Hijab Controversy: भारत से ईरान तक हिजाब पर हंगामा, जानें किस देश में क्या हैं नियम?

दुनिया के कई देशों में हिजाब को लेकर अलग-अलग नियम हैं इनमें कई देश ऐसे हैं जहां हिजाब पहनने पर जुर्माने तक का प्रावधान है। कई जगह नियम सख्त तो कई जगह लचीले हैं। आओ जानें हिजाब पर भारत से लेकर ईरान तक हंगामा क्यों मचा है?
Hijab Controversy: भारत से ईरान तक हिजाब पर हंगामा, जानें किस देश में क्या हैं नियम?

भारत से लेकर ईरान तक हिजाब को लेकर हंगामा मचा हुआ है। भारत में हिजाब को लेकर हाल ही में कर्नाटक में काफी हंगामा हुआ। इसके बाद यह विवाद अब सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है। वहीं इस्लामिक देश ईरान में पुलिस हिरासत में एक युवती की मौत के बाद महिलाएं हिजाब के विरोध में सड़कों पर उतर आई हैं।

दुनिया के कई देश ऐसे हैं, जहां हिजाब को लेकर अलग-अलग नियम हैं। कुछ देशों में तो हिजाब पहनने पर पूरी तरह से पाबंदी भी लगाई गई हैं। लेकिन इसके बावजूद किसी न किसी देश में हिजाब पर हंगामा देखने को मिल जाता है। हिजाब को लेकर किस देश में क्या नियम है, हम बताते हैं इसके बारे में।

भारत में SC पहुंचा हिजाब विवाद

भारत में हिजाब पहनने पर किसी तरह की कोई पाबंदी नहीं हैं, लेकिन देश में इन दिनों हिजाब पर हंगामा देखने को मिल रहा है। कर्नाटक से शुरू हुआ हिजाब विवाद अब सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है। कुछ छात्राओं ने कर्नाटक सरकार के उस फैसले को चुनौती दी है, जिसमें शिक्षण संस्थानों में हिजाब पहनकर आने पर प्रतिबंध लगाया गया है। सुप्रीम कोर्ट में इसे लेकर अलग-अलग तर्क भी दिए जा रहे हैं।

पाकिस्तान में हिजाब पर प्रतिबंध नहीं

भारत का पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान मुस्लिम बाहुल देश हैं। हालांकि, पाकिस्तान में हिजाब पर कोई पाबंदी नहीं हैं। यहां आमतौर पर मुस्लिम महिलाएं बुर्का पहने हुए दिख जाती हैं।

तुर्की ने हिजाब पर लगा प्रतिबंध हटाया

तुर्की आधिकारिक तौर पर एक सेक्युलर देश है। यहां साल 2013 तक सार्वजनिक इमारतों में हिजाब पहनने पर पाबंदी थी। लेकिन, 2013 में हिजाब पहनने पर लगे प्रतिबंध को वापस ले लिया गया। तुर्की के राष्ट्रपति की पत्नी भी हिजाब पहनती हैं।

सऊदी अरब में महिलाएं पहनती हैं अबाया

सऊदी अरब में मुस्लिम महिलाओं के लिए अबाया पहनना जरूरी होता है। यह एक तरह की ढीली पोशाक है, जो महिलाओं को पूरी तरह से ढक देता है। हालांकि, यहां हिजाब अनिवार्य नहीं है।

ईरान में महिलाओं ने विरोध में काटे बाल

ईरान में इन दिनों हिजाब को लेकर महिलाएं विरोध प्रदर्शन कर रही हैं। कुछ महिलाओं ने तो इसके विरोध में अपने बाल तक काट दिए हैं। ईरानी नागरिक महसा अमिनी की पुलिस कस्टडी में मौत के बाद हिजाब विवाद और तेज हुआ है। बता दें कि ईरान में 9 वर्ष से अधिक उम्र की लड़कियों और महिलाओं के लिए हिजाब पहनना अनिवार्य किया गया है।

फ्रांस, बेल्जियम और रूस में हैं कड़े प्रतिबंध

फ्रांस और बेल्जियम में हिजाब पहनने पर प्रतिबंध हैं। फ्रांस के पूर्व राष्‍ट्रपति निकोला सारकोजी ने हिजाब पर प्रतिबंध लगाया था। फ्रांस में नियम के उल्लंघन पर जुर्माने का भी प्रावधान है। वहीं, बेल्जियम ने जुलाई 2011 में हिजाब पहनने पर प्रतिबंध लगाया था। साथ ही रूस में 2012 में सार्वजनिक स्‍थानों पर हिजाब पहनने पर बैन लगाया था

जर्मनी, इटली और नीदरलैंड्स में हैं ये नियम

जर्मनी, इटली व नीदरलैंड्स में हिजाब पर पूरी तरह से प्रतिबंध हैं। नीदरलैंड्स में इसे लेकर कानून भी बनाया गया है। वहीं, इटली के कुछ शहरों में बुर्का पहनने पर प्रतिबंध हैं, इसके अलावा जर्मनी में हिजाब पर प्रतिबंध तो है, लेकिन इसे लेकर कोई कानून नहीं है।

इन देशों में भी हैं पाबंदियां

आस्ट्रिया, नार्वे और स्‍पेन में भी आंशिक रूप से चेहरा ढकने पर प्रतिबंध लगाया गया है। जबकि, मलेशिया में हिजाब पर निर्णय महिलाओं पर छोड़ा गया है। इसके अलावा इंडोनेशिया में महिलाओं का सिर ढंकना पूरी तरह से वैकल्पिक है। इसके लिए यहां कोई नियम नहीं है। जबकि जॉर्डन में महिलाओं का सिर ढंकने पर कोई पाबंदी नहीं है। वहीं, चीन में भी हिजाब पहनने पर पूरी तरह से पाबंदी है।

Hijab Controversy: भारत से ईरान तक हिजाब पर हंगामा, जानें किस देश में क्या हैं नियम?
विश्व युद्ध के मुहाने पर संसार: अशांति की ज्वाला, खतरे के बादल...भड़के तो भयानक तबाही
Since independence
hindi.sinceindependence.com