4G के बाद क्या रफ़्तार होगी 5G, या है ये मार्केटिंग STRATEGY ?

4G के बाद अब 5G क्या अब होगी इंटरनेट की समस्या दूर या है ये मार्केटिंग STRATEGY

4G के बाद क्या रफ़्तार होगी 5G, या है ये मार्केटिंग STRATEGY ?

5G सेवा 4G इंटरनेट से 10 गुना फ़ास्ट होगी, तो सवाल ये हैं क्या इंटरनेट से जुड़ी समस्याओं का सामना अब नहीं करना पड़ेगा? या फिर ये केवल मार्केटिंग स्ट्रेटेजी है क्यों की जब 4G सेवा शुरू कि गई थी तो भी दावे किए गए लेकिन फिर भी इंटरनेट से जुड़ी समस्या समस्याओं का सामना करना पड़ता हैं

3G इंटरनेट के बाद 4G और अब 5G इंटरनेट की सुविधा आमजन को मिलने जा रही है, मंगलवार को 13 राज्यों में जल्द ही 5G इंटरनेट सेवा शुरू करने की घोषणा की गई, बताया ये जा रहा है कि 5G सेवा 4G इंटरनेट से 10 गुना फ़ास्ट होगी, तो सवाल ये हैं क्या इंटरनेट से जुड़ी समस्याओं का सामना अब नहीं करना पड़ेगा? या फिर ये केवल मार्केटिंग स्ट्रेटेजी है क्यों की जब 4G सेवा शुरू कि गई थी तो भी दावे किए गए लेकिन फिर भी इंटरनेट से जुड़ी समस्या समस्याओं का सामना करना पड़ता हैं।

13 शहरों में 5G इंटरनेट

13 शहरों में देश के चार मेट्रो शहर दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई शामिल हैं, इन 4 महानगरों के अलावा गुरुग्राम, चंडीगढ़, लखनऊ, पुणे, बैंगलोर, जामनगर, अहमदाबाद, गांधीनगर और हैदराबाद भी शामिल हैं।

भारत में इंटरनेट कब शुरू हुआ
15 अगस्त 1995 को देश में पहली बार इंटरनेट का इस्तेमाल किया गया था, आज इंटरनेट हमारी दिनचर्या में शामिल है और वर्तमान में यह भारत में देश में सबसे ज्यादा रोजगार दे रहा है, इंटरनेट हमारे लिए हर तरह से उपयोगी हैं, इंटरनेट के माध्यम से भुगतान किया जा रहा है, ऑनलाइन पढ़ाई की जा रही है, परीक्षा का परिणाम देख रहे हैं, यात्रा टिकट बुक कर रहे हैं, सरकार को अपनी शिकायतें भेज रहे हैं और यहां तक कि आप इंटरनेट पर ही कई महत्वपूर्ण जानकारी के साथ समाचार पढ़ रहे हैं, एक देश से दुसरे देश में बात कर सकते हैं।

5जी इंटरनेट सेवा क्या है?

इंटरनेट नेटवर्क की पांचवीं पीढ़ी को 5G कहा जाता है, यह एक वायरलेस ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवा है जो तरंगों के माध्यम से उच्च गति की इंटरनेट सेवा प्रदान करती है, इसमें तीन मुख्य आवृत्ति बैंड होते हैं।

  • लो फ्रीक्वेंसी बैंड- एरिया कवरेज में बेस्ट, इंटरनेट स्पीड 100 एमबीपीएस, इंटरनेट स्पीड लो

  • मिड फ़्रीक्वेंसी बैंड- इंटरनेट की गति निम्न बैंड से 1.5 जीबीपीएस अधिक, कम आवृत्ति बैंड से कम क्षेत्र कवरेज, सिग्नल के मामले में अच्छा है

  • उच्च आवृत्ति बैंड - इंटरनेट की गति अधिकतम 20 जीबीपीएस, न्यूनतम क्षेत्र कवर, सिग्नल के मामले में भी अच्छा है

5जी इंटरनेट सेवा से फायदे

5जी इंटरनेट सेवा के आने से बहुत से फायदे होंगे, इससे न केवल लोगों का काम आसान होगा बल्कि मनोरंजन और संचार के क्षेत्र में भी काफी बदलाव आएगा, 5G के लिए काम करने वाली कंपनी Ericsson का मानना है कि भारत में 5 साल में 500 मिलियन से अधिक 5G इंटरनेट उपयोगकर्ता होंगे,

आमजन को तेज इंटरनेट मिलेगा, यूट्यूब पर बिना रूकावट के वीडियों देख सकते हैं, सोशल मिडिया पर आसानी से बिना रूकावट के बातचीत हो सकती हैं,

मेट्रो और चालक रहित वाहनों का संचालन आसान होगा, आभासी वास्तविकता और कारखानों में रोबोट का उपयोग करना आसान हो जाएगा, इतना ही नहीं 5जी के आने से इंटरनेट ऑफ थिंग्स के जरिए ज्यादा से ज्यादा कंप्यूटर सिस्टम को कनेक्ट करना आसान हो जाएगा।

<div class="paragraphs"><p>4G के बाद अब 5G क्या अब होगी इंटरनेट की समस्या दूर या है ये मार्केटिंग STRATEGY</p></div>
5जी स्पेक्ट्रम की जल्द नीलामी की योजना बन सकती है जाने क्या है मामला

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com