Since Independence की पड़ताल: भारत को बदनाम करने की इंटरनेशनल साजिश, पाक ने अपनी विदेशी एम्बेसी का किया इस्तेमाल

5 अगस्त 2019 को देश के प्रधानमंत्री द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटा दिया गया था। जिसके बाद से लगातार पाकिस्तान भारत को बदनाम करने की साजिशें कर रहा है। इस काम के लिए पाक अपने विदेशों में स्थिति राजनयिकों का भी इस्तेमाल किया। इस साजिश की परत दर परत पड़ताल की Since Independence ने।
Since Independence की पड़ताल: भारत को बदनाम करने की इंटरनेशनल साजिश, पाक ने अपनी विदेशी एम्बेसी का किया इस्तेमाल

भारत के खिलाफ झूठ फैलाने के लिए पाकिस्तान लगातार नये-नये हथकंडे अपनाता दिखाई देता है। हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि कल 5 अगस्त को पाकिस्तान ने कश्मीर के मुद्दे पर भारत को बदनाम करने की एक बड़ी साजिश रची है। यह बात खुद पाकिस्तानी एजेंसियां द्वारा कश्मीर के मामले पर ​​अलग-अलग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए किए जा रहे ट्वीट से जाहिर हो रही है। पाकिस्तान के इन तमाम ट्वीटर हैंडल के द्वारा धारा 370 को हटाए जाने का विरोध किया जा रहा हैं। पाकिस्तान के द्वारा की जा रही इस हरकत के पीछे उसका मकसद भारत के खिलाफ साजिश रच कर अंतराष्ट्रीय स्तर पर भारत को बदनाम करना है।

पाकिस्तान की बौखलाहट देख रही दुनिया

5 अगस्त 2019 को देश के प्रधानमंत्री द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटा दिया गया था। जिसके बाद से लगातार पाकिस्तान की बौखलाहट देखने को मिलती रही है। बस इसी का जीता जागता उदाहरण पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर कश्मीर को लेकर पाकिस्तान के द्वारा किया जा रहा दुष्प्रचार हैं। चीन, बेल्जियम, जापान, यूक्रेन, बर्मिंघम, दुबई, ऑस्ट्रिया, इटली, डेनमार्क, जर्मनी, अमेरिका में पाकिस्तान के दूतावास कश्मीर और अनुच्छेद 370 को हटाने को लेकर लगातार झूठे संदेशों को सोशल मीडिया पर ट्वीट कर रहे हैं। सोशल मीडिया के माध्यम से भारत के खिलाफ झूठ फैलाने की बड़ी साजिश की जा रही हैं।

5 अगस्त को कश्मीर में दंगा भड़काने की साजिश

लगातार जिस तरह से पाकिस्तान के विभिन्न ट्वीटर हैंडलों से भारत के खिलाफ झूठ फैलाने की कोशिश की जा रही है उसका उद्देशय कहीं न कहीं 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर में अंशाति फैलाना है। पाकिस्तान की योजना है, कि अनुच्छेद 370 को हटाने की तारीख यानि कि 5 अगस्त को भारत में विरोधी भावनाओं को भड़काया जाएं। यही कारण है कि कई देशों में पाकिस्तानी दूतावास सोशल मीडिया पर लगातार भ्रामक संदेश पोस्ट कर रहे हैं।

पाक के ना-पाक ट्वीट

देखिए किस तरह से भारत के खिलाफ जहर उगल रहे है कुछ ट्वीटर अकाउंट

ट्वीटर पर भारत के खिलाफ हैशटैग चला रहे पाकिस्तानी हैंडल

भारत को बदनाम करने के लिए लगातार ऐसे ट्वीट किए जा रहे है जिससे भारत की छवि को दुनियाभर के सामने बदनाम किया जा सके। ट्वीटर पर लगातार विभिन्न ट्वीटर हैंडलों द्वारा #KashmirLivesMatter #Youm_e_Istehsal_e_Kashmir #KashmirRejectsIndia #kashmiragainstterrorism #kashmirRejectsModi हैशटैग चलाएं जा रहे है।

पेशावर से एक ट्वीटर हैंडल @HamxoKhan3 लिखता है 'Youm-e-Istehsal-e-Kashmir is a day to remind India that it can’t change J&K’s disputed status through Aug 5 like illegal moves'

पाकिस्तान का एक और ट्वीटर हैंडल अल्ताफ हुसैन नाम के व्यक्ति का है जो खुद को मानवाधिकार कार्यकर्ता होने का दावा करता है वो व्यक्ति ट्वीटर पर लिखता है कि '5th August yet another darkest day for people of Indian occupied Kashmir.Disintegration at Gunpoint, to enforce Hindutva agenda. Attach on Kashmiris Identity, culture, religion and very existence'

कमाल की बात ये है कि इस देश की अर्थव्यस्था बुरी तरह से चरमराई हुई है। महंगाई बेतहाशा आसमान छू रही है। लगातार यहां पर राजनीतिक अस्थिरता बनी हुई है। आज तक का इतिहास गवाह है कि इनका कोई प्रधानमंत्री अपना 5 साल का कार्यकाल पूरा नहीं कर पाया। कभी भी इनके यहां सेना तख्तापलट कर देती है। खाने के लिए अनाज तक के लिए ये दुनिया भर में हाथ फैलाता रहता है और इतना सब होने के बावजूद ये अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आता है। हिमाकत देखो कि भारत को जो कि विश्व में एक महाशक्ति के रूप में स्थापित हो गया है। पूरा विश्व भारत की लीडरशिप को आज तवज्जो देता है और ये उस भारत को मानवाधिकार का पाठ पढ़ा रहे हैं। हद है, हिपोक्रेसी की भी हद है।

इस्लामाबाद वाले लड़के को यासिन मलिक की चिंता

जब सिंस इंडिपेंडेस की टीम पाकिस्तान के प्रोपेगेंडा को सर्च कर रही थी, तभी इस्लामाबाद से संचालित होने वाले एक ट्वीटर हैंडल @alee_ayub10 पर हमारी नजर गई। इस हैंडल के द्वारा किए जा रहे ट्वीट में लगातार कश्मीर और भारत को बदनाम करने की कोशिश की जा रही थी। आश्यर्च की बात है कि इस्लामाबाद से चलने वाले इस अकाउंट में यासिन मलिक की भी काफी चिंता की जा रही है यह लिखता है 'Indian govt must refrain from victimizing Kashmir's true representatives including Yasin Malik through illegal detentions. #JusticeForYasinMalik'

कुछ ट्विटर हैंडल भारत के खिलाफ कर रहे काम

जब सिंस इंडिपेंडेस की टीम ने कुछ ट्वीटर हैंडलों की ट्वीट की जांच पड़ताल की तो सामने आया कि इन ट्विटर हैंडल का उद्देश्य भारत को टारगेट करना है। क्योंकि इनके द्वारा ट्विटर पर लगातार गलत संदेश पोस्ट किए जा रहे है।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com