Mohanlal Sukhadia Death Anniversary: 17 साल तक प्रदेश के CM रहे सुखाड़िया को क्याें कहा जाता है आधुनिक राजस्थान का निर्माता

राजस्थान के प्रसिद्ध राजनीतिज्ञों में से एक मोहन लाल सुखाड़िया को "आधुनिक राजस्थान का निर्माता" भी कहा जाता है। मोहन लाल सुखाड़िया सबसे लम्बे समय तक राजस्थान के मुख्यमंत्री रहे थे।
Mohanlal Sukhadia Death Anniversary:  17 साल तक प्रदेश के CM रहे सुखाड़िया को क्याें कहा जाता है आधुनिक राजस्थान का निर्माता

मोहन लाल सुखाड़िया

from- www.chaltapurja.com

राजस्थान के प्रसिद्ध राजनीतिज्ञों में से एक मोहन लाल सुखाड़िया को "आधुनिक राजस्थान का निर्माता" भी कहा जाता है। मोहन लाल सुखाड़िया सबसे लम्बे समय तक राजस्थान के मुख्यमंत्री रहे थे।

सुखाड़िया का जन्म 31 जुलाई, 1916 को राजस्थान के झालावाड़ में हुआ था तथा मोहन लाल सुखाड़िया जी का निधन 2 फ़रवरी, 1982 को बीकानेर में हुआ। वे एक जैन परिवार जन्मे, उनके पिता का नाम पुरुषोत्तम लाल सुखाड़िया था। जो कि बम्बई(आधुनिक मुम्बई) और सौराष्ट्र के अच्छे क्रिकेटरों में गिने जाते थे।

राजस्थान के नाथद्वारा और उदयपुर में प्राथमिक शिक्षा पूरी की। पढाई पूरी करने के बाद मोहन लाल सुखाड़िया इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा के लिए मुंबई गए । वहाँ वह छात्र संगठन के महासचिव चुने गए।

कॉलेज में मोहन लाल सुखाड़िया देश के प्रमुख राष्ट्रीय नेताओं जैसे- सुभाष चंद्र बोस, सरदार वल्लभभाई पटेल, यूसुफ़ मेहरली तथा अशोक मेहता के सम्पर्क में आ गए। वहां से ही सुखाड़िया निरंतर कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मीटिंग आदि में उपस्थित रहते थे।

जब मोहन लाल सुखाड़िया वापस नाथद्वारा, राजस्थान आ गए। तब उन्होंने एक छोटी-सी इलेक्ट्रिक दुकान से व्यावसायिक जीवन की शुरूआत की। इस दुकान में ही वे और उनके साथी ब्रिटिश साम्राज्य के कुशासन और सामाजिक-आर्थिक सुधारों के लिए योजनाएँ आदि बनाते थे।

<div class="paragraphs"><p>सुखाड़िया ने इंदुबाला सुखाड़िया के साथ अंतर्जातीय विवाह किया था।</p></div>

सुखाड़िया ने इंदुबाला सुखाड़िया के साथ अंतर्जातीय विवाह किया था।

from- the lallantop

जात-पाँत और छुआछूत जैसी बुराइयों के प्रबल विरोधी मोहन लाल सुखाड़िया सामाजिक प्रगति व परिवर्तन के समर्थक रहे। अपितु समाज व परिवार के घोर विरोध के बावजूद अपने स्वयं के जीवन को जात-पाँत के बंधनों से मुक्त कर आदर्श प्रस्तुत किया। सुखाड़िया ने इंदुबाला सुखाड़िया के साथ अंतर्जातीय विवाह किया था।

ब्यावर के शिक्षित एवं प्रगतिशील समाज के लोगों ने आर्य समाज की वैदिक रीति से यह विवाह 1 जून, 1938 को संपन्न करवाया। परिवार का विरोध काफ़ी दिनों तक रहा, किंतु बाद में उनकी माता ने अपने पुत्र और पुत्रवधू को आशीर्वाद दिया। उनके निधन के पश्चात् हुए लोकसभा चुनाव में श्रीमती इंदुबाला सुखाड़िया उदयपुर लोक सभा से सांसद भी चुनी गईं।

मोहन लाल सुखाड़िया को आधुनिक राजस्थान का निर्माता कहा जाता है। इन्होंने सर्वाधिक समय लगभग 17 वर्ष तक राजस्थान के मुख्यमंत्री पद पर कार्य किया। वे 1954 से 1971 तक राजस्थान के मुख्यमंत्री रहे। बाद में कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के राज्यपाल भी रहे।

Like Follow us on :- Twitter | Facebook | Instagram | YouTube

<div class="paragraphs"><p> मोहन लाल सुखाड़िया </p></div>
UP Election 2022:पत्नी स्वाति सिंह का टिकट कटने और राजेश्वर सिंह को टिक​ट मिलने पर पति दयाशंकर खुश क्यों

Related Stories

No stories found.