Gujarat Election 2022: अपनों में दरार, बाहर से मार... कांग्रेस नजर आ रही लाचार! जानें कैसे

गुजरात चुनाव में कांग्रेस को कई मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। चुनाव प्रचार में दिग्गजों की दूरी से कांग्रेस का प्रचार जहां फीका है, वहीं उसे पार्टी के भीतर ही कई तरह की परेशानियां झेलनी पड़ रही है। पार्टी को पाला बदलने वाले, बागी और कार्यकर्ताओं के रोष का सामना करना पड़ रहा है। दूसरे दल भी कांग्रेस को चोट पर चोट दे रहे हैं।
Gujarat Election 2022: अपनों में दरार, बाहर से मार... कांग्रेस नजर आ रही लाचार! जानें कैसे

गुजरात के विधानसभा चुनाव में पहले से अंतरकलह से जूझ रही कांग्रेस की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही। चुनाव तिथियों की घोषणा से पहले ही जहां भाजपा पूरे जोर शोर के साथ मैदान में उतरी और पीएम मोदी समेत कई दिग्गज नेता चुनावी रैलियां कर मतदाताओं को रिझाने में जुटे हुए थे, वहीं कांग्रेस इस मामले में पूरी तरह फिसड्‌डी रही। राहुल गांधी भारत जोड़ों यात्रा पर हैं और सोनिया, प्रियंका रैलियों व सभाओं से दूर रहीं, जिससे कांग्रेस चुनाव में खास जोर नहीं लगा पाई।

ऊपर से चुनाव की घोषणा के साथ ही कांग्रेस में दल बदल का दौर चल पाड़ा। कई दिग्गज नेता समेत दर्जनों कार्यकर्ता कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हो गए। कई कार्यकर्ताओं ने आम आदमी पार्टी भी ज्वाइन कर ली। साथ ही उम्मीदवारों की लिस्टें जारी होते ही बागियों ने पार्टी की मुसीबतें बढ़ा दीं। सोमवार को जमालपुर-खड़िया सीट से मौजूदा विधायक इमरान खेड़ावाला को टिकट देने के कांग्रेस नेतृत्व के फैसले से नाराज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अहमदाबाद में कांग्रेस मुख्यालय पर धावा बोल दिया और वरिष्ठ नेता भरत सिंह सोलंकी के पोस्टर जलाए।

इसी प्रकार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मुधूसुदन मिस्त्री की चुनाव घोषणा पत्र जारी करने के दौरान पीएम मोदी को लेकर की गई अमर्यादित टिप्प्णी से कांग्रेस में भीतरखाने असहजता है। उसके अपने ही नेता मिस्त्री के बयान को गलत बता रहे हैं। उधर, कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान नियमों के उल्‍लंघन पर बेंगलुरु हाई कोर्ट ने ट्विटर को कांग्रेस पार्टी और भारत जोड़ी यात्रा के खातों को अस्थायी रूप से ब्लॉक करने का निर्देश दे दिया। यह अलग से मुसीबत का कारण बन गया।

उधर, आम आदमी पार्टी और असदुद्दीन ओवैसी की एआईएमआईएम के चुनाव लड़ने से कांग्रेस का मुस्लिम वोटर बंट रहा है, वहीं ये दोनों दल विशेषकर आप पार्टी इस चुनाव में कांग्रेस को अधिक नुकसान पहुंचा रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस को अंदर और बाहर दोनों की तरफ से मुसीबतें झलनी पड़ रही हैं। इसका खामियाजा चुनाव में पार्टी को भुगतना पड़ेगा यह तय है।

वर्कर्स का पार्टी दफ्तर पर धावा, जमकर हंगामा

गुजरात की जमालपुर-खड़िया सीट से मौजूदा विधायक इमरान खेड़ावाला को टिकट देने के कांग्रेस नेतृत्व के फैसले से नाराज पार्टी कार्यकर्ताओं ने सोमवार को अहमदाबाद में कांग्रेस मुख्यालय पर धावा बोल दिया और वरिष्ठ नेता भरत सिंह सोलंकी के पोस्टर जला दिए। नाराज कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस की गुजरात इकाई के पूर्व प्रमुख सोलंकी की नेमप्लेट को भी क्षतिग्रस्त कर दिया और स्प्रे पेंट से इमारत की दीवारों पर उनके खिलाफ अपमानजनक शब्द लिख दिए।

कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि सोलंकी ने टिकट के बदले खेड़ावाला से पैसे लिए और इस मुस्लिम बहुल सीट से युवा कांग्रेस नेता और पूर्व पार्षद शाहनवाज शेख की दावेदारी को जानबूझकर नजरअंदाज किया। खेड़ावाला की उम्मीदवारी रद्द करने की मांग करते हुए एक पार्टी कार्यकर्ता ने कहा, ''कांग्रेस के स्थानीय कार्यकर्ता और जमालपुर के लोग मौजूदा विधायक खेड़ावाला के खिलाफ थे, लेकिन पार्टी को अपनी खानदानी जागीर की तरह चला रहे कुछ तथाकथित नेताओं ने मनमाना फैसला लेते हुए उन्हें टिकट दे दिया।''

कांग्रेस के ट्विटर हैंडल को ब्लॉक करने का आदेश

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान नियमों के उल्‍लंघन का एक मामला सामने आया है। भारत जोड़ो यात्रा के दौरान एक फिल्‍म का गाना बजाने पर कांग्रेस कॉपीराइट उल्लंघन के मामले में फंस गई है। मामला कोर्ट में पहुंचा, तो बेंगलुरु हाई कोर्ट ने ट्विटर को कांग्रेस पार्टी और भारत जोड़ी यात्रा के खातों को अस्थायी रूप से ब्लॉक करने का निर्देश दिए हैं। हालांकि, कांग्रेस ने कहा है कि उन्‍हें कोर्ट के आदेश अभी तक नहीं मिला है। वहीं, अभी तक माइक्रो ब्‍लॉगिंग साइट ट्विटर ने भी कोई कदम नहीं उठाया है, क्‍योंकि कांग्रेस और भारत जोडो यात्रा का अकाउंट अभी तक बंद नहीं हुआ है।

इधर, मधुसूदन मिस्त्री को कांग्रेसियों ने दिखाया आईना

MLA इमरान खेड़ावाला ने की PM मोदी की तारीफ

गुजरात चुनाव में कांग्रेस ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। अहमदाबाद के जमालपुर से सिटिंग एमएलए ईमरान खेड़ावाला को कल ही कांग्रेस ने फिर से टिकट दिया है। कांग्रेस के मुस्लिम विधायक ने मधुसूदन मिस्त्री को आईना दिखाया है। अहमदाबाद के जमालपुर खाडिया से कांग्रेस के सिटिंग विधायक ईमरान खेड़ावाला ने पीएम मोदी की जमकर तारीफ की है। विधायक ईमरान खेड़ावाला ने पीएम मोदी को "यशस्वी प्रधानमंत्री" बताया है। उन्होंने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा, "वे मेरा गर्व हैं"। "मैं देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ कुछ नहीं बोलूंगा।"

राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी ने बताया गलत

कांग्रेस नेता मधुसूदन मिस्त्री द्वारा पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ की गई आपत्तिजनक टिप्पणी पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी ने असहमति जताई है। प्रमोद तिवारी ने कहा कि राजनीति में सभी को संसदीय भाषा का ही प्रयोग करना चाहिए। नैतिकता और मर्यादा की सीमा किसी को भी नहीं लांघनी चाहिए चाहे वह कांग्रेस पार्टी के लोग हों, बीजेपी के हों या फिर सपा-बसपा। तिवारी ने कहा कि इससे पहले भी इस तरह की जो भी बयानबाजी की गई है मैं उन सभी की आलोचना करता हूं।

Gujarat Election 2022: अपनों में दरार, बाहर से मार... कांग्रेस नजर आ रही लाचार! जानें कैसे
Gujarat Election 2022: विपक्ष को झटके...कांग्रेस कमजोर...आप के वार; ये करेंगे भाजपा की नैया पार
Since independence
hindi.sinceindependence.com