Khalistan: आतंकी पन्नू द्वारा भारत को दी गयी धमकी "अक्टूबर में वर्ल्ड कप नहीं आतंक कप होगा"

अभी की ताजा खबर के अनुसार निज्जर की हत्या में पाकिस्तान की ISI का हाथ बताया जा रहा है। इंडिया टुडे के जितेंद्र बहादुर सिंह की रिपोर्ट में खुफिया सूत्रों के हवाले से बताया गया कि कनाडा में ISI ने निज्जर की हत्या करवाई।
Khalistan: आतंकी पन्नू द्वारा भारत को दी गयी धमकी "अक्टूबर में वर्ल्ड कप नहीं आतंक कप होगा"
Khalistan: आतंकी पन्नू द्वारा भारत को दी गयी धमकी "अक्टूबर में वर्ल्ड कप नहीं आतंक कप होगा"

Khalistan आतंकवादी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने 5 अक्टूबर को गुजरात के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में होने वाले मैच को लेकर भारत को धमकी दी। पन्नू ने कहा कि 5 अक्टूबर को स्टेडियम में कोई विश्व क्रिकेट कप नहीं होगा, वहाँ विश्व आतंक कप की शुरुआत होगी।

भारत में कई लोगों को UK के एक फोन नंबर +44 7418 343648 से कॉल भी आई जिसमें आतंकी पन्नू का पहले से रिकॉर्ड किया गया ऑडियो संदेश चलाया गया। धमकी भरे संदेश में खालिस्तानी आतंकवादी पन्नू ने कहा, “शहीद निज्जर की हत्या पर, हम आपकी गोली के खिलाफ मतपत्र का उपयोग करने जा रहे हैं। हम सब आपकी हिंसा के ख़िलाफ़ वोट का इस्तेमाल करने जा रहे हैं।

SFI नेता ने कनाडा में भारतीय उच्चायुक्त संजय वर्मा को भी धमकियां दीं। खालिस्तानी आतंकी समूह ने भारत को ओटावा में अपना मिशन बंद करने की ‘सलाह’ दी।

धमकी भरे संदेश में यह भी कहा गया कि “भारत और मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री ट्रूडो का अपमान किया है।

आपको बता दें कि कनाडा में खालिस्तानी आतंकवादी निज्जर की मौत के बाद से खालिस्तानी भारत पर आरोप लगा रहे हैं, इस दावे को अब कनाडाई सरकार का भी समर्थन प्राप्त है। खालिस्तानियों ने कनाडा में ओटावा, टोरंटो और वैंकूवर में भारतीय उच्चायुक्त के प्रमुखों की हत्या के लिए पोस्टर भी लगाए।

आपको बता दें 23 सितंबर को NIA ने चंडीगढ़ सेक्टर 15 C में खालिस्तानी आतंकवादी पन्नू की संपत्तियों को जब्त कर लिया था।

अभी की ताजा खबर के अनुसार निज्जर की हत्या में पाकिस्तान की ISI का हाथ बताया जा रहा है। इंडिया टुडे के जितेंद्र बहादुर सिंह की रिपोर्ट में खुफिया सूत्रों के हवाले से बताया गया कि कनाडा में ISI ने निज्जर की हत्या करवाई।

जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तान की ISI निज्जर पर दबाव बना रही थी कि पिछले 2 सालों में कनाडा में जो भी गैंगस्टर आए हैं, वो उनका पूरा सहयोग करें। खुफिया एजेंसियों के सूत्रों का कहना है कि ISI को जब लगा कि निज्जर बात नहीं मान रहा है, तो उन्होंने यह डबल क्रॉस साजिश रची गई।

रिपोर्ट के मुताबिक निज्जर की हत्या के बाद ISI अब उसके रिप्लेसमेंट की भी तलाश में है। ISI कनाडा में खालिस्तान समर्थकों को जुटाने की कोशिश कर रहा है।

Related Stories

No stories found.
logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com