घर में मसाज पार्लर के नाम पर चल रहा था सैक्स रैकेट, 8 लड़कियां बरामद, 6 गिरफ्तार, यूं पकड़ में आए

ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिए सेक्स रैकेट संचालित किया जा रहा था। इस गैंग के लोगों ने एक एप भी बनाया था। उसी ऐप से बुकिंग करते थे। कारोबार के संचालक अपनी लग्जरी गाडिय़ों में लड़कियों को ग्राहक के पास ले जाते थे।
घर में मसाज पार्लर के नाम पर चल रहा था सैक्स रैकेट, 8 लड़कियां बरामद, 6 गिरफ्तार, यूं पकड़ में आए

क्राइम ब्रांच और गोमीनगर पुलिस ने लखनऊ स्थित गोमतीनगर के वीरामखंड-2 के एक घर में मसाज पार्लर की आड़ में चल रहे सेक्स रैकेट का पर्दाफाश कर छह लोगों को गिरफ्तार किया है। इस दौरान पुलिस ने घर में बंधक बनाकर रखी गई 8 लड़कियों को भी बरामद किया है। ये लड़कियां अलग अलग राज्य की थी। बरामद लड़कियां अलग-अलग राज्यों की हैं। आरोपी सोशल मीडिया के जरिए सेक्स रैकेट चला रहे थे।

नशे की गोलियां देकर कराया जाता था देह व्यापार
लड़की के मुताबिक उसकी तरह देश के अलग-अलग राज्यों की कई लड़कियां भी नौकरी की तलाश में इस गिरोह के जाल में फंस गईं और सभी को बंधक बनाकर गलत काम कराया गया। विरोध करने पर दवा की गोलियां और इंजेक्शन भी दिए गए।
एडीसीपी ईस्टर्न ने बताया कि युवती की शिकायत पर क्राइम ब्रांच व गोमतीनगर पुलिस की टीम ने उक्त घर पर छापा मारा तो वहां 8 लड़कियां मिलीं। इस धंधे से जुड़े छह लोगों अनिल कुमार, उदय पटेल, पीके, छोटू, राजकुमार और ऋतिक को गिरफ्तार किया गया था।
लड़कियों को बंधक बनाकर कराते थे देह व्यापार
एडीसीपी ईस्ट कासिम आब्दी के अनुसार बीबीडी कॉलेज के पास रह रही एक युवती ने शिकायत मिली थी कि कुछ महीने पहले उसे गोमतीनगर विरामखंड-2 स्थित मकान नंबर 2/276 में पीकेजी मसाज पार्लर में काम के लिए बुलाया गया था। नौकरी की तलाश में युवती जब पहुंची तो वहां मौजूद लोगों ने उसे बंधक बना कर रख लिया। लड़की ने बताया कि बंधक बनाने के बाद उसे जबरन देह व्यापार के धंधे में लगा दिया गया। लड़की का आरोप है कि जब उसने विरोध किया तो सेक्स रैकेट मुखिया ने उसके साथ मारपीट करते थे।
सोशल मीडिया के जरिए ऑर्गनाइज होता था रैकेट
एडीसीपी पूर्वी ने बताया कि ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिए सेक्स रैकेट संचालित किया जा रहा था। इस गैंग के लोगों ने एक एप भी बनाया था। उसी ऐप से बुकिंग करते थे। कारोबार के संचालक अपनी लग्जरी गाडिय़ों में लड़कियों को ग्राहक के पास ले जाते थे। साथ ही ग्राहक से कहा जाता था कि लड़की को अकेले वापस न भेजें। गैंग संचालक की कार उन्हें लेने जाती थी। किसी लड़की ने भागने की कोशिश की तो उसे ड्रग्स का इंजेक्शन दिया जाता था।

पीड़िता का आरोप, शिकायत के बाद भी नहीं लिया गया एक्शन

पुलिस में शिकायत करने वाली लड़की का आरोप है कि उसने पहले भी स्थानीय पुलिस चौकी में सेक्स रैकेट की शिकायत की थी, लेकिन वहां कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसके बाद मौका देखकर भाग गई और फिर मामले की शिकायत आला पुलिस अधिकारियों से की। पीड़ित की शिकायत पर आईपीसी की धारा 323, 328, 342, 376 और अनैतिक व्यापार (रोकथाम) अधिनियम 1956 की धारा 3, 4, 5 और 6 के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है।

सभी पीड़ितों को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाएगा। गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। हो सकता है कि इस धंधे से जुड़े और लोगों के भी नाम उजागर हों।

घर में मसाज पार्लर के नाम पर चल रहा था सैक्स रैकेट, 8 लड़कियां बरामद, 6 गिरफ्तार, यूं पकड़ में आए
मैं 24 कैरेट भाजपाई, नहीं बहकूंगा, राहुल को भाजपा MP ने दिया जवाब, बोले: कांग्रेस ने 70 सालों में सिर्फ गरीबी हटाने की नारेबाजी की
Since independence
hindi.sinceindependence.com