Amyloidosis: पाक के पूर्व राष्ट्रपति एमाइलॉयडोसिस डिजीज से ग्रसित, आखिर क्या है ये बीमारी

उनके कई ऑर्गन धीरे-धीरे खराब हो रहे हैं, ऐसे में उनका रिकवरी कर पाना काफी मुश्किल है। पाकिस्तान के पूर्व-राष्ट्रपति के बिगड़ती सेहत का कारण क्या है? और एमाइलॉयडोसिस और इसके प्रमुख लक्षण क्या हैं? आइए आपको इसके बारे में बताते हैं।
Amyloidosis: पाक के पूर्व राष्ट्रपति एमाइलॉयडोसिस डिजीज से ग्रसित, आखिर क्या है ये बीमारी
Photo Credit: PTI (File Image)
Amyloidosis: पाक पूर्व राष्ट्रपति राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ (Former President of Pakistan Pervez Musharraf) की हालत नाजुक बनी हुई है। हाल ही में उनके अधिकारिक ट्विटर मे बताया गया है कि अब वे वेंटिलेटर सपोर्ट पर तो नहीं है, लेकिन उनकी रिकवरी भी बेहद मुश्किल बनी हुई है। गौरतलब है कि ट्विटर पर यह जानकारी उनके परिजन की ओर से ट्वीट कर दी गई। ट्वीट में बताया गया है कि पाक के पूर्व राष्ट्रपति एमाइलॉयडोसिस (Amyloidosis) बीमारी से ग्रस्त हैं, जिस कारण वे करीब 3 सप्ताह से अस्पताल में एडमिट हैं।
उनकी हालत काफी गंभीर बताई जा रही है। उनके कई ऑर्गन धीरे-धीरे खराब हो रहे हैं, ऐसे में उनका रिकवरी कर पाना काफी मुश्किल है। पाकिस्तान के पूर्व-राष्ट्रपति के बिगड़ती सेहत का कारण क्या है? और एमाइलॉयडोसिस और इसके प्रमुख लक्षण क्या हैं? आइए आपको इसके बारे में बताते हैं।

एमाइलॉयडोसिस (Amyloidosis) क्या है?

एमाइलॉयडोसिस (Amyloidosis) एक ऐसी (What is Amyloidosis) समस्या है, जिसके कारण मरीज के किडनी, हार्ट, लिवर और शरीर के अन्य अंग में अमाइलॉइड प्रोटीन बनने लगता है। अमाइलॉइड प्रोटीन वैसे तो सामान्य व्यक्तियों की बॉडी में नहीं होता है। लेकिन ये कई अलग-अलग तरह के प्रोटीन से बन सकता है। ऐस में अमाइलॉइड असामान्य प्रोटीन है और यह बोन मेरो में बनता है। ये प्रोटीन किसी भी टिशूज या अंग में जमा हो सकता है।

एमाइलॉयडोसिस के लक्षण क्या हैं? (Amyloidosis symptoms)

शरीर में एमाइलॉयडोसिस के लक्षण इस पर निर्भर करते हैं कि यह व्यक्ति के किन अंगों पर अपना प्रभाव छोड़ चुका है। हालांकि, इसके कुछ लक्षण सामान्य हैं, जो इस प्रकार हैं।

शरीर में स्वेलिंग यानि सूचन आना

थकान और कमजोरी महसूस करना

सांस फूलने के साथ सांस लेने में परेशानी

घुटनों में तीव्र दर्द होना

स्किन कलर में बदलाव आना

दिल की धड़़कन असामान्य होना आदि।

एमाइलॉयडोसिस का इलजा क्या है? (Amyloidosis Treatment)

एमाइलॉयडोसिस (Amyloidosis Treatment) की होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क किया जाना चाहिए। यदि शरीर में इसके लक्षण दिखने लगे तो घर पर उपचार देने के बजाय फौरन डॉक्टर से संपर्क किया जाना चाहिए। इस बीमारी से ग्रसित मरीज के इलाज में कीमोथेरेपी या स्टेम-सेल ट्रांसप्लांट की जरूरत पड़ सकती है। इसलिए शरीर में इसके लक्षण दिखने पर जरा भी लापरवाही नही बरती जानाी चाहिए।
Amyloidosis: पाक के पूर्व राष्ट्रपति एमाइलॉयडोसिस डिजीज से ग्रसित, आखिर क्या है ये बीमारी
UP में रेस्टोरेंट ने मेन्यू में 'इटैलियन राहुल गांधी' नाम से डिश, कांग्रेस नेताओं ने जताई आपत्ति

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com