Monkeypox: 39 देशों में सामने आए 1600 केस, WHO घोषित कर सकता है हेल्थ इमरजेंसी!

Monkeypox: WHO (विश्व स्वास्थ्य संगठन) ने मंकीपोक्स के बढ़ रहे मामलों को लेकर आपातकालीन बैठक बुलाई है। बताया जा रहा है कि WHO आने वाले कुछ दिनों में इसे लेकर हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर सकता है।
Monkeypox: 39 देशों में सामने आए 1600 केस, WHO घोषित कर सकता है हेल्थ इमरजेंसी!
image credit - AP

इन दिनों विश्व में एक नई महामारी Monkeypox फैल रही है। एक ओर कोरोना जहां अभी तक खत्म भी नहीं हुआ है ऐसे में ये नई महामारी आना लोगों की परेशानियों को दुगना करने वाला है। हाल ही में 39 देशों मंकीपोक्स के लगभग 1600 केस सामने आए। मंकीपोक्स के बढ़ रहे केसों ने WHO की चिंता बढ़ा दी है।

Monkeypox को हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर सकता है WHO
विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने अगले सप्ताह गुरुवार को मंकीपॉक्स को लेकर आपातकालीन बैठक बुलाई है। इस बैठक में समिति आकलन करेगी कि क्या मंकीपॉक्स का प्रकोप अंतरराष्ट्रीय चिंता का सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल है। ऐसे में संभावना है कि इस बैठक में Monkeypox को हेल्थ इमरजेंसी घोषित किया जा सकता है।
Monkeypox: 39 देशों में सामने आए 1600 केस, WHO घोषित कर सकता है हेल्थ इमरजेंसी!
Monkeypox: कोरोना के बाद इस बुखार का डर, तेज दर्द के साथ शरीर पर चकत्ते, जानें कैसे करें बचाव

39 देशों में फैल चुका है Monkeypox वायरस

Monkeypox वायरस की बात करें तो यह अब तक स्थानिक और गैर-स्थानिक दोनों देशों में 1600 से ज्यादा लोगों को प्रभावित कर चुका है। यह अमेरिका, कनाडा, मेक्सिको, भारत, आस्ट्रेलिया, यूरोप, यूके और ब्राजील जैसे 39 देशों तक अपने पैर पसार चुका है। इस बीमारी के केस लगातार बढ़ रहे है। ऐसे में यह वैश्विक रुप से चिंता का विषय बना हुआ है।

image credit - AFP VIA GETTY IMAGES

7 देशों में कई वर्षों से मिल रहे कोरोना के केस

WHO के महानिदेशक डॉ टेड्रोस एडनॉम घेब्रेयसस ने बताया कि 39 देशों में 7 ऐसे देश हैं, जहां मंकीपॉक्स के मामले कई वर्षों से सामने आ रहे हैं। जबकि 32 नए प्रभावित देश हैं।

इसके अलावा, इस साल अब तक पहले से प्रभावित देशों से 72 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि नए प्रभावित देशों में अभी तक किसी की मौत नहीं हुई है।

जानें क्या है हेल्थ इमरजेंसी
WHO की तय परिभाषा के अनुसार जब कोई खास इलाका किसी गंभीर स्वास्थ्य खतरों से जूझ रहा होता है तो उस समय शहर, राजधानी, राज्य या देश में हेल्थ इमरजेंसी लागू की जाती है। लेकिन, जब ये समस्या ग्लोबल स्तर पर फैलने का खतरा हो तो WHO उस बीमारी को PHEIC घोषित करता हो उससे अन्य देश बीमारी को लेकर अलर्ट हो जाते हैं।
Monkeypox: 39 देशों में सामने आए 1600 केस, WHO घोषित कर सकता है हेल्थ इमरजेंसी!
Monkey Pox: सरकारी एजेंसियों का अलर्ट जारी, भारत में हो सकती है मंकीपॉक्स की एंट्री?
Since independence
hindi.sinceindependence.com