MP : बाढ़ आई तो रखवाले गौशाला को ताला लगा भाग खड़े हुए, पानी उतरने पर पेड़ों से लटके मिले गायों के शव

MP के राजगढ़ जिले से बड़ी दर्दनाक तस्वीरें सामने आई है जहां बाढ़ आने के बाद गोशाला संचालक ताला लगा भाग गए और तीन दिन उनकी कोई सुध बुध नहीं ली। बाढ़ का पानी उतरने पर 2 दर्जन से अधिक गायों के शव झाड़ियों और पेड़ पर लटके मिले। इससे हड़कंप मच गया। पुलिस ने गौशाला संचालक समेत 3 लोगों पर FIR दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।
MP : बाढ़ आई तो रखवाले गौशाला को ताला लगा भाग खड़े हुए, पानी उतरने पर पेड़ों से लटके मिले गायों के शव

मध्यप्रदेश के राजगढ़ में बड़ी लापरवाही सामने आई है। जिले के निंद्रा खेड़ी गांव में प्रीतम गौशाला की गायें बाढ़ के पानी में बह गई। तीन दिन बाद पानी कम होने पर गोवंश के शव खेत, नदी, झाड़ियों और पेड़ पर लटके मिले। अभी तक 25 गायों के शव मिल चुके हैं, जिनमें 23 गाय व 2 छोटे बछड़े हैं। इसे लेकर हिन्दू संगठन के कार्यकर्ताओं में गुस्सा देखा जा रहा है। शिकायत के बाद तलेन थाना पुलिस ने गौशाला संचालक प्रीतम महाराज सहित कुल तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

जिले के तलेन के समीप निंद्राखेड़ी गांव में प्रीतम राजपूत उर्फ प्रीतम महाराज गौशाला का संचालन करते हैं। इस गौशाला में तकरीबन 100 गायें थी। राजगढ़ में लगातार बारिश होने से उगल नदी में आई बाढ़ के कारण गौशाला के संचालक और कर्मचारी गौशाला में ताला लगाकर चले गए, जिसके कारण गौशाला में बंद गोवंश भाग नहीं पाए और नदी के पानी में बह गए।
प्रीतम महाराज, गौशाला संचालक
प्रीतम महाराज, गौशाला संचालक

गायों का मरना बहुत ही दुखद है। इस घटना की सूचना थाना तलेन के निंद्रा खेड़ी से मिली है कि नदी में जब पानी उफान पर था, तब गोशाला का ताला नहीं खोला गया। जिस कारण 25 गायों की मौत हो गई, जिसमें 23 गाय और 2 बछड़े हैं। उनको विधिवत दफनाया गया है साथ ही आरोपियों के खिलाफ धारा 429, 34 में मामला दर्ज किया गया है।

अवधेश कुमार गोस्वामी,एसपी, राजगढ़

गौशाला का गेट खोल दिया जाता तो बच जाती गायें

भारी बारिश के चलते 22 अगस्त को उगल नदी का पानी गौशाला में भर गया था। वहीं गोशाला कर्मचारी गायों को ताला लगाकर चले गए जिससे गायें डुब कर मर गई। ग्रामीणों का कहना है कि नदी का पानी बढ़ने पर अगर गौशाला कर्मचारियों ने ताला खोलकर गायों को छोड़ दिया होता तो गायों की मौत नहीं होती। ये भी बताया जा रहा है कि गायों की मृत्यु हो जाने के बाद कर्मचारियों ने उन्हें नदी में बहा दिया था। इस मामले का खुलासा 24 अगस्त को हुआ, जब बाढ़ का पानी कम होने लगा।

MP : बाढ़ आई तो रखवाले गौशाला को ताला लगा भाग खड़े हुए, पानी उतरने पर पेड़ों से लटके मिले गायों के शव
Lumpy Virus से रोजाना सैंकड़ों मवेशी तोड़ रहे दम, पशुपालक बेबस, सरकार के प्रयास नाकाफी
MP : बाढ़ आई तो रखवाले गौशाला को ताला लगा भाग खड़े हुए, पानी उतरने पर पेड़ों से लटके मिले गायों के शव
JAIPUR: 19 वर्षीय युवती को जीजा ने किया किडनैप, 10 दिन तक बंधक बनाकर गैंगरेप
MP : बाढ़ आई तो रखवाले गौशाला को ताला लगा भाग खड़े हुए, पानी उतरने पर पेड़ों से लटके मिले गायों के शव
Rape In Jaipur: जयपुर जंक्शन से अपहरण कर थाने से 500 मीटर दूर पटरियों किनारे किया गैंगरेप
Since independence
hindi.sinceindependence.com