ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, और इलाहाबाद बैंक की चेक बुक 1 अक्टूबर से हो जाएंगी बेकार, परेशानी से बचने के लिए नई के लिए करें अप्लाई

1 अक्टूबर से इलाहाबाद बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (UBI) की पुरानी चेक बुक बेकार हो जाएगी। इसलिए यदि आप चाहते हैं कि आगे कोई समस्या न हो तो जल्द से जल्द बैंक से नई चेक बुक ले लें।
ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, और इलाहाबाद बैंक की चेक बुक 1 अक्टूबर से हो जाएंगी बेकार, परेशानी से बचने के लिए नई के लिए करें अप्लाई

1 अक्टूबर से इलाहाबाद बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (UBI) की पुरानी चेक बुक बेकार हो जाएगी। इसलिए यदि आप चाहते हैं कि आगे कोई समस्या न हो तो जल्द से जल्द बैंक से नई चेक बुक ले लें।

यूबीआई और ओबीसी का पीएनबी में विलय

ओबीसी और यूबीआई का पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में विलय कर दिया गया है। अब ग्राहक से लेकर दोनों बैंकों की शाखा तक सब कुछ पीएनबी का है। पीएनबी ने कहा है कि ओबीसी और यूबीआई की मौजूदा चेक बुक 1 अक्टूबर से बंद हो जाएगी। इसलिए अगर आपके पास इन बैंकों की पुरानी चेक बुक है तो नई चेक बुक के लिए अप्लाई करें, ताकि आगे के ट्रांजेक्शन में आपको कोई परेशानी न हो।

आप टोल फ्री नंबर पर कॉल कर सकते हैं

अगर ग्राहक चाहता है कि चेक से लेन-देन में कोई दिक्कत न हो तो नई चेक बुक लेना जरूरी है. ग्राहक बैंक में जाकर आसानी से नई चेक बुक प्राप्त कर सकते हैं। ग्राहक इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर 18001802222 पर कॉल कर सकते हैं।

इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में विलय

इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में विलय हो गया है। इसे देखते हुए अब ग्राहकों को इंडियन बैंक की नई चेक बुक जारी करवानी होगी। 1 अक्टूबर से इलाहाबाद बैंक की पुरानी चेक बुक मान्य नहीं होगी और इससे कोई लेन-देन नहीं किया जा सकेगा। इलाहाबाद बैंक के ग्राहक नई चेक बुक के लिए बैंक शाखा में जाकर आवेदन कर सकते हैं।

IFSC क्या है?

इंडियन फाइनेंशियल सिस्टम कोड (IFSC) एक 11 अंकों का कोड है। इस कोड में पहले चार अक्षर बैंक के नाम का संकेत देते हैं। IFSC का उपयोग ऑनलाइन भुगतान के दौरान किया जाता है। उस कोड के जरिए बैंक की किसी भी ब्रांच को ट्रैक किया जा सकता है। बैंक की प्रत्येक शाखा का एक अलग IFSC है।

एमआईसीआर (MICR) कोड क्या है?

मैग्नेटिक इंक कैरेक्टर रिकॉग्निशन (MICR) कोड 9 अंकों का कोड होता है। यह इलेक्ट्रॉनिक क्लियरिंग प्रणाली का उपयोग करने वाली बैंक शाखाओं की पहचान करता है। इस कोड में बैंक कोड, खाता विवरण, राशि और चेक नंबर जैसे विवरण होते हैं। यह कोड चेक लीफ के नीचे भाग में स्थित होता है।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com