Ram Mandir: 392 खंभे और ' परकोटा' युक्त होगा रामलला का दरबार

राम मंदिर को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। हर कोई जानना चाहता है की हमारे आराध्य को कहा विराजमान किया जाएगा। इसको लेकर महासचिव चंपत राय ने कहा कि मंदिर का निर्माण 70 एकड़ में किया जा रहा है जिसका 70 फीसदी हिस्सा हरित क्षेत्र होगा।
Ram Mandir: 392 खंभे और ' परकोटा' युक्त होगा रामलला का दरबार
Ram Mandir: 392 खंभे और ' परकोटा' युक्त होगा रामलला का दरबार

राम मंदिर को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। हर कोई जानना चाहता है की हमारे आराध्य को कहा विराजमान किया जाएगा। इसको लेकर महासचिव चंपत राय ने कहा कि मंदिर का निर्माण 70 एकड़ में किया जा रहा है जिसका 70 फीसदी हिस्सा हरित क्षेत्र होगा।

राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव के अनुसार यह परिसर अपने तरीके से आत्मनिर्भर होगा, क्योंकि इसमें दो सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट वाटर ट्रीटमेंट प्लांट और पावर हाउस से एक समर्पित लाइन होगी।

राम मंदिर में बुजुर्गों और खासतौर से दिव्यांग आगंतुकों के आवागमन को आसान बनाने की सुविधाएं भी होंगी, जिसमें एंट्री गेट पर लिफ्ट, साथ ही दो रैंप बनाये गए है।

राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने अयोध्या में ट्रस्ट के कार्यालय में एक प्रजेंटेशन में भव्य परिसर की परिदृश्य योजना साझा करते हुए कहा की यह सभी लोगों को ध्यान में रखकर बनाया जा रहा है। मंदिर परिसर में एक फायर ब्रिगेड चौकी भी होगी, जो अंडरग्राउंड रिजर्व वायर से पानी का इस्तेमाल करेगी।

आपको बता दें कि राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी को होने जा रही है। कार्यक्रम में पीएम मोदी समेत तमाम दिग्गज हस्तियां शामिल होंगी।