पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के CM का इस्तीफा, इमरान खान सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश, 31 मार्च को होगी वोटिंग

इमरान ने पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदार की जगह परवेज इलाही को कुर्सी देने का फैसला किया ताकि इलाही गुट विपक्ष के साइड में न जाए। हालांकि इलाही के पास सिर्फ 8 सांसद हैं और इमरान अपने दम पर कुर्सी नहीं बचा सकते
पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के CM का इस्तीफा, इमरान खान सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश, 31 मार्च को होगी वोटिंग
पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के CM का इस्तीफा, इमरान खान सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश

पाकिस्तान का राजनीतिक चेहरा तेजी से बदल रहा है। सोमवार को संसद में इमरान खान सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया गया। इस पर बहस होगी और फिर 31 मार्च को मतदान होगा। केंद्र में अपनी सरकार बचाने के लिए इमरान ने देश के सबसे बड़े प्रांत में अपनी पार्टी के सीएम को हटाकर गठबंधन छोड़ने वाले सहयोगी को कुर्सी सौंप दी। दूसरी ओर विपक्षी गठबंधन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक फ्रंट (पीडीएम) ने नई सरकार के लिए प्रधानमंत्री के तौर पर शाहबाज शरीफ का नाम चुना है।

क्या इमरान बचा पाएगें कुर्सी

अब यह लगभग तय है कि इमरान कुर्सी नहीं बचा पाएंगे। इसके लिए दो कारण हैं।

  • पहला- गठबंधन के करीब 39 सांसद और उनकी अपनी पार्टी आधिकारिक तौर पर जा चुकी है।

  • दूसरा- जो अब तक साथ देते आए थे उन्होंने भी अपने पाँव पीछे खींच लिया

परवेज इलाही को कुर्सी देने का फैसला
इमरान ने पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदार की जगह परवेज इलाही को कुर्सी देने का फैसला किया ताकि इलाही गुट विपक्ष के साइड में न जाए। हालांकि इलाही के पास सिर्फ 8 सांसद हैं और इमरान अपने दम पर कुर्सी नहीं बचा सकते। इसका कारण यह है कि विपक्ष का समर्थन करने वाले सांसदों की संख्या 210 के करीब बताई जाती है। बहुमत के लिए केवल 172 सांसदों की जरूरत होती है।

प्रस्ताव के 3 दिन बाद और 7 दिन पहले मतदान होता है

अविश्वास प्रस्ताव से पहले अभिनेता हुमायूं सईद, मुनीब बट, हारून शाहिद, अदनान सिद्दीकी और सबा कमर समेत कई पाकिस्तानी सितारे सोशल मीडिया पर इमरान का समर्थन करते नजर आए। गृह मंत्री शेख रशीद ने कहा था कि सदन में अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने के बाद 4 अप्रैल को मतदान हो सकता है। आपको बता दें कि पाकिस्तान में प्रस्ताव के 3 दिन बाद और 7 दिन पहले मतदान होता है।

शाहज़ैन बुगती ने कैबिनेट से इस्तीफा
अविश्वास प्रस्ताव से एक दिन पहले इमरान सरकार को बड़ा झटका लगा है। बलूचिस्तान की जम्हूरी वतन पार्टी के प्रमुख शाहज़ैन बुगती ने कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया। बुगती थे इमरान के विशेष सहायक, इमरान सरकार में मंत्री असद उमर ने इमरान खान को नए सिरे से चुनाव कराने की सलाह दी है, ताकि विपक्ष को पता चल सके कि कौन किसके साथ है। मंत्री ने कहा कि इमरान उन भ्रष्ट राजनेताओं के खिलाफ युद्ध छेड़ रहे हैं जो पाकिस्तान की राजनीति में अवैध रूप से कमाए गए धन के माध्यम से शामिल थे।

इमरान खान का इमोशनल कार्ड

रविवार को इमरान खान ने इस्लामाबाद में एक रैली के दौरान राजनीतिक ताकत दिखाने की कोशिश की। दावा किया गया था कि रैली में 10 लाख से ज्यादा लोग शामिल होंगे, लेकिन 1 लाख लोग भी इकट्ठा नहीं हो सके। रैली में कई मुद्दों पर चर्चा की गई। इमरान ने इमोशनल कार्ड भी खेला। कहा- जान जाए या हुकूमत। मैं दोषियों को माफ नहीं करूंगा। विपक्ष के तीन चूहे देश को लूट रहे हैं।

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के CM का इस्तीफा, इमरान खान सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश
ICHRRF ने विशेष सुनवाई में कश्मीरी पंडितों की हत्याओं को नरसंहार माना

Related Stories

No stories found.