पूर्व पा​क PM इमरान के बिगड़े बोल: अच्छा होता कि पाकिस्तान पर परमाणु बम गिरा दिया जाता

द न्यूज इंटरनेशनल के अनुसार इमरान खान ने शुक्रवार को अपने बनिगला स्थित आवास पर पत्रकारों से मुखातिब होते हुए यह बात कही और अब उनका यह बयान पाकिस्तानी मीडिया में नया बवाल खड़ा कर रहा है। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के अध्यक्ष इमरान खान ने कहा कि देश को चोरों के हाथ में देने से स्तब्ध हैं। इन लोगों को सत्ता सौंप देने से तो बेहतर होता कि देश पर परमाणु बम गिरा दिया जाता।
पूर्व पा​क PM इमरान के बिगड़े बोल: अच्छा होता कि पाकिस्तान पर परमाणु बम गिरा दिया जाता
imran khanFile Photo

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान का एक हैरान कर देने वाला बयान इन दिनों चर्चा में आ गया है। इमरान खान ने कहा है कि चोरों को सत्ता सौंपने से अच्छा होता कि परमाणु बम गिरा दिया जाता। (Ex Pak PM Imran said that nuking the country would have been better than giving power to thieves) द न्यूज इंटरनेशनल के अनुसार इमरान खान ने शुक्रवार को अपने बनिगला स्थित आवास पर पत्रकारों से मुखातिब होते हुए यह बात कही और अब उनका यह बयान पाकिस्तानी मीडिया में नया बवाल खड़ा कर रहा है। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के अध्यक्ष इमरान खान ने कहा कि देश को चोरों के हाथ में देने से स्तब्ध हैं। इन लोगों को सत्ता सौंप देने से तो बेहतर होता कि देश पर परमाणु बम गिरा दिया जाता।

PM शाहबाज शरीफ बोले लोगों के मन में ​जहर भर रहे इमरान खान

द न्यूज इंटरनेशनल से बातचीत में इमरान खान ने कहा कि सत्ता में आए चोरों ने हर संस्था और न्यायिक व्यवस्था को तबाह कर दिया...., अब पूछिए कि इन अपराधियों के मामलों की जांच कौन सा सरकारी अधिकारी करेगा। वहीं उधर इमरान खान के इस बयान पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ ने कहा है कि इमरान खान अपने भाषणों से सरकारी संस्थानों को निशाना बनाकर पाकिस्तान के लोगों के मन में जहर भर रहे हैं।

इमरान ने मुल्क को दो धड़ों में विभाजित करने का काम किया

नई सरकार के गठन के बाद नेशनल असेंबली के पहले नियमित सत्र के दौरान, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने कहा कि मुल्क को उन्होंने दो धड़ों में विभाजित कर दिया। क्योंकि इमरान खान खुद के पीएम रहते विपक्ष और वर्तमान सरकार को बार-बार चोर और डकैत कहते रहे।
गौरतलब है कि इमरान खान ने शाहबाज शरीफ की सरकार को चेतावनी दी थी कि 20 मई को लंबे मार्च के दौरान उन्हें संघीय राजधानी में प्रवेश करने से कोई ताकत नहीं रोक सकती।

इमरान ने कहा: 20 मई को 20 लाख लोग इस्लामाबाद जुटेंगे

इमरान खान ने पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) के नेतृत्व वाली संघीय सरकार को चेतावनी दी कि असली आजादी हासिल करने और इंर्पोटेड ​हुकूमत के खिलाफ विरोध करने के लिए 20 लाख से अधिक लोग इस्लामाबाद पहुंचेंगे...। इमरान खान ने कहा कि सरकार ने बाधाएं पैदा करने के लिए चाहे जितने भी कंटेनर रखे हों, 20 लाख लोग इस्लामाबाद आएंगे। इमरान ने कहा कि विपक्षी दलों का कहना है कि तापमान ज्यादा होगा तो लोग बाहर नहीं निकलेंगे..., जितने कंटेनर चाहिए, रख लो....., लेकिन 20 लाख लोग इस्लामाबाद आएंगे...। पूर्व प्रधानमंत्री ने अपने समर्थकों से कहा कि मौजूदा सरकार हमारी पार्टी के कार्यकर्ताओं के जोश से घबरा रही है और उन्हें सत्ता से हटाने के लिए 11 पार्टियां जुटी हैं।
खान ने लोगों से संघीय राजधानी (इस्लामाबाद) के लिए ‘‘ऐतिहासिक मार्च''(Historic March) करने के वास्ते तैयार रहने की अपील की है। उन्होंने कहा कि जब लोग सड़कों पर उतरेंगे तो कई विकल्प खुल जाएंगे। पाकिस्तान (Pakistan) के अखबार डॉन ने खान के हवाले से लिखा, सत्ता प्रतिष्ठान से संदेश आ रहे हैं। लेकिन मैं किसी से तब तक बात नहीं करूंगा, जब तक आम चुनावों की घोषणा नहीं हो जाती।
खान ने कहा कि मैंने उनके नंबर ब्लॉक कर दिए हैं। इमरान खान लगातार आरोप लगा रहे हैं कि अमेरिका ने विपक्ष के साथ मिलकर उनकी सरकार को गिराने का षडयंत्र रचा। जियो न्यूज चैनल की खबर के अनुसार, खान ने लोगों से पूछा कि जिन्होंने षडयंत्र का समर्थन किया, क्या वे पाकिस्तान के भविष्य को लेकर गंभीर हैं? उन्होंने कहा कि इन अपराधियों को सत्ता में रहने देने की तुलना में पाकिस्तान पर परमाणु बम गिरा देना कहीं ज्यादा सही होता।

Related Stories

No stories found.