BBC HINDI का PFI प्रेम: भारत सरकार के निर्णय पर उठाए सवाल; यूजर बोले- बीबीसी भी हो बैन

BBC HINDI वैसे तो कई बार देश के बहुसंख्यक समुदाय की नजरों में आता रहता है। लेकिन हाल ही में एक बार फिर से लोग इस संस्थान को इसकी खबरों के लिए टारगेट कर रहे है। देश में PFI पर की गई कार्रवाई को लेकर BBC HINDI की सोशल मीडिया किरकिरी हो रही है।
BBC HINDI का PFI प्रेम: भारत सरकार के निर्णय पर उठाए सवाल; यूजर बोले- बीबीसी भी हो बैन

हाल ही में एक बार फिर से लोग ने BBC HINDI को इसकी खबरों के लिए टारगेट किया है। देश में PFI पर की गई कार्रवाई को लेकर BBC HINDI की सोशल मीडिया किरकिरी हो रही है। ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन हिंदी ने एक खबर में लिखा- केंद्र सरकार ने अपने आदेश में पीएफ़आई पर 'गुप्त एजेंडा चलाकर एक वर्ग विशेष को कट्टर बनाने' और 'आतंकी संगठनों से जुड़े होने' की बात कही है। इसपर आपकी राय क्या है?

सोशल मीडिया पर बीबीसी की खबर पर लोगों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी।
सोशल मीडिया पर बीबीसी की खबर पर लोगों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी।

PFI पर की गई कार्रवाई के बाद BBC HINDI के द्वारा चलाई गई खबर

बीबीसी को लेकर फूटा लोगों का गुस्सा

सरकार के द्वारा PFI पर लिए एक्शन पर BBC HINDI को राय मांगने वाले भारी पड़ गया। उसके बाद सोशल मीडिया पर लोगो ने बीबीसी हिंदी को खुब खरी-खरी सुनाई।

बीबीसी जैसे दोगले चैनलों से राय सुमारी की कोई जरूरत नही- @mahabirsharma11

ट्वीटर यूजर @mahabirsharma11ये बीबीसी वाले पहले अपना घर देखें भारत के लोग अपने हितों से भलीभांति परिचित हैं उनको बीबीसी जैसे दोगले चैनलों से राय सुमारी की कोई जरूरत नही है भारत में जो गलत सन्देश देने की कोशिश करेगा उसे जवाब दिया जायेगा और भारत के लोगों ने इसे पहले भी अंग्रेजो को 1947 से पहले करके दिखाया है।

ट्वीटर पर एक यूजर ने लिखा- PFI को बैन करके पुनः अधर्म को पराजित किया

ट्वीटर पर एक यूजर ने लिखा- अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था, भारत कोई भूमि का टुकड़ा नहीं बल्कि यह जीता-जागता राष्ट्रपुरुष हैँ, यहाँ सदा ही अधर्म की हार हुई हैँ, हर वर्ष विजयदशमी का त्यौहार मनाया जाता हैँ। इस बार कुछ दिन पहले PFI को बैन करके पुनः अधर्म को पराजित किया गया हैँ।

Since independence
hindi.sinceindependence.com