Assembly Elections 2022 : ECI की तैयारियां पूरी, 5 राज्यों में चुनावी तारीखों की घोषणा आज, जानिए नए साल में आयोग की क्या हैं तैयारियां ?

पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में आगामी विधानसभा चुनाव के ऐलान की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी हैं। चुनावों का ऐलान आज दोपहर 3:30 हो सकता हैं, क्योंकि आज चुनाव आयोग प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पांचो राज्यों में चुनाव की तारीख तय कर सकता हैं।
Assembly Elections 2022 : ECI की तैयारियां पूरी, 5 राज्यों में चुनावी तारीखों की घोषणा आज, जानिए नए साल में आयोग की क्या हैं तैयारियां ?

Assembly Elections 2022 : ECI की तैयारियां पूरी, 5 राज्यों में चुनावी तारीखों की घोषणा आज, जानिए नए साल में आयोग की क्या हैं तैयारियां ?

File Photo 

पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में आगामी विधानसभा चुनाव के ऐलान की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी हैं। चुनावों का ऐलान आज दोपहर 3:30 हो सकता हैं, क्योंकि आज चुनाव आयोग प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पांचो राज्यों में चुनाव की तारीख तय कर सकता हैं। लेकिन सबकी दिलचस्पी ये जानने हैं कि आखिर कोरोना काल में चुनाव किस तरह करवाए जाएंगे ? खबर है कि, होम मिनिस्ट्री की ओर से शुक्रवार को यूपी में अर्धसैनिक बलों की 225 कंपनियों की तैनाती को मंजूरी दे दी गई है। इन टुकड़ियों की तैनाती 10 से 20 जनवरी के बीच होगी। इससे यह अंदाज़ा लगाया जा रहा है कि चुनाव आयोग की ओर से तैयारियां पूरी कर ली है हैं और अब किसी भी वक्त चुनाव का ऐलान किया जा सकता है। सूत्रों के अनुसार, यूपी में 6 से 7 चरणों में चुनाव कराया जा सकता है। दरअसल, चुनाव आयोग ने पिछले दिनों पांचों राज्यों के डीजीपी और मुख्य सचिवों से मुलाकात कर प्रशासनिक तैयारियों का जायजा भी लिया था।

क्या-क्या पाबंदियां लगा सकता है चुनाव आयोग?

सूत्रों के मुताबिक, चुनाव आयोग ने कोरोना प्रोटोकॉल के तहत मतदान करवाने की सभी तैयारियां कर ली हैं। इसके तहत, चुनाव आयोग ने हेल्थ सेक्रेटरी से वैक्सीनेशन की रिपोर्ट ली है और सभी राज्यों में वैक्सीनेशन का अभियान तेज़ करने की अपील भी की हैं। ताकि चुनाव में कोरोना संक्रमण फैलने का रिस्क कम से कम रहे। इतना ही नहीं, चुनाव आयोग ने प्रचार पर पाबंदियों को लेकर भी कड़े फैसले लेने के लिए कमर कस ली हैं। खैर, चुनाव आयोग की क्या - क्या तैयारियां हैं यह तो उसकी और से तारीखों के ऐलान के बाद ही पता चलेगा। लेकिन खबर हैं कि, कोरोना के चलते चुनाव आयोग रैलियों पर भी पूरी तरह से रोक लगा सकता हैं। प्रचार भी अब ऑनलाइन मोड के द्वारा ही करना होगा। उत्तराखंड सरकार ने 15 जनवरी तक सभी राजनीतिक आयोजनों पर भी रोक लगा दी हैं।

<div class="paragraphs"><p>Assembly Elections 2022</p></div>

Assembly Elections 2022

चुनावी तैयारियों को लेकर चुनाव आयोग सतर्क
उत्तराखंड में तो सभी राजनीतिक आयोजनों पर पाबंदी लगा दी हैं। लेकिन यूपी अथवा पंजाब में अभी तक ऐसा कोई भी फैसला नहीं लिया गया हैं। हालांकि, इन राज्यों में भी गतिविधियां कम जरूर हो गई हैं। दरअसल, गत वर्ष ही कोरोना की दूसरी लहर के दौरान पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार जोरों पर था। एक तरफ जहां देश में पाबंदियों का दौर जारी था तो वही दूसरी और बंगाल में लाखों लोगों की भीड़ के साथ रैलियों और रोड शो के आयोजन हो रहे थे। इसे लेकर चुनाव आयोग पर भी सवाल उठ रहे थे। इसलिए इस बार चुनाव आयोग ने कोई भी कसर न छोड़ने का फैसला लिया हैं।

किसी भी वक्त बज सकता हैं चुनावी बिगुल

चुनाव आयोग ने चुनाव समय पर ही कराए जाएं या फिर टाल दिया जाए, इस पर राय के लिए भी राजनीतिक दलों के साथ मंथन किया था। इस मंथन में सभी राजनीतिक दलों ने राय जताई थी कि चुनाव समय पर ही होने चाहिए। इस फैसले के बाद आयोग ने वैक्सीनेशन से लेकर प्रशासन तक की स्थिति का जायजा लिया और अब किसी भी वक्त चुनावी बिगुल बज सकता है।

Like Follow us on :- Twitter | Facebook | Instagram | YouTube

<div class="paragraphs"><p>Assembly Elections 2022 : ECI की तैयारियां पूरी, 5 राज्यों में चुनावी तारीखों की घोषणा आज, जानिए नए साल में आयोग की क्या हैं तैयारियां ?</p></div>
उत्तरप्रदेश चुनाव 2022 : प्रियंका गाँधी ने चूड़ी बनाने वाली एक दलित महिला को भेजा गिफ्ट

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com