Meerut: गैंगरेप, निर्वस्त्र कर दौड़ाया फिर बनाया वीडियो; शाकिर, जावेद और आलम गिरफ्तार

Meerut Love Jihad: मेरठ क्षेत्र में बढ़ रही हिंदू लड़कियों के साथ दुष्कर्म और लव जिहाद की घटनाओं पर विश्व हिंदू परिषद ने चिंता जताते हुए मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर सख्त कार्रवाई की मांग की है।
Meerut: गैंगरेप, निर्वस्त्र कर दौड़ाया फिर बनाया वीडियो; शाकिर, जावेद और आलम गिरफ्तार

Meerut Love Jihad: उत्तर प्रदेश के मेरठ में लगातार लव जिहाद, दुष्कर्म की घटनाएं सामने आ रही हैं। शहर से तीन ऐसे मामले प्रकाश में आएं हैं, जिसे जानकर आपका दिल दहल उठेगा।

पहला मामला किठौर क्षेत्र से है। जहां की रहने वाली एक हिंदू लड़की के साथ चार मुस्लिम युवकों ने सामुहिक दुष्कर्म किया फिर उसे निर्वस्त्र कर दौड़ाया। इस घटना पर लड़की लोक लाज के डर से किसी से कुछ कह नहीं पाई और चुप रही।

इस वारदात के करीब तीन माह बाद घटना का वीडियो उसके भाई को भेजा गया। जिसके बाद लड़की के भाई ने तत्काल पुलिस को तहरीर दी। पुलिस ने लड़की का बयान लिया और आरोपियों की धर पकड़ शुरू कर दी।

हिंदू संगठनों के विरोध के बाद पुलिस ने इस मामले में शाकिर, जावेद और आलम को पकड़ कर कोर्ट में पेश किया और फिर जेल भेज दिया है। एक अन्य आरोपी जिसने वीडियो बनाई उसकी तलाश की जा रही है।

जानें दो और शर्मसार करने वाले मामले

दूसरा मामला दौराला का है, जहां की रहने वाली एक नाबालिग लड़की को एक मुस्लिम युवक बहला फुसला कर भगा ले गया है। इस बारे में पुलिस को सूचना दी गई है।

तीसरा मामला खरोदा का है, जहां की रहने वाली एक हिंदू लड़की का अपहरण किया गया है। वहीं चौथा मामला बिजली बंबा पुलिस थाना क्षेत्र का है, जहां की निवासी एक हिंदू लड़की को एक मुस्लिम लड़का भगा ले गया, मामला लव जिहाद से जुड़ा बताया गया है, पुलिस ने लिसाड़ी गेट से दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के अनुसार लड़की का कन्वर्जन करवा कर उससे निकाह किए जाने के लिए दबाव डाला जा रहा था। लड़की को भी लड़के के मुस्लिम होने की जानकारी इसी घटना क्रम के दौरान हुई थी, पुलिस ने अब्दुल सलाम को अपहरण और धर्मातरण कानून के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

विश्व हिंदू परिषद ने जताई नाराजगी

मेरठ क्षेत्र में बढ़ रही हिंदू लड़कियों के साथ दुष्कर्म की घटनाओं पर विश्व हिंदू परिषद द्वारा चिंता जाहिर की गई है, वीएचपी के वरिष्ठ नेता पुरषोत्तम उपाध्याय के नेतृत्व में एक पत्र मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेजा गया है, पत्र में अपेक्षा जताई गई है, कि वो इन घटनाओं को रोकने के लिए सख्त कार्रवाई करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com