नई दिल्ली निवासी लक्ष्य जावा की एक कंपनी के जरिए यूपी और अन्य राज्यों में होती थी। बताया जा रहा है कि अब तक वैक्सीन के लाखों डोज बिक चुके हैं। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि लोगों को बड़े पैमाने पर नकली कोरोना वैक्सीन दी गई है।
नकली वैक्सीन लाखों लोगों को लगा दी! बड़े गैंग की साजिश का पर्दाफाश, STF की कार्रवई में करोड़ों के टीके और जांच किट बरामद

अब तक वैक्सीन के लाखों डोज बिक चुके हैं। 

वाराणसी में STF ने नकली कोरोना वैक्सीन और कोरोना टेस्ट किट की बिक्री का पर्दाफाश किया है। एसटीएफ ने नकली कोविशील्ड और जेडवाई कोविड को बड़ी तादद में बरामद किया है। बात दें कि देश में पहली बार नकली कोरोना वैक्सीन की इतनी खेप पकड़ी गई है। इस खबर के बाद आमजन में भी ये सवाल उठ रहे हैं कि क्या उन्हें भी कहीं ये नकली वैक्सीन तो नहीं लगा दी गई।

बहरहाल इस घटना को लेकर एसटीएफ के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विनोद सिंह ने बताया कि करीब चार करोड़ रुपये का माल बरामद किया गया है। पांच लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है।

इसकी सप्लाई नई दिल्ली निवासी लक्ष्य जावा की एक कंपनी के जरिए यूपी और अन्य राज्यों में होती थी। बताया जा रहा है कि अब तक वैक्सीन के लाखों डोज बिक चुके हैं। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि लोगों को बड़े पैमाने पर नकली कोरोना वैक्सीन दी गई है।

<div class="paragraphs"><p>सप्लाई नई दिल्ली निवासी लक्ष्य जावा की एक कंपनी के जरिए यूपी और अन्य राज्यों में होती थी। बताया जा रहा है कि अब तक वैक्सीन के लाखों डोज बिक चुके हैं।</p></div>

सप्लाई नई दिल्ली निवासी लक्ष्य जावा की एक कंपनी के जरिए यूपी और अन्य राज्यों में होती थी। बताया जा रहा है कि अब तक वैक्सीन के लाखों डोज बिक चुके हैं।

<div class="paragraphs"><p>अब तक वैक्सीन के लाखों डोज बिक चुके हैं।&nbsp;</p></div>
कोविड के खौफ को दरकिनार कर एक करोड़ से ज्यादा श्रद्धालुओं ने संगम में लगाई डुबकी
इनपुट के आधार पर छापेमारी की
एसटीएफ फील्ड यूनिट वाराणसी द्वारा रोहित नगर, लंका में बड़े पैमाने पर नकली टीके और नकली कोविड टेस्टिंग किट के निर्माण के लिए इनपुट के आधार पर छापेमारी की गई। यहां से सिद्धगिरी बाग के धनश्री परिसर निवासी राकेश थवानी, चौक के पठानी टोला निवासी संदीप शर्मा, नई दिल्ली के मालवीय नगर निवासी लक्ष्य जावा, बलिया के रसदा निवासी शमशेर, बौलिया, लहरतारा निवासी अरुणेश विश्वकर्मा को गिरफ्तार किया गया है।
<div class="paragraphs"><p>नकली जांच किट, नकली कोविशील्ड वैक्सीन, नकली जाइकोव डी वैक्सीन, पैकिंग मशीन, खाली शीशी, स्वाब स्टिक बरामद की गई।</p></div>

नकली जांच किट, नकली कोविशील्ड वैक्सीन, नकली जाइकोव डी वैक्सीन, पैकिंग मशीन, खाली शीशी, स्वाब स्टिक बरामद की गई।

इनके पास से नकली जांच किट, नकली कोविशील्ड वैक्सीन, नकली जाइकोव डी वैक्सीन, पैकिंग मशीन, खाली शीशी, स्वाब स्टिक बरामद की गई है। पूछताछ करने पर राकेश थवानी ने बताया कि वह संदीप शर्मा, अरुणेश विश्वकर्मा और शमशेर के साथ मिलकर नकली वैक्सीन और टेस्टिंग किट बनाता था. नई दिल्ली के लक्ष्य जावा को सप्लाई करता था। वह अपने नेटवर्क के जरिए अलग-अलग राज्यों में सप्लाई करता था।
<div class="paragraphs"><p>अब तक वैक्सीन के लाखों डोज बिक चुके हैं।&nbsp;</p></div>
Crime For Bitcoin : 300 करोड़ के बिटकॉइन के लिए हिस्ट्रीशीटर संग कॉन्स्टेबल ने रची किडनैपिंग की साजिश

Related Stories

No stories found.