जयपुर में 11 साल की नाबालिग से रेप,घर पर लहुलूहान हालत में मिली बच्ची

बच्ची रोने लगी तो उसे चुप कराकर घर वापस भेज दिया। इसके साथ किसी को भी इस बारे में नहीं बताने की धमकी दी।
दरअसल पड़ोस में रहने वाले युवक नहीं वारदात को अंजाम दिया और मौके से फरार हो गया। जानकारी के मुताबिक आरोपी युवक भी नाबालिक के पड़ोस में ही रह रहा था।

दरअसल पड़ोस में रहने वाले युवक नहीं वारदात को अंजाम दिया और मौके से फरार हो गया। जानकारी के मुताबिक आरोपी युवक भी नाबालिक के पड़ोस में ही रह रहा था।

राजस्थान में दुष्कर्म की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। जयपुर के विश्वकर्मा थाना इलाके में भी 11 वर्षीय नाबालिक के साथ दुष्कर्म होने का मामला सामने आया है। नाबालिक के परिजनों ने विश्वकर्मा पुलिस थाने में मोहम्मद इरशाद के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। दरअसल पड़ोस में रहने वाले युवक नहीं वारदात को अंजाम दिया और मौके से फरार हो गया। जानकारी के मुताबिक आरोपी युवक भी नाबालिक के पड़ोस में ही रह रहा था।

दोनों परिवार एक-दूसरे को जानते हैं। पिता ने पुलिस को बताया कि हमें इस बात का अंदाजा भी नहीं था कि आरोपी बच्ची पर गंदी नीयत रखता है। तीन चार दिन पहले वह बच्ची को जबरन अपने साथ अपने कमरे में ले गया और उसने बच्ची के साथ अश्लील हरकतें की। बच्ची रोने लगी तो उसे चुप कराकर घर वापस भेज दिया। इसके साथ किसी को भी इस बारे में नहीं बताने की धमकी दी।

तीन टीम आरोपी की तलाश में जगह-जगह दबिश दे रही है।

मंगलवार को फिर से वह बच्ची को अपने साथ ले जाने लगा तो बच्ची ने विरोध किया। इस पर वह जबरन उसका हाथ खींचकर अपने साथ ले गया। इसके बाद मारपीट कर रेप किया। आरोपी मोहम्मद इरशाद खून से सनी हालत में बच्ची को छोड़कर भाग गया। बच्ची रोते हुए जैसे-तैसे अपने घर पहुंची। बच्ची ने घटना के बारे में मां-बाप को दी। इसके बाद परिजन बच्ची को लेकर थाने पहुंचे। वीकेआई थाना पुलिस ने केस दर्ज कर बच्ची का मेडिकल करवाया है। वहीं तीन टीम आरोपी की तलाश में जगह-जगह दबिश दे रही है।

Like Follow us on :- Twitter | Facebook | Instagram | YouTube


<div class="paragraphs"><p>दरअसल पड़ोस में रहने वाले युवक नहीं वारदात को अंजाम दिया और मौके से फरार हो गया। जानकारी के मुताबिक आरोपी युवक भी नाबालिक के पड़ोस में ही रह रहा था।</p></div>
CM Ashok Gehlot : राजस्थान में आर्थिक व्यवस्था को तगड़ा झटका
Since independence
hindi.sinceindependence.com